Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआजादी के अमृत काल में क्रांतिकारियों की अनदेखी

आजादी के अमृत काल में क्रांतिकारियों की अनदेखी

- Advertisement -
  • सूचना के बाद भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे आला अफसर
  • भामौरी में शहीद दिवस पर कार्यक्रम आयोजित

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: एक ओर पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। वहीं, दूसरी ओर प्रशासन देश की आजादी में अपने प्राणों की आहुति देने वाले महान क्रांतिकारियों की अनदेखी कर रहा है। सरधना के भामौरी गांव में शहीद दिवस पर हुए कार्यक्रम में सूचना के बाद भी कोई अधिकारी नहीं पहुंचा।

किसी ने शहीदों को नमन करना जरूरी नहीं समझा। जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। हालांकि ग्रामीणों ने अपने स्तर से शहीद स्मारक पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें आसपास क्षेत्र के बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और शहीदों को नमन किया।

18 अगस्त सरधना के भामौरी गांव का वह काला दिन था, जिस दिन अंग्रेजों ने गांव पर चढ़ाई कर दी थी। इतिहास के पन्नों पर यह घटना मिनी जलियावाला बाग कांड के नाम से दर्ज है। पंचायत में शामिल क्रांतिकारियों पर अंग्रेजों ने सीधे गोली चला दी थी। जिसमें कई क्रांतिकारी शहीद हो गए थे। शहीदों की याद में गांव में विशाल शहीद स्मारक व शहीद सरोवर बना हुआ है। इसके अलावा घटनास्थल को भी संजोकर रखा गया है।

हर साल 18 अगस्त को गांव में शहीद दिवस मनाया जाता है। जिसमें शहीदों को याद किया जाता है। इस बार भी शुक्रवार को शहीद दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसकी जानकारी डीएम से लेकर एसडीएम समेत तमाम अधिकारियों को दी गई थी। ताकि अधिकारी समय पर पहुंच सकें। पूरे देश में आज आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। मगर प्रशासन शहीद क्रांतिकारियों की अनदेखी कर रहा है।

02 21

शुक्रवार को हुए कार्यक्रम में कोई अधिकारी शामिल नहीं हुआ। दिनभर ग्रामीण अधिकारियों की इंतजार करते रहे, लेकिन किसी ने जाना जरूरी नहीं समझा। महज इंस्पेक्टर क्राइम बृजकिशोर ही कार्यक्रम में पहुंचे। अधिकारियों की अनदेखी के कारण ग्रामीणों में काफी रोष है। ग्राम प्रधान दिनेश सोम का कहना है कि उन्होंने स्वंय ही अधिकारियों को कार्यक्रम की जानकारी दी थी। मगर अफसोस की बात है कि कोई नहीं आया।

वहीं शहीद दिवस पर सुबह के समय स्कूली बच्चों ने प्रभात फेरी निकाली। इसके बाद मोटो की चौपाल पर हवन कराया गया। जिसमें आसपास के बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। तत्पश्चात शहीद स्मारक पर कार्यक्रम हुआ। जहां सभी ने शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित करते हुए वीर क्रांतिकारियों को नमन किया।

इस अवसर पर पूर्व विधायक संगीत सोम, भाजपा जिलाध्यक्ष विमल शर्मा, ब्रह्मवीर टेहरकी, वाईपी सिंह, ग्राम प्रधान दिनेश सोम, दौराला मिल के जॉन इंचार्ज जेपी तोमर, नीटू प्रधान, मोंटी प्रधान, सीताराम प्रधानाचार्य, जयकुमार प्रधानाचार्य, राहुल, आनंद प्रधान, नंदू, निशांत, संजीव हीरो, प्रमोद, विनोद आदि मौजूद रहे।

दौराला मिल ने लगाया चिकित्सा कैंप

शहीद दिवस के अवसर पर दौराला शुगर मिल द्वारा कार्यक्रम के दौरान चिकित्सा कैंप लगाया गया। जिसमें मिल की ओर से आई टीम ने करीब 300 ग्रामीणों की जांच की। साथ ही जांच के आधार पर उन्हें निशुल्क दवाई का वितरण भी किया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments