Wednesday, April 21, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआईपीसी ताक पर, धर्म का पाठ पढ़ा रहे इंस्पेक्टर नौचंदी

आईपीसी ताक पर, धर्म का पाठ पढ़ा रहे इंस्पेक्टर नौचंदी

- Advertisement -
0
  • रुपये न देने पर पत्नी व बेटे ने पीटा, इंस्पेक्टर ने कहा हरिद्वार जाकर गायत्री मंत्र जाप करो

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: थाना नौचंदी में इन दिनों आईपीसी ताक पर रखकर धर्म का पाठ पढ़ाया जा रहा है। नौचंदी इंस्पेक्टर प्रेमचंद्र शर्मा थाने में आने वाले फरियादियों की समस्या सुनने की बजाय उन्हें गंगाजल की बोतल व चंदन का टीका लगाकर टरका देते है।

फरियादियों को चंदन का टीका लगाने और गंगाजल का उन पर छिड़काव करने को लेकर सोशल मीडिया पर छाए हुए है। यही नहीं इंस्पेक्टर सहाब फरियादियों को हरिद्वार स्थित गायत्री आश्रम में रहकर ब्रह्म मुहूर्त में गायत्री मंत्र का जाप करने और प्रतिदिन गंगाजल का सेवन करने की सलाद देते है।

हालांकि इंस्पेक्टर के इस कार्य की जानकारी उच्चाधिकारियों तक है, लेकिन इसके बावजूद इंस्पेक्टर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

थाना नौचंदी क्षेत्र में इस वक्त अपराध चरम पर है। इसके बावजूद थाना इंस्पेक्टर पंडागिरी में लगे हुए है। वह थाने में आने वाले फरियादियों को गायत्री मंत्रों का जाप करने की सलाह देते है और उन्हें गंगाजल की बोतल देकर टरका देते है।

एक पीड़ित के दो बार थाने में जाने के बाद भी इंस्पेक्टर ने उसकी समस्या नहीं सुनी और उसे गायत्री मंत्र लिखकर उन्हें पढ़ने के लिए दे दिया। जिसके बाद पीड़ित व्यक्ति गुरुवार को आईजी कार्यालय पहुंचा और न्याय की गुहार लगाई। नौचंदी थाना क्षेत्र के डी ब्लॉक शास्त्रीनगर के रहने वाले हेमंत गोयल ने बताया कि एक सविता कौशिक नाम की महिला ने उसे हनीट्रेप के मामले में फंसाकर शादी के कागजातों पर हस्ताक्षर कर लिए।

इसके बाद वह अपने 20 वर्षीय बेटे के साथ उसके मकान में रहने लगी। आरोप था कि सविता कौशिक व उसके बेटे ने उसे अपने झांसे में लेकर 20.5 लाख रुपये बैंक से निकलवा लिए। इसके बाद उन्होंने उससे दो लाख रुपये लिए और अब वह लोग उससे फिर से 20 लाख रुपये देने के लिए दबाव बनाने लगे, लेकिन जब उसने रुपये देने से मना किया तो उसके साथ मां-बेटे ने मिलकर मारपीट शुरू कर दी और जान से मारने की धमकी देने लगे। वह दूसरी पत्नी व सौतेले बेटे की शिकायत लेकर नौचंदी थाने पहुंचे और समस्या बताई तो इंस्पेक्टर प्रेमचंद्र शर्मा ने उसे गायत्री मंत्र लिखकर दे दिए और तीन दिनों तक घर में बैठकर उनका जाप करने को कहा।

हेमंत गोयल ने बताया कि गायत्री मंत्रों का जाप करने के दौरान उसके साथ दो बार मारपीट की गई। इसके बाद वह फिर से नौचंदी इंस्पेक्टर से मिलें तो उन्होंने दोबारा से उसे हरिद्वार में जाकर जाप करने के लिए कहा और साथ में अपनी पत्नी व सौतेले बेटे को ले जाने को कहा। इंस्पेक्टर के इस संबंध में कोई कार्रवाई न करने पर पीड़ित हेमंत गोयल गुरुवार को आईजी प्रवीण कुमार के पास पहुंचा और समस्या बताई। आईजी ने पीड़ित को जांच कराकर कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments