Thursday, December 9, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutओलों भरी बारिश ने शहर का मिजाज बदला शाम से बारिश ने...

ओलों भरी बारिश ने शहर का मिजाज बदला शाम से बारिश ने जहां ठंड का अहसास कराया वहीं जलभराव भी हुआ 

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: करवाचौथ के दिन अममून कभी बारिश नहीं होती, लेकिन रविवार की शाम को मूसलाधार बारिश और ओलों की बौछार ने मौसम को सर्द कर दिया। तेज बारिश के कारण घरों से बाहर होटल और रेस्टोरेंट में डिनर का प्लान बनाये लोगों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। बारिश के कारण जगह-जगह जलभराव हो गया। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

शाम पांच बजे से शुरू हुई बारिश देर रात तक चलती रही। आधा घंटे तक ओलो ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया। उन लोगों को ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ा जो दो पहिया वाहनों पर चल रहे थे। मूसलाधार बारिश के कारण तापमान एकबारगी गिर गया।

ब्रह्मपुरी, खत्ता रोड, लिसाड़ीगेट के निचले इलाके, बागपत रोड, शारदा रोड, पुलिस आफिस और कई सरकारी आफिसों में बारिश का पानी भर गया। अक्टूबर माह में इस बार जमकर बारिश हुई है। माना जा रहा है कि आज की बारिश सर्दी का पूरी तरह से अहसास करा देगी। शाम साढ़े छह बजे के करीब शुरू हुए ओलों के बाद बारिश ने एकबारगी तेजी दिखाई और कई सड़कें जलमग्न हो गई।

मौसम ने एक बार फिर ली करवट

 जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: मौसम में एक बार फिर से करवट ली। अक्टूबर माह में तीसरी बार मौसम में अचानक बदलाव हुआ। सुबह के समय जहां खिली धूप निकली, वहीं शाम को बारिश अचानक हो गई। जिसके चलते ठंड का एहसास हो गया। दिन और रात के मौसम में गिरावट आई है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि फिलहाल एक-दो दिन मौसम में बदलाव रहेगा। जिसके चलते लोगों को ठंड का एहसास होगा।

राजकीय मौसम वैधशाला पर रविवार को दिन का अधिकतम तापमान 29.4 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 17.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 83 एवं न्यूनतम आर्द्रता 55 प्रतिशत दर्ज की गई है। मौसम वैज्ञानिक डा. एन सुभाष का कहना है कि फिलहाल मौसम में बदलाव रहेगा। जिसके चलते ठंड का एहसास बढ़ेगा।

प्रदूषण में आएगी कमी

लगातार मेरठ का प्रदूषण बढ़ रहा है। रविवार शाम झमाझम बारिश से प्रदूषण के स्तर में भी गिरावट आएगी, क्योंकि महानगर के प्रदूषण के स्तर में लगातार जहर बन रहा था। जिसके चलते लोगों को सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी। अब बारिश के होने से काफी हद तक प्रदूषण के स्तर को रुकावट हुई।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments