Saturday, June 19, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurखबर का असर: अवैध खनन और परिवहन पर शिकंजा, एक दर्जन वाहन...

खबर का असर: अवैध खनन और परिवहन पर शिकंजा, एक दर्जन वाहन सीज

- Advertisement -
0
  • डीएम ने जनवाणी की खबर का लिया संज्ञान, धरपकड़ के निर्देश

वरिष्ठ संवाददाता |

सहारनपुर: अवैध खनन को लेकर जनवाणी द्वारा चलाए जा रहे अभियान का असर साफ दिखने लगा है। जिला प्रशासन ने इस पर संज्ञान लिया और जिलाधिकारी ने एसडीएम नकुड़ व एसडीएम बेहट को पूरे मामले की जांच सौंपी। इतना ही नहीं मामले में संलिप्त खनन माफियाओं को देखते हुए एसपी सिटी द्वारा लगभग 14 पुलिसकर्मियों की एक टीम भी इन्हें दी गयी जिससे कि रात के समय आसानी से चेकिंग की जा सके।

बता दें कि पिछले काफी समय से सहारनपुर में हरियाणा के टापू घाट से आ रहे अवैध खनन की शिकायत सहारनपुर प्रशासन को मिल रही थी। जनवाणी ने इस विषय पर कई खबरें प्रकाशित कीं। इसके बाद सहारनपुर के जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने इस पर बड़ा संज्ञान लिया और जांच के आदेश पारित कर दिये।

वहीं, अगर सूत्रों की मानें तो गोपनीय रूप से टीम बनाकर एसडीएम बेहट और एसडीएम नकुड़ को यह जिम्मा दिया गया, जिसके बाद रात में चलाये गए चेकिंग अभियान में लगभग हरियाणा के टापू से आ रहे अवैध खनन के करीब एक दर्जन से ऊपर वाहनों को सीज किया गया।

इस पूरे मामले में थाना चिलकाना और थाना सरसावा पर जो आरोप अवैध खनन को लेकर लगाया जा रहा था, वह खुलकर सामने निकल आया। पकड़ी गयी सभी गाड़ियां अवैध खनन से लदी हुयी थीं और ये सभी हरियाणा के टापू से बिना किसी प्रपत्र के अवैध रूप से निकाली जा रही थीं।

थाना सरसावा और थाना चिलकाना में हरियाणा के खनन माफियाओं ने अपनी सैटिंग की हुयी थी जिससे कि अवैध खनन से लदी ये गाड़ियां हरियाणा के टापू घाट से निकलकर आसानी से थाना चिलकाना और थाना सरसावा की सीमा से होकर सहारनपुर में आ जाती थी।

थाना चिलकाना तथा थाना सरसावा की मिलीभगत से हो रहे इस अवैध खनन के परिवहन का एसडीएम नुकुड़ ने औचक कार्यवाही कर करीब एक दर्जन से ऊपर वाहनों को बिना प्रपत्र एवं बिना आईएसटीपी के पकड़ा है। सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि हरियाणा से आ रहे इस अवैध खनन की गाड़ियों में से अधिकतर गाड़ियां नानौता जा रही हैं। नानौता में हो रहे हाई-वे निर्माण यह सारा अवैध खनन प्रयोग किया जा रहा है।

इसके बाद जिला प्रशासन ने इस पर भी संज्ञान लेते हुए हाईवे निर्माण की जांच बैठा दी हैं। इसके अलावा एक गोपनीय टीम को तैयार किया गया है जो हरियाणा-यूपी सीमा पर नजर बनाये रखेगी। आपको याद होगा कि अवैध खनन और उसके परिवहन को लेकर एक बड़ा खुलासा किया गया था जिसमें लगभग 60 गाड़ियों की एंट्री का खेल जो थाना चिलकाना के द्वारा खेला जा रहा था, उसको उजागर किया गया था।

थाना चिलकाना पुलिस एक बड़े एन्ट्री फीस के बदले हरियाणा के टापू से आ रहे अवैध खनन की गाड़ियों को अपनी सीमा से सहारनपुर में एंट्री करवा रही थी। इन गाड़ियों में अवैध खनन भरा होता था और इनके पास कोई भी प्रपत्र नहीं था।

अब जिलाधिकारी के इस तरह की कार्यवाही के बाद खनन माफियाओं और हरियाणा के खनन सिंडिकेट चला रहे माफियाओं में खलबली मची हुयी है।एसडीएम नकुड़ हिमांशु नागपाल का कहना है कि अब अवैध खनन व परिवहन यूपी की सीमा में कतई नहीं होने दिया जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments