Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutएनएच-58 पर टोल टैक्स या फिर गुंडा टैक्स ?

एनएच-58 पर टोल टैक्स या फिर गुंडा टैक्स ?

- Advertisement -
  • कायदे कानून ताक पर रख कर वसूल करते हैं टैक्स

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: एनएच-58 स्थित सिवाया टोल प्लाजा पर टोल टैक्स वसूला जा रहा है या फिर गुंडा टैक्स वसूला जा रहा है। यहां कैश की मात्र एक लाइन चालू की गई है। जबकि अन्य लाइन फास्टैग की चल रही है। यहां अगर कोई भूलवश यात्री कैश लाइन का फास्टैग लाइन से निकल रहा है तो उससे जबरन अभद्रता करते हुए कर्मचारी दोगुना शुल्क वसूल रहे हैं।

हालांकि इस प्लाजा पर नियम कायदे कानून ताक पर रखकर कार्य किया जा रहा है। देशभर में प्रत्येक टोल पर जाम न लगे। इसके लिए इमरजेंसी लेन होती है, लेकिन ये देश का ऐसा पहला टोल है। जहां इमरजेंसी लेन ही नहीं है, क्योंकि इमरजेंसी में लोगों को भी यहां जाम से गुजरना पड़ता है।

एंबुलेंस के लिए प्रत्येक टोल पर लाइन होती है, लेकिन इस टोल पर एंबुलेंस को भी आम यात्रियों वाली लाइन से ही होकर जाना पड़ेगा।

ड्यूटी यात्रियों की सुविधा के लिए कर रहे बदसलूकी

कर्मचारी शुल्क तो वसूलते ही है साथ में अभद्रता भी कर रहे हैं। अगर टोल पर देखा जाए तो कर्मचारी यहां सिर्फ यात्रियों को असुविधा न हो। इसके लिए प्रत्येक लाइन पर इन कर्मचारियों की ड्यूटी लगा रखी है, लेकिन ये कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी निभाने के साथ उल्टा यात्रियों के साथ बदसलूकी करने पर उतर जाते हैं। ऐसे में टोल से गुजरने वाले यात्रियों में भय का माहौल देखने को मिल रहा है।

शोपीस बनकर रह गए शौचालय

परतापुर से लेकर रामपुर तिराहे तक 78 किमी की दूरी टोल प्लाजा की है। यहां स्ट्रीट लाइटें, शौचालय आदि सुविधा देने का प्रबंध है, लेकिन यहां सुविधा सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। रात में स्ट्रीट लाइटें खराब है। शौचालय सुचारु नहीं है। टोल प्लाजा के दोनों और यात्रियों की सुविधा के लिए बनाए गए शौचालय सिर्फ शोपीस बनकर रहे गए हैं।

टोल प्लाजा पर यात्रियों के साथ बदसलूकी करने का किसी भी कर्मचारी को अधिकार नही है। टोल प्लाजा के अधिकारियों से पूरे प्रकरण में बातचीत की जाएगी और ऐसे कर्मचारियों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी। यात्रियों को बेहतर सुविधा दिलाने का हाइवे पर प्रयास कराया जाएगा।              -डीके चतुर्वेदी, परियोजना निदेशक एनएचएआई

टोल प्लाजा पर कर्मचारियों द्वारा यात्रियों के साथ अभद्रता करने का मामला उनके संज्ञान में नही आया है। अगर ऐसा कोई मामला है तो वह उसकी जांच कराएगें और सख्त कार्रवाई कराएगें। हाइवे पर यात्रियों को हर संभव सुविधा प्रदान करना उनका पहला उदेश्य है।                                      -वैभव शर्मा, जीएम क्यूब हाइवे कंपनी

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments