Wednesday, May 29, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपीड़ा: नहीं हो रही सुनवाई, मरे न तो क्या करें...

पीड़ा: नहीं हो रही सुनवाई, मरे न तो क्या करें…

- Advertisement -
  • एसएसपी आफिस पर बच्चों और पत्नी समेत छिड़का तेल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: जिले के पुलिस प्रशासन के जब उच्च पदस्थ अफसरों से गुहार के बाद भी यदि सुनवाई न हो तो फिर मरता क्या न करता वाले हालात बन जाते हैं। ऐसा ही कुछ शुक्रवार को एसएसपी आफिस पर हुआ। हस्तिनापुर के रहने वाले युवक ने तीन बच्चों और पत्नी के साथ एसएसपी आॅफिस पहुंचकर डीजल छिड़ककर आत्मदाह का प्रयास कर दिया। इस दौरान एसएसपी आॅफिस पर तैनात पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया। पुलिस कर्मियों ने युवक से डीजल की बोतल छीनने के बाद उसे परिवार सहित हिरासत में ले लिया।

पुलिस ने पूरे परिवार को सिविल लाइन थाने ले जाकर पूछताछ शुरू कर दी है। पीड़ित युवक का दोस्तों से प्रॉपर्टी विवाद चल रहा है इसी के चलते पीड़ित आत्मदाह करने एसएसपी आॅफिस पहुंचा था। पीड़ित हस्तिनापुर की इंदिरा कॉलोनी का रहने वाला नरेंद्र पुत्र जयपाल जाटव ने बताया कि उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर प्रॉपर्टी डीलिंग का काम शुरू किया था। इसके चलते बैंक से 60 लाख का लोन भी लिया था।

उन्होंने एक जमीन खरीदी थी जिसकी कीमत करोड़ों में है। जमीन की कीमत बढ़ने के बाद उसके दोस्तों की नियत में फर्क आ गया। पीड़ित का आरोप है कि उसको अब वो जमीन में कोई हिस्सा नहीं दे रहे हैं। पीड़ित का आरोप है कि इससे पहले वह डीएम और एसएसपी से भी गुहार लगा चुका है,

लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई। इससे परेशान होकर उसने शुक्रवार की सुबह हस्तिनापुर से ही आत्मदाह के लिए तेल खरीदा और पत्नी व तीन बच्चों के साथ पुलिस कार्यालय पहुंच गया। उसका कहना था कि यदि मर कर ही इंसाफ मिलता है तो फिर मर कर भी देख लेते हैं।

23

चंद मिनट में हो जाता बखेड़ा

यदि पुलिस वालों की नजर ना पड़े तो चंद मिनट ही बखेड़ा हो जाता। पीड़ित नरेंद्र ने खुद पर और पत्नी, बच्चों पर भी तेल उड़ेल दिया था। वह बस आग लगाने की तैयारी में था। एसएसपी आफिस में तैनात पुलिस वालों ने बताया कि जैसे ही नरेन्द्र व उसके परिजन परिसर में पहुंचे, उनकी गतिविधियों से लग रहा था कि कुछ गड़बड़ है। हालांकि यह किसी को उम्मीद नहीं थी कि आत्मदाह के प्रयास जैसा भी कुछ हो सकता है।

कपड़ा व्यापारी पर दर्जनभर युवकों ने किया जानलेवा हमला

मेरठ: इंचौली में दर्जनभर युवकों ने कपड़ा व्यापारी की दुकान पर जमकर तोड़फोड़ कर व्यापारी पर लाठी-डंडों से हमला कर गंभीर रुप से घायल कर दिया। युवकों ने दुकान में कई राउंड फायरिंग की और जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गये। घटना की सूचना पर इंचौली पुलिस मौके पर पहुंची और घायल पक्ष से जानकारी ली। पूरी घटना मौके पर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। जिसमें हमलावर मौके पर फायरिंग करते हुए बाइकों से भागते हुए नजर आ रहे हैं। पुलिस ने गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

इंचौली निवासी आदिल पुत्र मुन्ना की पिक्चर हॉल के पास कपड़ों की दुकान है। शुक्रवार को साधारणपुर गांव के दर्जनभर युवक बाइकों पर हथियारों से लैस होकर कपड़ा व्यापारी आदिल की दुकान पर पहुंचे। दबंग युवकों ने दुकान पर पहुंचते ही तमंचों से फायरिंग कर दी। वहीं, हथियारों से लैस युवकों ने दुकान पर बैठे व्यापारी आदिल पर लाठी-डंडों व सरियों से हमला कर दिया। युवकों ने आदिल को दुकान के अंदर घुसकर बेरहमी से पीटा और बेहोशी की हालत में छोड़कर वहां से फायरिंग करते हुए फरार हो गये।

मारपीट फायरिंग की घटना से आसपास में दहशत फैल गई। सूचना के बाद इंचौली थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी की। पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल आरोपियों की पहचान के लिए फु टेज को कब्जे में लिया है। पुलिस ने दर्जनभर युवकों के खिलाफ गंभीर धारा में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस युवकों की तलाश में संभावित स्थानों पर दबिश देने में जुटी है।

15 से 20 राउंड फायरिंग कर फैलाई दहशत

इंचौली निवासी ग्रामीणों का कहना है साधारणपुर गांव के दस बारह युवकों ने जिस तरह से इंचौली गांव में आतंक मचाया। ऐसा लगता था कि गांव में बदमाश घुस आये हों। उधर ग्रामीणों का कहना है कि गांव में युवकों ने 15 से लेकर 20 राउंड तमंचों से फायरिंग की और बाइकों पर फरार हो गये। सभी के हाथों में तमंचे थे। जो खुलकर फायरिंग कर रहे थे।

खरखौदा थाना क्षेत्र में भी गये थे युवक

सूत्रों की मानें तो ये युवक जिन्होंने इंचौली में कपड़ा व्यापारी आदिल पर हमला किया। इसी गु्रप ने बीस दिन पूर्व कैली गांव के पास किसी गांव में गये थे। वहां पर भी इन्हीं युवकों ने फायरिंग की थी, लेकिन वहां ग्रामीणों के आने पर ये वहां से अपनी जान बचाकर भागे थे।

एनएच-58 पर युवक पर फायरिंग, बाल-बाल बचा

कंकरखेड़ा: एनएच-58 पर कैलाशी हास्पिटल के निकट शुक्रवार को बाइक सवार हमलावरों ने स्कूटी सवार एक युवक को घेरकर पकड़ा और पिटाई कर दी। शोर शराबे पर हमलावर फायरिंग कर भाग गए। जिसमें युवक बाल-बाल गचा। पुलिस की जांच में युवक के पिता का अपने परिजनों से गांव में संपत्ति विवाद चल रहा है। युवक ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। दौराला थाना क्षेत्र के चिरौड़ी गांव निवासी हर्ष तोमर ने पुलिस को बताया कि परिवार के साथ पल्लवपुरम फेज-वन में रहता है।

शुक्रवार को पल्लवपुरम से स्कूटी पर सवार होकर अपने दोस्त युवराज के साथ किसी काम से कंकरखेड़ा की ओर जा रहा था। आरोप है कि पल्लवपुरम से ही कई बाइक सवार युवकों ने हर्ष का पीछा शुरू किया। कैलाशी हास्पिटल के पास पहुंचते ही बाइक सवारों ने स्कूटी को ओवरटेक कर रोका और हर्ष व उसके दोस्त की पिटाई कर दी। शोर मचाते हुए पिटाई का विरोध किया। जब तक राहगीर जमा होते,

तब तक हमलावर फायरिंग कर धमकी देकर फरार हो गए। पीड़ित ने फोन परिजनों को घटना की जानकारी दी। उसके बाद हर्ष कंकरखेड़ा थाने पहुंचा और पुलिस को जानकारी दी। पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। इंस्पेक्टर विष्णु कौशिक का कहना है कि फायरिंग का मामला संदिग्ध है। दोनों पक्षों में मारपीट हुई है। हर्ष के पिता का अपने गांव चिरौड़ी दौराला में अपने परिवार से ही संपत्ति विवाद है। तहरीर पर जांच के बाद कार्रवाई होगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments