Tuesday, May 28, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurकूट रचना कर जमीन बेचने के चार और आरोपी गिरफ्तार

कूट रचना कर जमीन बेचने के चार और आरोपी गिरफ्तार

- Advertisement -
  • पूर्व एमएलसी महमदू अली और हाजी इकबाल का बेटा भी आरोपी 

वरिष्ठ संवाददाता  |

सहारनपुर:  जनपद की तहसील बेहट के अली अकबरपुर व शेरपुर पेलो गांव में सार्वजनिक उपयोग के लिए आवंटित पट्टों की जमीन गलत तरीके से बेचने के चार और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके पहले दो आरोपी जो कि राजस्व निरीक्षक हैं, वह दबोचे जा चुके हैं। उल्लेखनीय है कि उक्त जमीन अब्दुल वहीद एजुकेशन एंड चैरिटेबल ट्रस्ट को बेचे जाने के मामले में एसआईटी की जांच के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी की जा रही है। पूर्व एमएलसी महमूद अली और खनन माफिया हाजी इकबाल का बेटा भी आरोपी है।

WhatsApp Image 2022 04 10 at 4.32.39 PM

बता दें कि तहसील बेहट क्षेत्र में आवंटित पट्टों की जमीन की श्रेणी बदलवाकर अब्दुल वहीद एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के नाम की गई थी। अब तक इस मामले में 6 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुके है। इससे पहले पुलिस ने शनिवार को इस मामले में दो राजस्व निरीक्षकों की गिरफ्तारी की थी। शनिवार को इस मामले में एसआईटी ने जमीन की श्रेणी बदलने में कूट रचना करने के आरोपी राजस्व निरीक्षक जनेश्वर प्रसाद व बीरबल को गिरफ्तार किया था।

WhatsApp Image 2022 04 10 at 4.32.40 PM

रविवार को जमीन बेचने के आरोपी सुरेंद्र पुत्र रघुवीर, संजय पुत्र अमर सिंह, अब्दुल रहमान पुत्र रशीद व अखलाक पुत्र अब्दुल रहमान सभी निवासी गांव शेरपुर पेलो थाना मिजार्पुर को भी एसआईटी ने गिरफ्तार किया है। इस बाबत एसएसपी आकाश तोमर का कहना है कि अभी तक इस मामले में छह आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है, जबकि दो आरोपियों की मृत्यु हो चुकी है। अभी अब्दुल वहीद एंड चैरिटेबल ट्रस्ट से जुड़े हाजी इकबाल के भाई और पूर्व एमएलसी महमूद अली और उनके भतीजे मोहम्मद जावेद के अलावा कुछ और लोग वांछित है।

जल्द ही साक्ष्यों के आधार पर उनकी भी गिरफ्तारी की जाएगी। बता दें कि बेहट तहसील के रजिस्ट्रार कानूनगो जनेश्वर प्रसाद और हलका कानूनगोबीरबल को सेवानिवृत्त किया जा चुका है। फिलहाल, इनकी गिरफ्तारी कर ली गई है। यह भी बता दें कि इस मामले में बसपा के पूर्व एमएलसी महमूद अली, पूर्व एमएलसी हाजी मोहम्मद इकबाल का बेटा मोहम्मद जावेद और तत्कालीन एसडीएम शीतल प्रसाद गुप्ता समेत 12 लोग आरोपी हैं। उल्लेखनीय है कि 27 जुलाई 2021 को असलमपुर बरथा के रणबीर सिंह ने जिलाधिकारी से शिकायत की थी, कि बेहट तहसील के तीन गांवों की सार्वजनिक उपयोग की करीब 745.525 बीघा भूमि पर अवैध कब्जा किया गया है।

इसमें गांव शेरपुर पेलो की 27.207 हेक्टेयर, रोशनपुर पेलो की 9.246 हेक्टेयर व अली अकबरपुर की 13.242 हेक्टेयर यानि कुल 49.695 हेक्टेयर (745.425 बीघा) भूमि शामिल है। एसडीएम बेहट को इसकी जांच सौंपी गई थी। जांच में स्पष्ट हुआ था, कि जिन 115 पट्टाधारकों को यह भूमि उपयोग के लिए आवंटित की गई थी, उन्होंने यह जमीन बेच दी है, जबकि उन्हें इसे बेचने का अधिकार नहीं था। फिलहाल, गिरफ्तारी को लेकर सहारनपुर में सनसनी फैली है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments