Friday, May 31, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsउर्जा एवम् नगर विकास में आए निवेश को धरातल पर उतारने के...

उर्जा एवम् नगर विकास में आए निवेश को धरातल पर उतारने के लिए क्रियान्वयन शुरू

- Advertisement -
  • निवेश प्रस्ताव को शीघ्र अमल में लाने के लिए विस्तृत व प्रभावी व्यवस्था बनाने के निर्देश
  • मंत्री के निर्देश पर दोनो विभागों में हुई नोडल अधिकारियों की नियुक्ति
  • निवेशकों के साथ पर्सनल और वर्चुअल मीटिंग कर व्यक्तिगत सम्पर्क स्थापित किया जाय
  • इनफॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम( MIS) बनाकर हर प्रोजेक्ट के प्रगति की समीक्षा की जाय
  • प्रोजेक्टों के क्रियान्वयन / कॉमिशनिंग से संबंधित माइलस्टोन समय से निर्धारित किया जाय

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा जी ने उ0प्र0 ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 में आए कुल 33.50 लाख करोड़ रूपये के निवेश का एक तिहाई से अधिक का निवेश आकर्षित करने वाले ऊर्जा, नवीन उर्जा एवम् नगर विकास की समीक्षा की।

इस दौरान उन्होंने दोनो विभाग में आए निवेश को धरातल पर उतारने के लिए अधिकारियों को प्रभावी कार्यवाही करने को कहा। दोनों विभागों के उच्च अधिकारियों के साथ कल शाम बैठक कर निवेश प्रस्ताव को शीघ्र अमल में लाने के लिए विस्तृत व प्रभावी व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए।

नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ने कहा कि 02 दिन पहले ही निवेशकों, उद्योगपतियों से लगातार संपर्क बनाए रखने के लिए दोनों विभागों में नोडल अधिकारी बनाने के निर्देश दिए थे। इस पर अधिकारियों ने बताया कि उनके निर्देशानुसार निवेश प्रस्तावों के क्रियान्वयन की दिशा में नोडल अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गई है।

मंत्री शर्मा ने निर्देशित किया है कि प्रो-ऐक्टिव होकर निवेश प्रस्ताव के अमल में निवेशकों की सहायता करनी है। उन्होंने कहा कि निवेशकों के साथ त्वरित रूप से पर्सनल और वर्चुअल मीटिंग कर व्यक्तिगत सम्पर्क स्थापित किया जाय। उनकी आशंकाओं और समस्याओं पर चर्चा कर आगे का प्रारूप निर्धारित किया जाय।

उन्होंने कहा कि दोनों विभागों में इनफॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम( MIS) बनाकर हर प्रोजेक्ट के प्रगति की समीक्षा की जाय। निवेशकों की ज़रूरतों और मांगों को लेकर उनकी चेकलिस्ट बनाई जाय और उन्हें प्राथमिकता से पूरा कराया जाय। प्रोजेक्टों के क्रियान्वयन / कॉमिशनिंग से संबंधित माइलस्टोन निर्धारित किया जाय और उन्हें समय से हासिल करने के प्रयास किये जाय। समय सीमा का हर स्तर पर और हर हाल में ध्यान रखा जाय।

बैठक में चेयरमैन यूपीपीसीएल एम0 देवराज, प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात, प्रमुख सचिव अनिल कुमार, सचिव रंजन कुमार, प्रबंध निदेशक पी0 गुरुप्रसाद, प्रबंध निदेशक पंकज कुमार, निदेशक नेडा अनुपम शुक्ला, निदेशक स्थानीय निकाय नेहा शर्मा, निदेशक सूडा यशु रुस्तगीआदि अधिकारी उपस्थित थे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments