Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकैसे होगा सड़क का चौड़ीकरण? नहीं हटा अतिक्रमण

कैसे होगा सड़क का चौड़ीकरण? नहीं हटा अतिक्रमण

- Advertisement -
  • आवास विकास स्कीम 11 को जाने वाले मार्ग का होना था चौड़ीकरण
  • बीच मार्ग में आ रही चाणक्यपुरी कालोनी, नहीं निकला कोई हल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: पिछले कई माह से आवास विकास परिषद जागृति विहार एक्सटेंशन स्कीम 11 में जाने वाले मार्ग के चौड़ीकरण की बात करता आ रहा है, लेकिन अधिकारियों की ओर से अभी तक यहां सरकारी जमीन से कब्जा तक नहीं हटाया गया है। यहां सड़क की जमीन पर अभी तक लोग कब्जा जमाये हैं और अपनी दुकानें चला रहे हैं। इसके अलावा कालोनी को लेकर भी कोई हल नहीं निकल पाया है। चाणक्यपुरी कालोनी का मुख्य द्वारा ही सड़क चौड़ीकरण में बाधा बना हुआ है, लेकिन अधिकारी यहां सर्वे की बात कर रहे हैं, पर उसका हल तक नहीं निकाल पाये हैं। जिससे सड़क का चौड़ा होना मुश्किल है।

आवास विकास परिषद को जागृति विहार एक्सटेंशन स्कीम 11 का निर्माण शुरू किये 12 साल हो चुके हैं, लेकिन यहां 12 सालों में भी आवास विकास कुटी चौराहे से लेकर योजना की ओर जाने वाले मार्ग को चौड़ा नहीं कर पाया है। यहां अधिकारी लाख दावे करें कि यहां सर्वे हो चुका है। सड़क की नपाई हो चुकी है, लेकिन हालात जमीन पर यह हैं कि यहां से अभी तक सरकारी जमीन से कब्जा तक नहीं हट पाया है।

08 22

कुटी चौराहे से योजना की ओर जाने वाले मात्र एक ही मार्ग है। यह मार्ग गुरु हरीकिशन पब्लिक स्कूल तक है। उसके बाद यह मार्ग डिवाइडर रोड में बदल जाता है, जो मात्र छोटा-सा टुकड़ा है। उसके बाद यह सिंगल रोड है जो योजना के लिये जा रहा है। बरसों से यही मार्ग बना है। अभी तक योजना शुरू होने के बाद अधिकारी यहां मार्ग का निर्माण नहीं कर पाये हैं।

सड़क की जमीन पर है अवैध कब्जा

आसपास के लोगों ने सड़क की जमीन पर ही कब्जा जमाया हुआ है। कहीं पर गोबर के उपले रखकर गोबर डालकर कब्जा किया हुआ है तो कहीं पर लोगों ने यहां दुकानें लगा रखी है। यहां सब्जी वालों और फल वालों ने अपनी दुकानें लगा रखी है। काफी संख्या में पास के ही शेरगढ़ी के लोगों ने गोबर डालकर यहां जमीन पर कब्जा कर रखा है।

यहां वह अपनी भैंसे तक बांधते हैं, लेकिन अभी तक आवास विकास इस जमीन को अपने कब्जे में नहीं ले पाया है। पिछले कई सालों से यहां सिंगल रोड है। जो योजना के लिये जा रही है। इसका चौड़ीकरण नहीं किया गया है। अगर यही हाल रहा तो अभी आने वाले कई सालों तक भी यहां सड़क चौड़ी होना मुश्किल है।

चाणक्यपुरी कालोनी का द्वार बना बाधा

योजना को जाने वाले मार्ग के बीच में ही चाणक्यपुरी कालोनी का मुख्य द्वारा आ रहा है। जोकि काफी भव्य तरीके से बनाया गया है। अभी तक आवास विकास के अधिकारियों की ओर से यहां कालोनी के बिल्डर से कोई बात नहीं की गई है। यहां अगर रोड का चौड़ीकरण किया जाना है तो आवास विकास को कालोनी का मुख्य द्वार तोड़ना होगा और यहां से रास्ता निकालकर चौड़ा करना होगा। उधर, कुछ मार्ग शेरगढ़ी की जमीन पर भी आना है, लेकिन अभी तक इसे लेकर कोई योजना बनती नजर नहीं आ रही है। जिस कारण लोग परेशान हैं।

सांसद का आवास भी इसी कालोनी में

चाणक्यपुरी कालोनी सड़का चौड़ीकरण में सबसे बड़ी बाधा बनी है। यहां इसी कालोनी में सबसे पहले मकान की बात करें तो सांसद राजेन्द्र अग्रवाल का है। ऐसे में अधिकारियों के सामने संकट खड़ा है कि वह कालोनी में तोड़फोड़ कैसे करें। अगर उन्होंने यहां कोई भी प्रयास किया तो उन्हें राजनीतिक हस्तक्षेप करने वालों का सामना करना पड़ेगा। उधर, अगर अधिकारियों की ओर से यहां कब्जा नहीं हटाया गया और सड़क चौड़ी नहीं की गई तो यहां आवास विकास को करोड़ों रुपये का नुकसान उठाना पड़ेगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
4
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments