Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh Newsहिन्दी विश्व की सबसे वैज्ञानिक भाषा: डॉ शालिनी

हिन्दी विश्व की सबसे वैज्ञानिक भाषा: डॉ शालिनी

- Advertisement -
  • भारतीय उच्चायोग दुबई के सभागार में धूमधाम से मनाया गया दसवां अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी अधिवेशन

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: हिन्दी भाषा को रोजगार से जोड़ना आज की सबसे बड़ी चुनौती है। हिन्दी को संपूर्ण विश्व की भाषा बनाई जाए, इसके पठन-पाठन की व्यवस्था व्यापक पैमाने पर पर की जाए ताकि युवाओं को रोजगार प्राप्त करने में भाषा बाधक न बने। एक भाषा के रूप में ही हिन्दी की पहचान नहीं है बल्कि हमारे जीवन मूल्यों, संस्कृति एवं संस्कारों की सच्ची वाहिका भी है। यह विश्व की सबसे वैज्ञानिक भाषा है इसलिए इस भाषा को वैश्विक स्तर पर मजबूत करने की आवश्यकता है। उक्त उद्गार खुनखुन जी गर्ल्स पीजी कॉलेज की असिस्टेंट प्रोफेसर डाँ शालिनी शुक्ला ने दुबई में आयोजित दसवें अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी अधिवेशन में व्यक्त की।

24 10
गौरतलब है कि भाषा सहोदरी हिन्दी (न्यास) एवं भारतीय उच्चायोग दुबई (यूएई) के संयुक्त तत्वाधान में दसवां अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी अधिवेशन भारतीय उच्चायोग दुबई के सभागार में धूमधाम से मनाया गया। जिसमें देश विदेश के भारतीय प्रवासी एवम भारत के 26 राज्यों से 150 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस समारोह के मुख्य अतिथि दुबई के भारतीय काउंसलेट के कंसिलेट जनरल सतीश कुमार सिवन, विशिष्ट अतिथि हर एक्सीलेंसी मैडम लैला रेहाल गुडविल एम्बेसडर, सुश्री तारु मामू उप काउंसलेट दुबई, संस्था के संस्थापक जयकांत मिश्र एवं मुख्य प्रबंधक मीना चौधरी की देखरेख में संपन्न हुआ। कार्यक्रम की सूत्रधार रही दुबई की साहित्यकार स्नेहा देव एवं भारत की डॉक्टर शालिनी शुक्ला और कार्यक्रम के अंत में डॉक्टर कुमकुम कपूर ने धन्यवाद ज्ञापन दिया।

कार्यक्रम की शुरुआत भारत के राष्ट्रगान के साथ हुई। दीप प्रज्जवलन के पश्चात दुबई की ज्योति कला द्वारा सुमधुर सरस्वती वंदना, मीनू बाला मल्होत्रा द्वारा भारत के विभिन्न राज्यों का नृत्य प्रस्तुत किया गया। दुबई की छात्राओं ने भी भरतनाट्यम नृत्य से समा बांध दिया था। कार्यक्रम के तीन सत्र में सभी प्रतिभागियों ने हिन्दी व्याख्यान पर अपने प्रपत्र पेश किए और काव्य पाठ भी हुआ। भारतीय दूतावास के कंसिलेट जनरल ने सभी प्रतिनिधियों को प्रमाण पत्र दिया और दिल से आभार व्यक्त करते हुए सभी प्रतिनिधियों का स्वागत किया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments