Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगेहूं की फसल को लेकर शिवसदन के सेवादारों में रार

गेहूं की फसल को लेकर शिवसदन के सेवादारों में रार

- Advertisement -
  • कमेटी सदस्य और विक्रमजीत आमने-सामने भगवानपुर खादर का मामला

जनवाणी संवाददाता |

किठौर: वर्षों से भूमाफिया से जूझ रहे खादर स्थित शिवसदन कृषि फार्म के सेवादारों में आपसी फूट के चलते गुटबाजी हो गई है। फार्म संस्थापक विरसा सिंह के भाई ने यहां खड़ी हजारों बीघा गेहूं की फसल पर अपना अधिकार जताते हुए कटाई शुरू की तो फार्म के सेवादारों, कमेटी के पदाधिकारियों ने डीएम से शिकायत कर कटाई रुकवा दी। डीएम ने एसडीएम को जांच के आदेश दिए हैं।

हरियाणा निवासी विरसा सिंह ने करीब 40 वर्ष पूर्व भगवानपुर खादर में शिवसदन कृषि फार्म बनाया था। फार्म में भगवानपुर से सटे सलौर, तेजपुरी, सिकंदरपुर, शाहीपुर, महमूदाबाद, राबानादल्लीपुर और मिर्जापुर गांवों की हजारों एकड़ कृषि भूमि खरीदकर शामिल कर लीं। ये कृषिभूमि फार्म के ट्रस्टी और कार्यरत सेवादारों के नाम कराई गईं। बताया कि विरसा सिंह के रहते फार्म पर कोई दिक्कत नहीं थी।

लेकिन उसकी मौत के बाद कुछ सेवादारों की नीयत बिगड़ी और वह अपने नाम की कृषि भूमि औने-पौने दामों में रसूखदार स्थानीय लोगों को बेच वापस पुराने ठिकानों पर लौट गए। अधिकतर सेवादार अपने नाम की कृषि भूमि शिवसदन ट्रस्ट को दान कर गए। जिनके बैनामें ट्रस्ट के पास हैं।

ऐसे शुरू हुआ फजीर्वाड़ा

कमेटी के सचिव चर्चिल सिंह का आरोप है कि रसूखदार लोगों ने खादर में सस्ती भूमि के लिए विरसा सिंह के भाई विक्रमजीत सिंह उर्फ बिक्कर के सहयोग से फार्म के सेवादारों के नामराशी लोग पंजाब और हरियाणा से लाकर सेटिंग से फर्जी बैनामों की शुरुआत करा दी।

फार्म के सेवादारों व कमेटी पदाधिकारियों को भनक लगने तक सैकड़ों एकड़ भूमियों के बैनामें हो गए। हालांकि कमेटी ने फार्म के सेवादारों/वास्तविक भूस्वामियों के जरिये इन मामलों में कोर्ट में वाद दायर कर रखे हैं। बिक्कर और अन्य सेवादारों में तभी से नाराजगी है। कमेटी के लोगों ने दोनों पक्षों में कई बार सुलह कराई, लेकिन बात नहीं बनी।

90 एकड़ गेहूं साफ

चर्चिल सिंह ने कमेटी सदस्यों और सेवादारों संग डीएम दीपक मीणा से की शिकायत में बताया फार्म में सेवादारों ने लगभग 175 एकड़ गेहूं बोई थी। जिसमें बिक्कर पक्ष ने कटाई शुरू कर दी। आरोप है कि करीब 70 एकड़ गेहूं फसल बिक्कर पक्ष काटकर ले गया। डीएम ने एसडीएम मवाना अखिलेश यादव को फसल कटाई तुरंत रुकवाने और जांच के बाद फसल काटे जाने का आदेश दिया है। उधर, बिक्कर सिंह का कहना है कि उनका किसी से विवाद नहीं गेहूं उन्होंने बोई है वही काटेंगे।

बोले-एसडीएम

एसडीएम मवाना अखिलेश यादव का कहना है कि जांच की जा रही है। गेहूं फसल जिसने बोई है वही काटेगा। इसके लिए प्रभारी निरीक्षक किठौर को जल्द आदेशित किया जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments