Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliसरकारें समझौते को अमलीजामा पहनाने को करें कार्य: राकेश टिकैत

सरकारें समझौते को अमलीजामा पहनाने को करें कार्य: राकेश टिकैत

- Advertisement -
  • बोले, भाजपा नेता गांव में भले ही आए लेकिन वोट नहीं मिलेगी

जनवाणी संवाददाता |

शामली: भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौ. राकेश टिकैत शनिवार को शामली पहुंचें। यहां नगर पालिका सभागार में भाकियू नेता ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि किसान आंदोलन मदद करने वाले सफाईकर्मी, मीडिया कर्मी, किसान और नौजवानों का धन्यवाद करने आए हैं। उन्होंने कहा कि उप्र में सबसे अधिक बिजली के रेट हैं। गन्ने की बेल्ट होने के बाद भी गन्ने का भुगतान नहीं हो रहा है। गन्ना भुगतान पर तो साफ कहा कि इसको लेकर सरकार आंदोलन कराएगी।

क्योंकि गन्ना भुगतान पर एक तरह से सरकारों की भूमिका चीनी मिल मालिकों के गारंटर की है। ऋण आदि न चुकाने पर पुलिस आखिर में गारंटरों की ढूंढती है। सरकार की भी जिम्मेदारी बनती है कि चीनी मिलों पर दबाव बनाकर 14 दिन के अंदर किसान का गन्ना भुगतान दिलाए। उन्होंने कहा कि एमएसपी पर फसलों की खरीद नहीं होती, जो बड़ा सवाल है। इन सब सवालों पर सरकारों से बातचीत करेंगे।

साथ ही, भारत सरकार से किसानों का जो समझौता हुआ है, उन भी राज्य सरकारें कार्य करें। राकेश टिकैत ने एक बार फिर से साफ कर दिया कि वे चुनाव नहीं लड़ेंगे। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री आशीष मिश्रा टेनी की गिरफ्तारी न होने और मीडिया से बदतमीजी के के सवाल पर भाकियू नेता ने कहा कि वह किसी दूसरी ही पाठशाला में पढ़ा हुआ है।

जब तक गृह राज्यमंत्री इस्तीफा नहीं देते तब तक इसी तरह से बदतमीजी करते रहेंगे। और हर आदमी ये सवाल करता रहेगा। इस दौरान भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन, जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान, अनिल मलिक, संजीव राठी, गुड्डू बनत आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments