Friday, December 9, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसदर में नकली ब्रांडेड शराब तैयार करने वाला गिरोह सक्रिय

सदर में नकली ब्रांडेड शराब तैयार करने वाला गिरोह सक्रिय

- Advertisement -
  • गत दिनों गोदाम में मिले थे ब्रांडेड कंपनी के हजारों ढक्कन, रैपर, शेष आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सदर क्षेत्र थाना क्षेत्र तेली मोहल्ले में नकली ब्रांडेड शराब तैयार करने वाले गिरोह के शराब माफिया को आबकारी विभाग और सदर पुलिस ने एक गोदाम में छापा मारते वक्त गिरफ्तार किया था। मौके से पुलिस को स्कॉच की बोतलों के हजारों ढक्कन व खाली क्वार्टर मिले थे। सदर पुलिस शेष आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर पा रही है।

सदर थाना क्षेत्र में ब्रांडेड नकली शराब तैयार कर उसकी तस्करी करने का एक सिंडिकेट गिरोह क्षेत्र में कई सालों से सक्रिय है। गत दिनों आबकारी टीम और सदर पुलिस ने बं्राडेड शराब कंपनी के मैनेजर संजय की शिकायत पर सदर क्षेत्र सर्कुलर रोड स्थित बांस वाली कोठी के पास एक कबाड़ के गोदाम मे छापा मारा था।

संयुक्त टीम को छापे के दौरान गोदाम से ब्रांडेड शराब की बोतलों के बीस हजार से ज्यादा ढक्कन और खाली क्वार्टर व बोतले बरामद की थी। पुलिस ने मौके से तेली मौहल्ला निवासी कमल राठौर को गिरफ्तार कर लिया था। जबकि उसके साथी विगल, जयचंद, दीपक जाट, दीपक, देवेन्द्र के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज किया था। कमल राठौर का न्यू शिव ट्रेडर्स नाम से कबाड़ का गोदाम है।

कमल राठोर अपने साथियों संग इसी गोदाम में ब्रांडेड नकली शराब तैयार कर उन्हें होटलों व बार में सप्लाई करता था। नकली शराब तैयार करने वाले आरोपी दीपक, जयचंद, दीपक, देवेन्द्र, विगल अभी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। बताया जाता है कि वांछित आरोपी सदर क्षेत्र में खुलेआम घूम रहे हैं। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी में ढीला रवैया अपनाये हुए है।

ब्रांडेड नकली शराब का कारोबार वर्षों से

सदर थाना क्षेत्र में नकली शराब तैयार करने और उसकी सप्लाई करने का एक गिरोह कई सालों से सक्रिय है। कमल राठौर और उसके रिश्तेदार व पूर्व सभासद पति नकली शराब के धंधे में लिप्त हैं।

सदर से ब्रांडेड नकली शराब की सप्लाई

नकली शराब का धंधा करने वाले ये लोग ब्रांडेड शराब की खाली बोतलों और पव्वों को कम दाम पर खरीद कर एकत्र कर लेते हैं। उसके बाद उसमें नकली शराब भरकर नये ढक्कन लगाकर उस पर कंपनी के रैपर लगाकर उसे असली के रुप में तैयार कर उन्हें पेटियों में रखकर सप्लाई करते हैं। एक बं्राडेड शराब की बोतलों की कीमत एक हजार रुपये से लेकर पांच हजार रुपये तक होती है।

इस तरह से एक पेटी शराब की कीमत हजारों रुपये में तैयार कर इन्हें बार होटलों और दुकानों पर सप्लाई कर दी जाती है। ब्रांडेड कंपनियों के रैपर मार्का स्टीकर, व ढक्कन और खाली बोतलों को एकत्र कर ये नकली शराब का कारोबार गुपचुप रुप से सदर क्षेत्र में संचालित है। रोडवेज भैंसाली के सामने एक दुकान पर भी इस नकली शराब की बिक्र ी खूब की जाती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments