Wednesday, February 21, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकान्हा गोशाला में भूख से तड़प रहे गोवंश

कान्हा गोशाला में भूख से तड़प रहे गोवंश

- Advertisement -
  • गोशाला के मेन गेट पर गंदगी का अंबार देख नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी को हटवाने के दिये निर्देश

जनवाणी संवाददाता |

परीक्षितगढ़: नगरवासियों ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर गांवड़ा मार्ग स्थित करोड़ों की लागत से बनी कान्हा गोशाला में पशुओं का चारा नहीं मिलने व गंदगी के अंबार लगे होने की शिकायत की थी। जिस पर गुरुवार दोपहर एडीएमई व एसडीएम मवाना ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान पशुओं को चारा नहीं मिलने व मेन गेट के समीप गंदगी का अंबार लगा देख अधिशासी अधिकारी को पशुओं के चारे की व्यवस्था व गंदगी हटाने के निर्देश दिये तथा पशुओं के रखरखाव के बारे में जानकारी ली।

17 21

गोशाला में पशुओं को उच्चतम चारे की व्यवस्था के साथ पशुओं के स्वास्थ्य की जांच की जाती है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से कान्हा गोशाला में पशुओं को चारा नहीं दिया जा रहा था। नगर की सड़कों पर आवारा पशुओं को घुमते हुए देखा जा रहा है, लेकिन नगर पंचायत इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। जिससे गंभीर हादसे होने की संभावना बनी हुई है तथा गोशाला के मेन गेट पर कूडेÞ के ढेर से उठ रही भयंकर बदबू की शिकायत नगर वासियों ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर की थी।

जिस पर एडीएमई अमित कुमार, एसडीएम मवाना अखिलेश यादव ने कान्हा गोशाला का निरीक्षण किया। जहां पशुओं की खोर में चारा नहीं मिलने व मेन गेट के समीप गंदगी का अंबार देख नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी को तत्काल में पशुओं के लिए हारे चारे की व्यवस्था, गर्मी के चलते दो दिन में पशुओं को स्रान करना, सही रखरखाव करने व गंदगी को हटाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान पशु भूख व प्यास से तड़प रहे थे।

18 21

नगर पंचायत द्वारा ओपन जिम का निर्माण कराया था। जिस पर लोग अपने स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए जिम करते थे, लेकिन गंदगी के कारण लोगों ने वहां आना छोड़ दिया है। गोशाला के बराबर में सीएचसी पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में मरीज उपचार कराने आते हैं। जिससे मरीजों व पशुओं में जानलेवा बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। गांवड़ा मार्ग कई गांवों को जोड़ता है। जिससे गुजरने वाले राहगीरों को भी भयंकर दुर्गंध का सामना करने को मजबूर होना पड़ रहा है।

गोकशी के विरोध में हिंदू संगठन के लोगों का हंगामा

सरधना: पुलिस की लाख सख्ती के बाद भी गोकश अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। रात में गोकशों ने ईकड़ी गांव के जंगल में गोकशी की घटना को अंजाम दे डाला। गुरुवार सुबह किसान अपने खेतों में पहुंचे तो दूर तक खून व गोवंश के अवशेष फैले हुए देखे। सूचना मिलते ही पुलिस व हिंदू संगठन के लोग मौके पर पहुंच गए। घटना के विरोध में लोगों ने हंगामा कर दिया। साथ ही अवशेष जंगल में ही दबवा दिए। पुलिस ने अज्ञात में घटना की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

20 23

गुरुवार सुबह ईकड़ी गांव के कुछ किसान अपने खेत में जा रहे थे। इस दौरान उन्होंने भुपेंद्र के खेत में गोवंश के अवशेष पड़े हुए देखे। दूरे तक अवशेष व खून फैला हुआ था। उन्होंने मामले की सूचना गांव में दी। सूचना मिलते ही ग्रामीणों के अलावा हिंदू संगठन के लोग व पुलिस मौके पर पहुंच गई। घटना के विरोध में लोगों ने हंगामा कर दिया।

ग्रामीण मामले में कार्रवाई की मांग कर रहे थे। पुलिस ने उन्हें किसी तरह समझा-बुझाकर शांत किया। शीघ्र आरोपियों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। इसके बाद लोग शांत हुए। इसके बाद पुलिस ने जंगल में गड्ढा खुदवाकर अवशेष वहीं दबवा दिए। साथ ही मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments