Saturday, April 13, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutस्थानीय निकाय चुनाव: तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे अफसर

स्थानीय निकाय चुनाव: तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे अफसर

- Advertisement -
  • कमिश्नर और डीएम बूथों का कर रहे हैं निरीक्षण, चुनाव की कभी भी हो सकती है घोषणा

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: निकाय चुनाव को लेकर आला अधिकारी सख्त दिखाई दे रहे हैं। कमिश्नर सेल्वा कुमारी जे. जहां जनपदों के दौरे कर रही हैं, वहीं डीएम दीपक मीणा भी बूथ पर पहुंचकर निरीक्षण कर रहे हैं। प्रशासनिक अमला स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारी में जुट गया हैं। कभी भी चुनाव की घोषणा हो सकती हैं, इसको लेकर पूरी तैयारी की जा रही हैं।

बूथ स्तर पर कितना वर्क टीम ने किया हैं, उसकी जांच पड़ताल ग्राउंड स्तर पर खुद कमिश्नर कर रही हैं। इसमें अधिकारियों की तैयारी को लेकर जो झूठ का आंकड़ा आला अफसरों को भेज दिया गया है, वो भी सामने आ रहा हैं। इसी वजह से कमिश्नर सेल्वा कुमारी जे अफसरों को फटकार भी लगा रही हैं। कमिश्नर ने पांच दिन पहले बुलंदशहर का दौरा कर स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की थी।

कमिश्नर ने कमियां मिलने पर वहां फटकार भी लगाई थी। संडे का दिन अवकाश का होता हैं, लेकिन कमिश्नर ने संडे को भी बागपत का दौरा कर बूथ स्तर पर सरकारी अमले की क्या तैयारी हैं, इसकी जांच पड़ताल की। एक-एक बूथ पर क्या व्यवस्था होनी चाहिए? उसको लेकर अधिकारियों से बातचीत की तथा दिशा निर्देश भी दिये। कमिश्नर जब बूथ पर पहुंची तो तमाम अधीनस्थ अफसर भी उनके साथ मौजूद रहे।

यही नहीं, मेरठ में भी कुछ वैसे ही तैयारी की समीक्षा कमिश्नर कर रही हैं। खुद कमिश्नर ने स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारी को लेकर कमान संभाल रखी हैं। कमिश्नर का कहना है कि स्थानीय निकाय चुनाव की घोषणा भले ही कभी भी हो, लेकिन प्रशासनिक अमला चुनाव कराने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं, इसमें किसी तरह की चूक नहीं होगी। इसी को लेकर अधिकारियों को सक्रिय किया जा रहा हैं।

ड्यूटी चार्ट भी अफसरों का बना दिया गया हैं। बूथ स्तर पर कौन अधिकारी मजिस्ट्रेट रहेगा, ये भी प्लान कर ड्यूटी लगा दी गई हैं। वार्ड स्तर पर अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंप दी गई हैं। इसकी सूची जिन मजिस्ट्रेट की ड्यूटी लगी हैं, उनको भेज दी गई हैं।

डीएम दीपक मीणा भी लगातार स्थानीय निकाय चुनाव से संबंधित जिम्मेदारियों को लेकर गंभीर हैं। हर रोज चुनावी प्रक्रिया को लेकर समीक्षा कर रहे हैं। एडीएम (ई), एडीएम सिटी समेत तमाम अधिकारियों की इसमें जिम्मेदारी लगाई गयी हैं। अधिकारी हर रोज निकाय चुनाव को लेकर बूथ स्तर पर कार्यों की समीक्षा भी कर रहे हैं।

सीएम दो दिसंबर को मेरठ में

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी को फोकस कर दिया है। रविवार को जहां सहारनपुर में मुख्यमंत्री ने प्रबुद्ध सम्मेलन किया, वहीं अब आगामी दो दिसंबर को मेरठ में भी प्रबुद्ध सम्मेलन कर सकते हैं। इसकी सूचनाएं मिल रही है। क्योंकि दो दिसंबर को खतौली में भी मुख्यमंत्री की सभा आयोजित की जा रही है।

12 20

मुख्यमंत्री पहले खतौली में सभा को संबोधित करेंगे तथा उसके बाद मेरठ में प्रबुद्ध सम्मेलन में लोगों से रूबरू होंगे। यूपी में कराए गए विकास कार्यों को बताएंगे तथा कानून व्यवस्था समेत तमाम मुद्दों पर चर्चा करेंगे। अभी से प्रशासनिक अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के आगमन की तैयारियों को लेकर चर्चाएं शुरू कर दी है।

इसको लेकर प्लान किया जा रहा है। यदि मुख्यमंत्री दो दिसंबर को आते हैं तो क्या-क्या करना होगा? कहा पर प्रबुद्ध सम्मेलन किया जाएगा? कितने लोगों को और प्रबुद्ध सम्मेलन के लिए आमंत्रित किया जाएगा। इसमें भाजपा के जिलाध्यक्ष विमल शर्मा और पश्चिमी क्षेत्र के अध्यक्ष मोहित बेनीवाल से भी प्रशासनिक अधिकारी चर्चा कर रहे हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments