Wednesday, January 26, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliकाला कृषि कानून वापस होने तक पीछे नहीं हटेंगे किसान: टिकैत

काला कृषि कानून वापस होने तक पीछे नहीं हटेंगे किसान: टिकैत

- Advertisement -
  • भाकियू अध्यक्ष बोले, किसान भी शामिल हों गणतंत्र दिवस परेड में

जनवाणी ब्यूरो |

झिंझाना: भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि जब सरकार काला कृषि कानून वापस नहीं लेती, तब तक किसान पीछे हटने वाला नहीं है। उन्होंने किसानों को गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में किसानों को शामिल होने तथा उनके ट्रैक्टरों को परेड में शामिल किए जाने की मांग की है।

गुरुवार को क्षेत्र के गांव मछरोली में खाप के थांबेदार चौधरी धारा सिंह की रस्म तेरहवीं में पहुंचें भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ. नरेश टिकेत ने थांबेदार चौधरी धारासिंह के बड़े पुत्र रणसिंह को थांबेदार की जिम्मेदारी सौंपते हुए पगड़ी बांधी। इ

स दौरान चौ. नरेश टिकैत ने बताया कि चौधरी धारा सिंह, चौधरी महैन्द्र सिंह टिकैत के साथ जुड़ हुए थे। धारा सिंह ने थांबेदार की भूमिका बहुत ही कर्मठ एवं ईमानदारी से निभा रहे थे। पांच दिन पूर्व चौधरी धारासिंह का 95 वर्ष की उम्र निधन हो गया था जिनकी रस्म तेरहवीं में शामिल होकर थांबेदार की जिम्मेदारी उनके बड़े बेटे को पगग़ी बांधकर सौंपी गई है।

रस्म तेरहवी से लौटतै समय भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत क्षेत्र के गांव सींगरा में रह रहे सिसौली निवासी अपने ही परिवार के अमित बालियान के घर पहुंचें। उन्होंने परिवार की कुशलक्षेम जाना। उसके बाद पत्रकारों से बातचीत में चौ. नरेश टिकैत ने दिल्ली में किसान आंदोलन पर बोलते हुए कहा कि सरकार अपनी हठधर्मिता दिखा रही है।

एक ओर किसान सड़कों पर बैठें हैं, तो दूसरी ओर सरकार कृषि कानून को वापस नहीं ले रही लेकिन किसान भी अपनी बात को लेकर अड़ा है। उन्होंने कहा कि जब तक काला कानून वापिस नही होगा, किसान पीछे नहीं हटने वाले। भाकियू अध्यक्ष चौ. नरेश टिकैत ने कहा कि सरकार से हमारी मांग है कि 26 जनवरी गणतंत्र दिवस की परेड पर किसानों को भी शामिल होने मौका दिया जाए।

साथ ही, उनकी हकीकत को जानकर उनके ट्रैक्टर भी परेड़ में शामिल किये जाने चाहिए। गणतंत्र दिवस देश का पर्व है, इसे हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। सरकार भी अगर कुछ कदम पीछे हटे तो किसान भी कुछ बीच का रास्ता निकालें। इससे पूर्व भाकियू अध्यक्ष के आने की सूचना पर पुलिस की बेचैनी बढ़ी रही। इस दौरान पुलिस फोर्स अलर्ट रही। चौ. नरेश टिकैत के जाने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।

इस मौके पर हरेन्द्र बालियान, ओमपाल सिंह, विनोद निर्वाल, रेशपाल बालियान, इनाम, दरयांव सिंह आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments