Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutखराब मौसम की भेंट चढ़ा पहला दिन

खराब मौसम की भेंट चढ़ा पहला दिन

- Advertisement -
  • भामाशाह मैदान में रणजी ट्राफी के लिए यूपी और बिहार के बीच खेला जाना है चार दिवसीय मैच

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: रणजी ट्रॉफी के लिए उत्तर प्रदेश और बिहार की टीमों के बीच भामाशाह क्रिकेट मैदान में शुक्रवार से होने वाले चार दिवसीय मैच का पहला दिन खराब मौसम की भेंट चढ़ गया मैच के पहले दिन एक भी बोल नहीं डाली जा सकी अंपायरों ने दिन में कई बार ग्राउंड और पिच का जायजा लिया, लेकिन कोहरे और कड़ाके की ठंड के बीच शाम तक मौसम मैच करने के अनुकूल नजर नहीं आया।

शुक्रवार सुबह रणजी ट्रॉफी मैच के लिए टीम यूपी और टीम बिहार पूरी तरह तैयार होकर भामाशाह क्रिकेट मैदान में पहुंचीं, लेकिन मौसम ने अपनी बेरुखी दिखाई। जिसके चलते निर्धारित समय पर मैच शुरू नहीं हो पाया इस समय तक स्थिति यह रही की पूरा आसमान घने कोहरे से ढका हुआ नजर आ रहा था। मैच रेफरी श्रीकुमार नायर अंपायर अनिल चौधरी और अक्षय कुमार ने ग्राउंड का निरीक्षण किया उन्होंने पाया किया मौसम किसी भी प्रकार मैच करने की अनुमति नहीं दे रहा है।

01 23

इसके बाद रेफरी और अंपायर ने बार-बार ग्राउंड और पिच का निरीक्षण किया मौसम की स्थिति को भांपने का प्रयास किया। दोपहर 1:00 तक मैच शुरू होने के कोई असर नहीं बन पाए। सर्दी और घने कोहरे के बीच पर्याप्त रोशनी का भी अभाव साफ-साफ नजर आया। शाम 4:00 बजे तक आयोजक मंडल में अंपायर के माध्यम से मैच शुरू करने की संभावनाओं पर बार-बार विचार किया इसके बाद पहले दिन का मैच रद्द करने का निर्णय लिया गया मौसम ने अगर साथ दिया तो शनिवार को मैच शुरू कराया जाएगा।

इस दौरान बड़ी संख्या में दर्शक भी भामाशाह क्रिकेट मैदान में मौजूद रहे। जिनमें बच्चों की काफी संख्या नजर आई। जो रिंकू सिंह और समीर रिजवी की बैटिंग का आनंद लेने का इंतजार करते रहे, लेकिन मौसम ने उनके इंतजार को कम से कम एक दिन के लिए और बढ़ा दिया है। शनिवार को कोर चाटने और धूप खिलने की स्थिति में यूपी और बिहार के बीच रणजी मैच का मुकाबला शुरू होने की उम्मीद बन सकती है। इस मैच को लेकर अब सब कुछ मौसम के साफ होने पर ही निर्भर कर रहा है।

05 22

दिनभर फुटबॉल खेलते रहे क्रिकेटर

अब मौसम खुले, अब मैच शुरू हो, दिन भर इसी उम्मीद में टीम यूपी और बिहार के खिलाड़ी फुटबॉल खेलकर वॉर्मअप करते रहे। मैदान के बीच दोनों टीमों के क्रिकेटर अलग अलग स्थानों पर फुटबॉल से खेलते रहे। दरअसल वॉर्मअप के लिए फुटबॉल से खेलते रहने का प्रमुख कारण शरीर का निरन्तर सक्रिय रहना माना जाता है। इस खेल के जरिये वॉर्मअप करने से चोट लगने का खतरा भी न के बराबर रहता है।

रिंकू भैया के नारों से गूंजता रहा स्टेडियम

उत्तर प्रदेश और बिहार के बीच रणजी मैच शुरू होने की उम्मीद लेकर पहुंचे दर्शकों में अनुभवी और उम्र दराज क्रिकेट प्रेमियों के साथ सबसे ज्यादा संख्या बालकों और किशोर क्रिकेटरों की रही है। जिनके बीच सबसे ज्यादा क्रेज रिंकू सिंह का देखने को मिला है। उन्होंने रिंकू से मिलकर उनके साथ फोटो खिंचवाने उनके आॅटोग्राफ लेने का भरसक प्रयास किया। आयोजन समिति से जुड़े लोगों की सिफारिश का भी प्रयास किया गया।

अलग-अलग जगह खड़े क्रिकेटर और क्रिकेट प्रेमी हमारा क्रिकेटर कैसा हो, रिंकू भैया जैसा हो। रिंकू भैया-रिंकू भैया और रिंकू भैया जिंदाबाद जैसे नारे बराबर लगाते रहे। इन क्रिकेट प्रेमियों को देखकर कई बार रिंकू सिंह ने हाथ हिलाकर उनका अभिवादन भी किया। एक बार तो वह फोटो खिंचवाने के लिए अपने चाहते दर्शकों के बीच भी पहुंचे, लेकिन वहां बहुत ज्यादा भीड़ उमड़ जाने के कारण रिंकू सिंह फिर से मैदान के बीच पहुंचकर अभ्यास करने में व्यस्त हो गए।

02 22

रिंकू सिंह के क्रेज का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है, कि शाम को 4:00 बजे जब वे होटल लौटने के लिए गाड़ी में बैठने लगे, तो स्टेडियम के प्रवेश द्वार पर ही उन्हें दर्शकों ने घेर लिया। ऐसे में अपने कदम वापस स्टेडियम की ओर खींचते हुए रिंकू सिंह पुलिस की निगरानी में दोबारा बाहर निकले और जैसे तैसे करके अपनी गाड़ी में बैठ सके।

रिंकू सिंह बनना चाहते हैं नन्हे क्रिकेटर

आज के दौर में रिंकू सिंह क्रिकेट में रुचि रखने वाले नन्हे मुन्ने के लिए एक आइकन बन चुके हैं। नन्हे मुन्ने क्रिकेटर उनसे इतना प्रभावित हैं कि आने वाले समय में उन्हीं के स्टाइल को अपनाकर क्रिकेट खेलने को प्राथमिकता देना चाहते हैं। शुक्रवार को जिस समय रिंकू सिंह भामाशाह क्रिकेट मैदान पर फुटबॉल के साथ वॉर्मअप कर रहे थे, मैदान में चारों तरफ मौजूद बालक और टीनएजर क्रिकेटर उनकी एक झलक पाने के लिए उत्सुक दिखाई दे रहे थे।

बार-बार रिंकू भैया-रिंकू भैया का शोर मचा रहे थे। इन्हीं क्रिकेटरों में शामिल शिवम, वंश, मोहम्मद फिरोज, रोहन आदि से जब यह पूछा गया कि इस समय उनका प्रिया क्रिकेटर कौन है तो सब की जबान से सबसे पहला नाम रिंकू सिंह का ही निकला। रिंकू सिंह के साथ-साथ उन्होंने नितीश राणा का नाम भी लिया। वहीं मेरठ के समीर रिजवी के बारे में भी जानकारी होने का सबूत दिया।

इसके अलावा भुवनेश्वर, कार्तिक त्यागी, सुमन गिल, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी आदि क्रिकेटरों के बारे में भी चर्चा की। कल के इन भावी क्रिकेट सितारों का एक ही सपना है कि वे रिंकू सिंह जैसे क्रिकेटर बनें और आक्रामक बल्लेबाजी के हुनर को अपनी क्रिकेट शैली में अपनाएं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments