Sunday, July 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagarभारत के लोग मानसिक स्वास्थ्य पर नहीं करते बात

भारत के लोग मानसिक स्वास्थ्य पर नहीं करते बात

- Advertisement -
  • मानसिक स्वास्थ्य स्टार्ट अप लिस्सन का मुजफ्फरनगर में खुला पहला सेन्टर

जनवाणी संवाददाता|

मुजफ्फरनगर: मानसिक स्वास्थ्य स्टार्ट अप लिस्सन ने अपना पहला सैन्टर उत्तर प्रदेश मे जनपद मुजफ्फरनगर मे शुरू करते हुए मानसिक रोगियों के लिए एक नई पहल शुरू की है।

लिस्सन सैंटर सदर बाजार मे पत्रकारों से बातचीत करते हुए डा.कृष्णवीर सिंह ने कहा कि दुनिया भर मे अब मानसिक स्वास्थ्य को बेहद महत्व दिया जा रहा है। विदेशों की अपेक्षा भारत मे अभी भी लोग इस पर चर्चा करने से परहेज करते हैं। उन्होने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि लिस्सन का उददेश्य मानसिक स्वास्थ्य की बाधाओं को दूर करना है। लिस्सन के सह संस्थापक और निदेशक के रूप मे उन्होंने बताया कि वे खुद इस जनपद के ही मूल निवासी हैं और विदेशों मे अपनी सेवाएं देने के बाद उन्होंने भारत को अपनी कर्मभूमि बनाया है।

लिस्सन के दूसरे सह संस्थापक तरूण गुप्ता ने बताया कि हम मानसिक और भावनात्मक कल्याण के विषय पर ध्यान आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं। इसी क्रम मे ऐसोसिएशन आफ फिजिशियन आफ इंडिया मुजफ्फनगर के साथ एक मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सत्र का आयोजन किया गया है।

उनका उददेश्य है कि लोग चिकित्सक के सामने बिना संकोच के अपनी बात कह सकें। लिस्सन की सीएमओ डा. प्रीति सिंह ने पत्रकारों को बताया कि लोगों के जीवन को बदलने और उनके दैनिक जीवन के सभी पहलुओं मे मनोवैज्ञानिक सहायता प्रदान करके उनकी चिकित्सकीय टीम मानसिक बीमारियों के प्रति जागरूकता पैदा करने प्रयास करेगी। अभी तक 3000 लोग इस अभियान मे शामिल हो चुके हैं और इस वर्ष के अन्त तक 20000 से अधिक लोगों की मदद की जा सकेगी।

मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सत्र में डा. आरबी सिंह, डा. सौरभ सिह, डा. पंकज जैन, डा. सुनील गुप्ता, डा. पल्लव जैन, डा. अम्बर तिवारी, डा. अर्पण जैन, डा. राजबीर सिह मलिक, डा. रविन्द्र सिह, डा. गिरीश कुमार, डा. कुलदीप चौहान, डा. अनुभव सिंघल, डा. विजय जैन, डा. हृदयेश अरोरा आदि की उपस्थिती रही। उन्होंने यह भी जानकारी दी कि लिस्सन को गत 15 अगस्त 2021 को लाॅन्च किया गया था और भारत में इसका मुख्यालय गुरूग्राम मे बनाया गया है। पत्रकार वार्ता मे नगर के प्रमुख चिकित्सक मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments