Saturday, April 13, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutलेट नाइट अफसरों की बैठक, फिर छापेमारी

लेट नाइट अफसरों की बैठक, फिर छापेमारी

- Advertisement -
  • पीवीवीएनएल एमडी ने खुद संभाली कमान, घर-घर जाकर उपभोक्ताओें को दी जानकारी
  • ओटीएस योजना व रेवेन्यू के टारगेट को लेकर है जबरदस्त दबाव

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: वन आइम सेटलमेंट योजना को लेकर तय किए गए टारगेट को हासिल करने को लेकर पीवीवीएनएल के टॉप अफसर दिन रात एक किए हैं। जो टारगेट तय किया गया है उसको हासिल करने के लिए नो कंप्रोमाइज पॉलिसी पर काम किया जा रहा है। प्रयास है कि शत-प्रतिशत टारगेट हासिल किया जाए। इसी के चलते एमडी पीवीवीएनएल लेट नाइट अफसरों के साथ एक ओर जहां मीटिंग कर रही हैं। वहीं, दूसरी ओर नियमित रूप से बिजलीघरों पर अचानक पहुंचकर वहां भी जांच पड़ताल व निरीक्षण कर रही हैं।

एक मुश्त समाधान योजना, राजस्व वसूली, रीडिंग आधारित बिलिंग एवं नई योजनाओं को शीघ्र पूरा किए जाने को लेकर देर रात तक चली बैठक। इसी क्रम में एमडी चैत्रा वी ने बुलंदशहर के पंचायत भवन में महकमे के आला अफसरों संग बैठक की। उन्होंने राजस्व वसूली उपभोक्ता टर्नअप रीडिंग आधारित बिलिंग वाणिज्यिक बिंदुओं एवं नई स्कीम के कार्याे को शीघ्र पूरा करने सम्बन्धी तकनीकी बिंदुओं की समीक्षा की।

बैठक मे मुख्यत: एक मुश्त समाधान योजना का सफल क्रियान्वयन राजस्व लक्ष्य के सापेक्ष वसूली में वृद्धि विद्युत हानियां कम करने, उपकेन्द्रवार बिलिंग, रीडिंग आधारित शत-प्रतिशत बिलिंग की प्रगति आदि वाणिज्यिक बिंदू एवं नई स्कीम के कार्यों के मांग पत्र भंडार के माध्यम से प्राप्त कर कार्यों को शीघ्र पूरा कराने आदि महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई। प्रबंध निदेशक ने कहा कि लक्ष्य 100 प्रतिशत प्राप्त किए जाए। लक्ष्यों को प्राप्त करने में लापरवाही बरतने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उपभोक्ता हमारे लिए सर्वोपरि है।

उपभोक्ता से मधुर व्यवहार करें। घंटों तक चली मैराथन बैठक में सभी अधिकारियों को एक मुश्त समाधान योजना के सफल क्रियान्वयन और विद्युत आपूर्ति बेहतर रखने, राजस्व वसूली लक्ष्यों को हर हाल में पूरा करने, उपभोक्ताओं को शत-प्रतिशत रीडिंग आधारित बिलिंग करने, कैम्पों का आयोजन नियोजित रूप से करने के निर्देश दिए। बैठक मे संजय जैन निदेशक (वाणिज्य), एनके मिश्रा निदेशक (तकनीकी), एके. जायसवाल, मुख्य अभियन्ता बुलंदशहर क्षेत्र, बुलंदशहर सहित अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता एवं उपखंड अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

इसके अलावा एमडी चैत्रा वी आदि अफसरों ने विद्युत नगरीय वितरण खंड बुलंदशहर के यमुना बिजलीघर में स्वच्छता सहित विभिन्न गतिविधियों का औचक निरीक्षण किया। यार्ड पर व्यवस्था देखीं। उन्होंने कहा पश्चिमांचल के समस्त 14 जनपदों में बिजलीघर को स्वच्छ रखने पर विशेष ध्यान रखा जाए। बिजलीघरों पर आवश्यक अभिलेख जैसे विद्युत आपूर्ति रजिस्टर, लोग बुक, शिकायत रजिस्टर आदि मेंटेन किए जाए। बिजलीघर एवं बिजलीघर यार्ड की साफ-सफाई, रंगाई-पुताई आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

बिजली घर पर रखे उपकरणों जैसे फायर एक्सटिंगुइशर, की समय-समय पर रिफिलिंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उपभोक्ताओं को सुचारू रूप से निर्बाध विद्युत आपूर्ति देने के लिए विद्युत ट्रांसफॉर्मर की मेंटेनेंस सुनिश्चित की जाए। उपभोक्ताओं की विद्युत आपूर्ति संबंधी समस्याओं का शीघ्र निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। विद्युत व्यवधान होने पर उन्हें तत्काल अटेंड कर विद्युत आपूर्ति शीघ्र बहाल की जाए।

इस दौरान एके जायसवाल मुख्य अभियन्ता बुलंदशहर क्षेत्र भी मौजूद रहे। इससे पूर्व सोमवार को अचानक ग्राम खनपुरा बुलंदशहर में आयोजित कैम्प में पहुंचीं और योजना में पंजीकरण कराने आये स्थानीय लोगों से बात की, विद्युत आपूर्ति और पंजीकरण आदि की जानकारी ली।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments