Wednesday, May 12, 2021
- Advertisement -
HomeCoronavirusकोरोना से जंग: अब घर-घर टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार की तैयारी,...

कोरोना से जंग: अब घर-घर टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार की तैयारी, जानिए पूरी खबर

- Advertisement -
0

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: केंद्र सरकार की योजना के मुताबिक अगले साढ़े तीन महीने यानी 15 अगस्त तक देश के 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीनेट कर दिया जाएगा। योजना के मुताबिक पूरे देश भर में 10 लाख से ज्यादा टीकाकरण के केंद्र बनाए जाएंगे। इसके अलावा लोगों को घर-घर तक टीका लगाने की भी योजना है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक अगले कुछ दिनों में ही दुनियाभर के अलग अलग मुल्कों में लगाई जाने वाली मानकों के अनुरूप वाली वैक्सीन अपने देश में होंगी।

टीके के लिए सभी राज्यों से समन्वय                                          

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाए जाने की घोषणा की। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और गृह मंत्रालय समेत तमाम अन्य जिम्मेदार महकमे पिछले कुछ महीनों से इस योजना पर लगातार काम कर रहे थे। देशभर में टीकाकरण की योजना को अमलीजामा पहनाए जाने वाली कमेटी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया की उनकी पूरी कोशिश है कि अगले साढ़े तीन महीने यानी 15 अगस्त तक पूरे देश की 18 साल से अधिक उम्र की आबादी को कोरोना का टीका लगाना है। उक्त अधिकारी के मुताबिक इसके लिए देश के सभी राज्यों से समन्वय किया जा चुका है।

अब तक 13.5 करोड़ लोगों को लगा टीका                                        

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक अभी हमारे देश में सिर्फ दो कंपनियों का ही टीका उपलब्ध है। बावजूद इसके अब तक तकरीबन 13.5 करोड़ लोगों को वैक्सीनेट किया जा चुका है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि अगले कुछ दिनों में दुनियाभर के अलग-अलग देशों में लगाए जाने वाले कई टीके उपलब्ध हो जाएंगे इस वजह से वैक्सीनेशन ड्राइव की रफ्तार बहुत तेज हो जाएगी।

देश में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने वाली कमेटी के एक वरिष्ठ सदस्य के मुताबिक योजना तो यही है कि सभी प्रांतों में तकरीबन 10 लाख से ज्यादा वैक्सीनेशन सेंटर बनाए जाएं। इसके लिए सभी राज्यों को दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं राज्यों ने अपने स्तर पर योजनाओं को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है और उसकी पूरी डिटेल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को दी जा रही है।

इसके अलावा केंद्र सरकार लोगों को घर-घर जो जहां है उसको वहीं पर टीका लगाने की तैयारी में है। इसके लिए राज्यों के स्वास्थ्य विभाग की ग्राउंड लेवल पर काम करने वाली टीम को प्रशिक्षित भी किया जा रहा है। इसके अलावा जो सामाजिक संगठन और कॉरपोरेट  ग्रुप इस प्रक्रिया में मदद करना चाहते हैं उन्हें भी केंद्र सरकार ने आगे आने के लिए कहा है।

…और भी वैक्सीन आएंगी बाजार में                                         

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सब को टीकाकरण के फैसले के बाद देश में दुनिया के अलग-अलग मुल्कों में लगाई जाने वाली वैक्सीन के आयात की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अभी तक देश में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड बाजार में है। केंद्र सरकार ने रूसी स्पूतनिक वैक्सीन को भी भारत में लगाने की अनुमति दी है। इसके अलावा अगले कुछ दिनों में पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली फाइजर बायोइनटेक, जॉनसन एंड जॉनसन की सिंगल डोज वैक्सीन, मोडर्ना, साइनोफॉर्म और सिनोवेक जैसी वैक्सीन को भी भारत में अनुमति मिलने वाली है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक जब इन सभी वैक्सीन को अनुमति मिल जाएगी, तो देश में रोजाना होने वाली वैक्सीनेशन की संख्या भी बढ़ जाएगी। इस वक्त देश में महज दो कंपनियों की वैक्सीन से तकरीबन 30 लाख से ज्यादा लोगों को रोजाना वैक्सीनेट किया जा रहा है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments