Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutभैया दूज का त्योहार था, इसलिए नरम दिल रही ट्रैफिक पुलिस

भैया दूज का त्योहार था, इसलिए नरम दिल रही ट्रैफिक पुलिस

- Advertisement -
  • शहर के छह चौराहों पर ट्रैफिक सिग्नल लाइट रखी गई बंद

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: भैयादूज के त्योहार की वजह से लोगों को परेशानियों का सामना न करना पड़े। इसलिए टैÑफिक पुलिस लोगों पर कुछ ज्यादा ही मेहरबान दिखाई दी। शहर के छह चौराहों पर लगी ट्रैफिक रेड लाइट को पूरी तरह से बंद कर दिया गया। ताकि लोग त्योहार मनाने के लिए आराम से अपने गंतव्य की ओर निकल सके। शहर में जाम न लगने पाये ट्रैफिक विभाग गुरुवार को पूरी तरह मुस्तैद दिखाई दिया।

ट्रैफिक विभाग की ओर से भैयादूज के त्योहार पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी पूरे शहर में तैनात किये गये थे। शहर के भैंसाली अड्डा, सोहराब गेट बस अड्डा, बागपत बस अड्डा, मवाना बस स्टैंड आदि पर त्योहार के चलते जाम न लगे। इसके लिए यातायात व्यवस्था पूरी तरह से चाकचौबंद की गई थी। शहर के छह प्रमुख आईटीएमएस चौराहों पर रेड लाइट सिग्नल को सुबह से शाम आठ बजे तक बंद कर दिया गया था।

रेड लाइटों को बंद किये जाने की वजह ये रही कि ताकि त्योहार पर आने जाने वाले राहगीर अपने गंतव्य पर समय से पहुृंच सके। ट्रैफिक रेड लाइट सिग्नल के चलते अलग-अलग चौराहे पर सेंसर का समय कहीं एक मिनट तो कहीं दो मिनट तय किया गया है, लेकिन चौराहों पर सेंसर के समय की वजह से राहगीर लेट न हो।

यातायात विभाग ने रेड लाइट सिग्नल को बंदकर लोगों को सुविधा देने का प्लॉन तैयार किया था। हालांकि शहर के कई चौराहों पर जाम में लोग फंसे रहे, लेकिन ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने मुस्तैदी दिखाते हुए यातायात व्यवस्था को नियंत्रित बनाये रखा।

ये रेड लाइट जानबूझकर बंद कराई हैं। कुछ स्थानों पर हैवी ट्रैफिक होता है। उसको मैनुअल चलवाते हैं। इसमें मॉल रोड पर जाम की संभावना ज्यादा रहती है। वहां पर तमाम रेड लाइट हैं।

08 22

गांव के तमाम लोग ऐसे मौके पर इसमें आते हैं। जाने अनजाने में लोग क्रास करते हैं। उन्हें पता नहीं होता तो चालान हो जायेगा।
-जितेन्द्र श्रीवास्तव, एसपी ट्रैफिक

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments