Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगिरफ्तारी से बचने को घंटों ड्रामा

गिरफ्तारी से बचने को घंटों ड्रामा

- Advertisement -
  • बदमाश ने पुलिस अफसरों के सामने तमंचा निकाल की फायरिंग, दी आत्महत्या की धमकी
  • खुद को गोली से उड़ाने की धमकी देता रहा, पुलिस अफसरों की फू लती रही सांसे

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: देहली गेट पुलिस शनिवार दोपहर हत्या के प्रयास के आरोपी बदमाश को पकड़ने उसके घर पहुंची तो वह पुलिस को चकमा देकर वहां से भाग निकला। पुलिस ने एक किलोमीटर दूर कोतवाली तक बदमाश का पीछा किया। बदमाश ने खुद को पुलिस से घिरता देख हवाई फायरिंग कर दी। उसने बाद में पुलिस के सामने कनपटी पर तमंचा तान खुद को गोली से उड़ाने की धमकी दे दी।

जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। मुठभेड़ की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी व एसपी क्राइम सहित तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। करीब दो घंटे तक पुलिस बदमाश की मानमनोव्वल कर उसे दबोचने में जुटी रही। पुलिस के सामने बदमाश का हथियार तानकर धमकी देने वाला लाइव मुठभेड़ का वीडियो वायरल हो गया।

देहली गेट थाना पुलिस 307 के मुकदमे में वांटेड सरायलाल दास निवासी राशिद की गिरफ्तारी को शनिवार दोपहर 12 बजे करीब उसके घर पर पहुंची तो वह पुलिस को चकमा देकर भाग निकला। जाटव चौकी इंचार्ज जितेन्द्र कुमार सैनी और उनके साथ 6 पुलिसकर्मी राशिद का पीछा करते हुए कोतवाली क्षेत्र बनिया पाड़ा तक पहुंच गये। इस बीच राशिद ने पुलिस से खुद को घिरता देखा तो हाथों से दो तमंचे निकाल हवाई फायरिंग कर दी।

आरोपी पुलिस को सामने आते देख बोला कि अगर एक कदम आगे बढ़ाया तो अपने गोली मार लूँगा। यह कहते हुए उसने अपनी कनपटी पर तमंचा तान दिया। यह देख पुलिस टीम घबरा गई। पुलिस के सामने खुद को गोली से उड़ाने की धमकी की सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस और लिसाड़ी गेट पुलिस व देहली गेट पुलिस मौके पर पहुंच गई। गली में राशिद एक मकान के चबूतरे पर खड़ा तमंचा हाथ में लिये पुलिस को आत्महत्या की धमकी देता रहा।

14 23

उधर पुलिस के भी कुछ समझ में नहीं आया कि वह क्या करे। इस दौरान बदमाश के हाथ में तमंचा और पुलिस को सामने खड़ा देख मौके पर सैंकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई। मौके पर एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह और एसपी क्राइम अनित कुमार व आईपीएस सीओ ब्रहमपुरी भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस अधिकारी और थाना प्रभारी आरोपी राशिद को समझाते रहे और खुद को पुलिस के हवाले करने के लिए खुशामद करते दिखाई दिये। लेकिन वह अपनी जिद पर अड़ा खुद को गोली मारने की धमकी देता रहा।

करीब दो घंटे दोपहर 12 बजे से लेकर दो बजे तक यह हाईवोल्टेज ड्रामा चलता रहा। लेकिन अंत में वैली बाजार चौकी इंचार्ज निखिलेश ने मौका पाकर बदमाश को धक्का देकर नीचे गिरा दिया। पुलिसकर्मियों ने बदमाश राशिद को वहीं दबोच उसके हाथ में लिया तमंचा छीन लिया। पुलिस आरोपी को पकड़कर देहली गेट थाने ले गई। राशिद के खिलाफ कोतवाली थाने में धारा 307, 309, 25 आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है।

तीन दिन पहले राशिद ने होटल में युवकों पर तान दिया था तमंचा

देहली गेट क्षेत्र सरायलाल दास निवासी राशिद ने 24 जनवरी को एक होटल में सराय लाल दास निवासी मनीष पुत्र संदीप कुमार व उसके साथियों पर तमंचा तान दिया था। आपस में छींटाकशी मजाक को लेकर उनमे विवाद हो गया था। उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी। जिस पर मनीष ने देहली गेट थाने में राशिद के खिलाफ तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था।

पुलिस ने 323, 907, 504, 506 धारा में राशिद, दानिश व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। जाटव चौकी इंचार्ज जितेन्द्र कुमार सैनी शनिवार को सरायलाल दास में राशिद की गिरफ्तार करने उसके घर पर पहुंची थी। राशिद पर चोरी हत्या, मारपीट जैसी धारा के सात मुकदमे दर्ज हैं। वह गैंगस्टर का आरोपी भी है।

पहले बंटी को बुलाओ तब सरेंडर क रुंगा

पुलिस के सामने अपनी कनपटी पर तमंचा ताने खुद को गोली से उड़ाने की धमकी के दौरान राशिद एसपी सिटी और पुलिस के सामने चिल्लाता रहा कि पहले बंटी सिपाही को बुलाओ, वह फिर सरेन्डर कर देगा। इतना सुनते ही पुलिस अफसरों ने देहली गेट के बंटी सिपाही को बुलाया। बंटी जैसे ही राशिद के सामने उससे बात करने पहुंचा

तो उसने उस पर तमंचा तानते हुए धमकी दे दी कि वह बंटी को गोली मार देगा। इतना कहते ही उसकी गिरेबान पकड़ लिया। लेकिन थोड़े देर बाद ही राशिद को पुलिसकर्मियों ने दबोच लिया। राशिद ने आरोप लगाया कि उसने देहली गेट के एसओजी सिपाही बंटी को एक लाख रुपया मुकदमा दर्ज न करने का दिया था। लेकिन उसके बाद भी पुलिस उसे पकड़ने पहुंच गई।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments