Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकंबल वितरण के दौरान भगदड़, पुलिस का लाठीचार्ज

कंबल वितरण के दौरान भगदड़, पुलिस का लाठीचार्ज

- Advertisement -
  • पुलिस ने प्रसपा नेता अमित जानी को लिया हिरासत में
  • धक्का-मुक्की में आधा दर्जन महिलाओं सहित दर्जनों लोग घायल
  • पुलिस लाठीचार्ज के बाद पीएसी ने संभाला मोर्चा

जनवाणी संवाददाता  |

जानी खुर्द: प्रसपा नेता अमित जानी ने कंबल वितरण कर बवाल करा दिया। अनुमति एक हजार लोगों की ली तथा 10 हजार लोग पहुंच गए, जिसके बाद यहां बवाल मच गया। भीड़ में भगदड़ मचने पर कई महिलाओं को गंभीर चोटें आई, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। बेकाबू हुई भीड़ को काबू में करने के लिए मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। बाद में पीएसी को बुलाया गया, तब जाकर भीड़ काबू में की गई। बवाल के जिम्मेदार प्रसपा नेता अमित जानी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया तथा उसे रोहटा थाने में देर शाम तक बैठाये रखा। बाद में उसे निजी मुचलकों पर छोड़ दिया गया।

जानी गंगनहर के पास प्रसपा ने जनसभा की। इस दौरान कंबल वितरण का कार्यक्रम भी रखा गया था। कंबल वितरण को लेकर यहां मारामारी मच गई। भीड़ ने लगाया टेंट उखाड़ दिया। भीड़ में जो अफरातफरी मची, जिसकी चपेट में आधा दर्जन महिलाएं आ गई, जिन्हें गंभीर चोटें आयी है। यह पूरा घटनाक्रम गंगनहर पुल के पास क्रिकेट का मैदान है।

जनसभा में कंबल वितरण को लेकर अचानक भीड़ बेकाबू हो गई। भीड़ को कार्यक्रम के आयोजक भी नहीं संभाल पाए, जिसके बाद मची भगदड़ के बाद पुलिस को बुलाया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने बेकाबू भीड़ पर लाठीचार्ज कर दिया। इसके बाद तो और भगदड़ मच गयी। भगदड़ में कई महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गयी, जिनको निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जब भीड़ पुलिस के कब्जे में नहीं आयी तो इसके बाद पीएसी को बुलाया गया तथा पीएसी के जवानों ने मोर्चा संभाला, तब जाकर भीड़ को नियंत्रित किया जा सका। भीड़ के अनियंत्रित होने पर आधा दर्जन महिलाओं सहित दर्जन भर लोग घायल हो गये, जिन्हे कस्बे के अस्पतालों में भर्ती कराया गया।

घटना की जानकारी पर सीओ सरधना आरपी शाही रोहटा,जानी व सरूरपुर खुर्द थाना पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और कार्यक्रम आयोजक अमित जानी को हिरासत में ले लिया तथा उसे रोहटा थाने ले गए। बताया गया कि आठ ट्रकों में कंबल लादकर लाये गए थे। करीब 30 हजार कंबल का वितरण किया जाना था। पुलिस ने जिन ट्रकों में कंबल आये थे, उनको भी कस्टडी में लिया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments