Friday, January 28, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliलगातार बारिश से ओवरफ्लो होकर टूटी मामौर झील

लगातार बारिश से ओवरफ्लो होकर टूटी मामौर झील

- Advertisement -
  • किसानों की सैंकडों बीघा गेहूं की फसलों में भरा पानी

जनवाणी संवाददाता |

कैराना: कई दिन लगातार हो रही बारिश के कारण मामौर झील ओवरफ्लो होकर टूट गई। जिस कारण आसपास के किसानों की सैकड़ों बीघा गेहूं की फसल जलमग्न हो गई। वहीं झील का पानी यमुना बांध के निकट तक पहुंच गया।

गत चार दिनों से क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश के कारण मामौर झील ओवरफ्लो हो गई। रविवार सुबह करीब 5:00 बजे मामौर झील के पानी को रोकने के लिए बनाई गई मिट्टी की मेड बंगले के पास से टूट गई। मेड टूटने के बाद झील का गंदा पानी तेजी के साथ आसपास के दर्जनों किसानों की सैकड़ों बीघा गेहूं की फसलों में भर गया।

मामौर निवासी किसान इमरान, जुल्फान, सफात, आरिफ, वसी, शकीला, पप्पू , भूरा, रिंकू, नेपाल, पीरु, लतीफ, इलियास, मीनू आदि किसानों की सैंकड़ों बीघा गेहूं की फसल पूरी तरह जलमग्न हो गई।

झील का पानी फसलों में घुसने के बाद यमुना बांध के निकट तक पहुंच गया। किसानों द्वारा झील टूटने की सूचना एसडीएम को दी गई। जिसके बाद राजस्व विभाग की टीम मौके पर पहुंची तथा पोर्कलेन मशीन से मिट्टी की आड लगाकर पानी रोका।

बता दें इससे पहले भी 28 दिसंबर को झील ओवरफ्लो होकर टूट गई थी। उस समय भी दर्जनों किसानों की सैकड़ों बीघा गेहूं की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई थी। किसानों ने बताया कि उनको आज तक भी फसलो के नुकसान का मुआवजा नहीं मिल सका।

एक बार फिर झील के पानी ने किसानों की फसलों को बर्बाद कर दिया। किसानों ने शासन, प्रशासन से फसलों के नुकसान का उचित मुआवजा दिलाने की मांग की हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments