Sunday, May 16, 2021
- Advertisement -
HomeCoronavirusआनंद अस्पताल में आक्सीजन खत्म, दारोगा की मौत

आनंद अस्पताल में आक्सीजन खत्म, दारोगा की मौत

- Advertisement -
0
  • अस्पताल प्रबंधक ने कहा या तो मरीज ले जाओ नहीं तो आॅक्सीजन लाओ, परिजनों में मचा हाहाकार, बाद में आपूर्ति हुई सामान्य

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोरोना से निपटने में स्वास्थ्य विभाग के आॅक्सीजन आपूर्ति ठीक होने के दावे पूरी तरह से खोखले साबित हो रहे हैं। शनिवार की आधी रात को आनंद अस्पताल में आॅक्सीजन समाप्त हो गई। जिससे मरीजों और उनके परिजनों में हाहाकार मच गया।

अस्पताल प्रबंधक ने परिजनों से कह दिया कि या तो मरीज को ले जाओ नहीं तो आक्सीजन लाओ। देर रात तक परिजन बदहवास हालत में भटकते रहे, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं था।

वहीं, आॅक्सीजन न होने से टीपीनगर थाने के दारोगा कामिल की मौत हो गई। वह कोरोना से पीड़ित थे।
आनंद अस्पताल में रात पौने 12 बजे आॅक्सीजन खत्म होने लगी तो अस्पताल प्रबंधक ने कह दिया कि जो लोग अपने मरीज को ले जाना चाहते हैं वो मरीज को ले जा सकते है।

अगर कोई आॅक्सीजन की व्यवस्था कर ले तो रुक सकता है। आॅक्सीजन खत्म होने की खबर से परिजनों में हड़कंप मच गया और परेशान हो गए। कुछ लोग अपने मरीज को लेकर चले भी गए। बताया जाता है कि पौन घंटे के बाद अस्पताल ने आक्सीजन की व्यवस्था कर ली और मरीज और उनके परिजनों की सांस में सांस आ गई। अस्पताल प्रबंधक ने मरीजों से किसी अन्य नर्सिंग होम में जाने के आदेश कर दिये।

इससे हड़कंप मच गया और मरीज के परिजनों की कहासुनी भी होने लगी। दरअसल, आॅक्सीजन की कमी के कारण कई नर्सिंग होमों में संकट खड़ा हो रहा है और मरीज और उसके परिजन बुरी तरह से डरे हुए हैं और खलबली मची हुई है।

रोहटा के मीरपुर गांव में प्रधान पद प्रत्याशी के पति की कोरोना से मौत

रोहटा के मीरपुर गांव में प्रधान पद की प्रत्याशी के पति की चुनाव से एक दिन पूर्व शनिवार की देर रात कोरोना से मौत हो जाने के कारण गांव में भय का माहौल व्याप्त हो गया। मीरपुर निवासी रोहतास नायक की पत्नी शांति देवी प्रधान पद की उम्मीदवार है और चुनाव की पूरी तैयारी चल रही थी। रोहतास नायक ने चार दिन पहले ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रोहटा पर कोरोना की पहली वैक्सीन ली थी। शनिवार की देर शाम अचानक उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई। जिसके बाद परिवार वालों ने उन्हें अस्पताल ले जाने के बजाय गांव में ही आॅक्सीजन लगाने के लिए आॅक्सीजन सिलेंडर आदि की व्यवस्था की, लेकिन इससे पहले ही उनके अचानक ज्यादा तबीयत खराब हुई और थोड़ी देर बाद ही देर रात में दम तोड़ दिया।

बेकाबू हो रहा कोरोना, 1559 पॉजिटिव, तीन की मौत

कोरोना का संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। लगातार एक हजार से अधिक संक्रमित निकलने से प्रशासन के होश उड़े हुए हैं। शनिवार को 7885 लोगों की टेस्टिंग हुई थी। जिसमें 1559 लोग पॉजिटिव निकले और तीन मरीजों की मौत हो गई। जनपद में अब तक 12 लाख से अधिक लोगों की टेस्टिंग हो चुकी है और 4551 लोग होम आइसोलेटेड हैं। वहीं कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 434 हो गई है।

सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि कोरोना शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी से बढ़ रहा है। शहर के लगभग हर मोहल्ले में कोरोना पॉजिटिव थोक के भाव निकल रहे हैं। कोरोना के कारण आरकेपुरम निवासी 59 वर्षीय महिला, जागृति विहार निवासी 32 वर्षीय युवक और 72 वर्षीय डिफेंस कालोनी निवासी एक बुजुर्ग की मौत हो गई। कोरोना के कारण जागृति विहार, रुड़की रोड, दिल्ली रोड और कंकरखेड़ा के अलावा गंगानगर क्षेत्र में काफी तादाद में संक्रमित निकल रहे हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना ने तेजी से पैर पसार लिये हैं और एक-एक गांव में एक दर्जन से अधिक संक्रमित निकल रहे हैं। भटीपुरा गांव में 25 लोग संक्रमित निकले। कैंट क्षेत्र में 50 लोग संक्रमित निकले और इसमें आधा दर्जन सैनिक भी है। सरधना के लगभग एक दर्जन गांव में कोरोना ने कहर बरपा रखा है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments