Saturday, December 4, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerut...और जिंदगी की जंग हार गई पिंकी

…और जिंदगी की जंग हार गई पिंकी

- Advertisement -
  • पांच दिन पहले पति की आत्महत्या के बाद की थी खुदकुशी की कोशिश
  • रही-सही कसर ससुर ने गर्दन पर कटर चला कर दी पूरी

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: शास्त्रीनगर सेक्टर एक में कारोबारी अमित बंसल के सुसाइड करने से दु:खी उसकी पत्नी पिंकी बंसल भी जिंदगी और मौत से पांच दिन तक जंग लड़ने के बाद रविवार की शाम को हार गई। नोएडा के जेपी अस्पताल में उसकी मौत हो गई। पति के सुसाइड करने से दुखी पिंकी ने दुखी होकर हाथ की नस काटकर गले पर पेपर कटर से कट मारा था। तभी कमरे में आये ससुर ने बहू को न केवल लात मारी थी बल्कि पेपर कटर से उसकी गर्दन पर वार किया था।

चार अक्तूबर की शाम को आस्ट्रेलिया से पढ़कर आया अमित बंसल इंटीरियर डिजाइनिंग का कारोबार करता था। शास्त्रीनगर के सेक्टर एक में आॅफिस और घर बगल बगल है। पिता से अनबन रहने और कुछ दिनों सेतनाव में होने के कारण उसने आफिस में फांसी लगा कर जान दे दी थी। पति को फांसी पर लटका देखकर पिंकी ने पहले पति को चादर काट कर नीचे उतारा और हिला कर देखा कि उसके अंदर जान तो नहीं बाकी है।

पति के मरने पर पिंकी ने मेज पर रखे पेपर कटर से हाथ की नस काट ली और गर्दन पर वार कर दिया। जैसे ही अमित के मां बाप को इसकी जानकारी मिली तो उसके पिता राम किशन बंसल अमित की छह माह की बच्ची को लेकर आये और फर्श पर लहूलुहान पड़ी पिंकी को लात मारने के बाद उसे बुरी तरह से झकझोर दिया। बाद में राम किशन बंसल ने वहीं पड़े पेपर कटर से पिंकी के गर्दन पर वार कर दिया।

इस नृशंस कार्रवाई को सीसीटीवी कैमरे ने पूरी तरह से कैद कर लिया। पिंकी बंसल को गंभीर हालत में पहले मेडिकल कालेज ले जाया गया जहां से उसको नोएडा के जे पी अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया। पांच दिन तक जिंदगी और मौत से जंग लड़ने के बाद पिंकी की रविवार की शाम चार बजे के करीब मौत हो गई। पिंकी तीन दिन से वेंटीलेटर पर थी और उसकी हालत बिगड़ती जा रही थी। गले में गहरा कट लगने के कारण डाक्टर उसको बचाने का हर संभव प्रयास कर रहे थे, लेकिन वो कामयाब नहीं हुए।

छह माह की बच्ची हुई अनाथ

पिता अमित बंसल के सुसाइड करने और मां पिंकी की मौत ने छह माह की बच्ची की जिंदगी को अंधकार में डाल दिया है। इस बच्ची का दुर्भाग्य देखिये दुनिया में आकर इसने कुछ देखा भी नहीं और इससे पहले उसके सिर से माता पिता का साया छिन गया। जिस बाबा को उसकी जिंदगी में सुनहरे रंग भरने थे उसने ही इस मासूम बच्ची को जिंदगी का सबसे बड़ा गम दे दिया।

चलेगा हत्या का मुकदमा

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि बहू पिंकी बंसल पर जानलेवा हमला करने के आरोप में जेल गए राम किशन बंसल की मुश्किलें बढ़ने जा रही है। धारा 307 में पुलिस ने मृतक अमित बंसल के पिता को जेल भेजा था। बहू पिंकी की मौत हो जाने के बाद अब पुलिस धारा 307 को 302 में बदल देगी। अपने कथित सिद्धांतों के कारण हमेशा बेटे को अपने से दूर रखने वाले पिता का बुढ़ापा ऐसे गुजरेगा शायद उसने इसकी कल्पना भी नहीं की होगी। गौरतलब है कि पिंकी की दो साल पहले ही शादी हुई थी। पिंकी के पिता ने शान शौकत से शादी की थी और बेटी को मर्सीडीज गाड़ी दहेज में दी थी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments