Friday, May 31, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutबांग्लादेशी अफसरों को सिखाए प्रशासनिक गुर

बांग्लादेशी अफसरों को सिखाए प्रशासनिक गुर

- Advertisement -
  • प्रशासन के क्षेत्र में कार्यप्रणाली के आदान-प्रदान से होगी कार्यकुशलता में वृद्धि
  • जिलाधिकारी ने चुनौती एवं अवसर की बारीकियों से कराया अवगत

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: बांग्लादेश से अध्ययन भ्रमण करने आये 65वें बैच के कुल 85 सिविल सेवा के अधिकारियों के डेलीगेशन की क्षमता निर्माण कार्यशाला का आयोजन आयुक्त सभागार में किया गया। सिविल सेवा में कुशल प्रशासनिक प्रबंधन एवं क्षमता निर्माण की बारीकियो से मेरठ के प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा अलग-अलग प्रजेन्टेशन देकर अवगत कराया गया। कार्यशाला में आयुक्त सेल्वा कुमारी जे द्वारा आगंतुक बंग्लादेशी सिविल सेवा अधिकारी डेलीगेशन का मोमेन्टो देकर स्वागत किया गया।

उन्होंने प्रशासन द्वारा जनहित में लिये जाने वाले निर्णय एवं कार्यों के बारे में विस्तृत रूप से बताया। इस दौरान उन्होने कुशल प्रशासन के लिए नवाचार एवं जनता तक सरकार की योजनाओं का लाभ किस प्रकार पहुंचता है, को विस्तृत रूप से बताया। उन्होने कहा कि दोनो देशो में प्रशासन के क्षेत्र में किये गये नवाचार का आदान-प्रदान करने से प्रशासनिक कार्यकुशलता में वृद्धि होगी।

इसी क्रम में उपाध्यक्ष एमडीए अभिषेक पांडेय द्वारा उप्र सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न विकास योजनाओ का प्रजेन्टेशन दिया गया तथा विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओ यथा-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण, वृद्धावस्था पेंशन योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना, विधवा पेंशन योजना, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, शादी अनुदान योजना पुष्टाहार वितरण योजना आदि योजनाओ से अवगत कराया।

26 6

पुलिस प्रशासन द्वारा जनपद में शांति एवं कानून व्यवस्था के दृष्टिगत किये जाने वाले कार्यों के बारे में बताया गया साथ ही थाना स्तर से प्रदेश स्तर पर पुलिस की विभागीय व्यवस्था से अवगत कराते हुये पुलिस की विभिन्न यूनिट एसटीएफ, आरएएफ, एंटी करप्शन, रेस्पॉन्स सिस्टम आदि की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी दी गयी। नगरीय प्रशासन एवं उसकी कार्यप्रणाली से संबंधित नगर आयुक्त डा. अमित पाल शर्मा द्वारा प्रजेन्टेशन दिया गया। जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा जनपद स्तर पर जिलाधिकारी एवं उसके कार्य के बारे में जानकारी दी गयी।

जिलाधिकारी द्वारा कोषागार की कार्यप्रणाली, कैन्टोनमेंट एरिया में सिविल प्रशासन एवं कैंटोनमेंट प्रशासन के मध्य समन्वय एवं प्रशासनिक कार्यप्रणाली तथा अलग-अलग जनपद में जिलाधिकारी के पद की चुनौतियां एवं उनका निराकरण, कानून व्यवस्था एवं त्रि-स्तरीय निर्वाचन प्रणाली को बिन्दुवार बताया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि भौगोलिक, राजनैतिक एवं प्रशासनिक क्षेत्र में दोनो ही जगह लगभग समानताएं है।

इसलिए विचारो के आपसी आदान-प्रदान से निश्चित ही लाभ प्राप्त होगा एवं कुशल प्रशासनिक क्षमता निर्माण में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। जिलाधिकारी ने आये हुये सिविल सेवा के अधिकारियो को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर आयुक्त मेरठ मंडल मेरठ सेल्वा कुमारी जे, जिलाधिकारी दीपक मीणा, उपाध्यक्ष एमडीए अभिषेक पांडेय, एसएसपी रोहित सिंह सजवाण, एसडीएम सदर ओजस्वी राज, नगर मजिस्ट्रेट राहुल विश्वकर्मा, जिला सूचना अधिकारी सुमित कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments