Friday, July 26, 2024
- Advertisement -
HomeSports Newsजानिए, क्यों मनाया जाता है खेल दिवस, क्या है इसका महत्व

जानिए, क्यों मनाया जाता है खेल दिवस, क्या है इसका महत्व

- Advertisement -

नमस्कार, दैनिक जनवाणी डॉटकॉम वेबसाइट पर आपका हार्दिक स्वागत और अभिनंदन है। अगर आप सुबह उठकर सिर्फ जॉब पर जाना, फिर नौकरी पर से आकर खाकर सो जाना यही काम करते हैं। तो क्या यह हमारे लिए अच्छा है? जीं नहीं इससे हमें और हमारी बॉडी को कई नुकसान हो सकते हैं। इस बीजी शेड्यूल में हमारे पास अपने लिए समय नही है।

30 14

वहीं, आज 29 अगस्त यानि राष्ट्रीय खेल दिवस है। यह दिन खेलने वालों के लिए बहुत ही खास दिन हैं। इसी के साथ खेल दिवस हो और इंडिया के स्टार यानि विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड प्राप्त करने वाले नीरज चोपड़ा की बात न हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता है।

29 15

दरअसल,आज कल बच्चे-बच्चे की जुबां पर नीरज चोपड़ा का नाम है इससे बच्चे इंसपार्य भी होते हैं। लेकिन फेमली सपोर्ट नहीं मिलता है। जिस कारण जो लोग खेल में जाने चाहते है वह नहीं जा पाते। इस​लिए आज के दिन खेल दिवस मनाया जाता है। तो चलिए इस खास मौके पर जानते हैं खेल दिवस के बारे में…

इस दिन से शुरू हुआ था खेल दिवस

32 15

राष्ट्रीय खेल दिवस की शुरूआत 29 अगस्त सन् 2012 से हुई थी। इस दिन प्लेयर्स को समर्पित करने का फैसला लिया था। दरअसल, यह दिन इसलिए चुना गया था क्योंकि, आज के दिन दिग्गज हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद का जन्म हुआ था।

मेजर ध्यानचंद का कब हुआ था जन्म?

33 18

बता दें कि, मेजर ध्यानचंद का जन्म 29 अगस्त 1905 को इलाहाबाद यानि प्रयागराज में हुआ था। वह खिलाड़ी के साथ-साथ सैनिक भी थे। वह भारत के सबसे सर्वश्रेष्ठ प्लेयर्स में से एक थे। जो आजादी से ब्रिटिश आर्मी में थे और हॉकी खेलते थे।

34 17

इनके हॉकी में महारत हासिल करने के कारण ध्यानचंद को हॉकी जादुगर और द मैजिशियन के नाम से बुलाया जाता था। बताया जाता है कि, इंडिया ने हॉकी जादुगर की मौजूदगी में सन् 1928,1932 व 1936 में ओलंपिक गोल्ड मेडल प्राप्त किए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments