Tuesday, December 7, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliकिसान क्रांति दिवस पर तहसीलों पर गरजे किसान

किसान क्रांति दिवस पर तहसीलों पर गरजे किसान

- Advertisement -
  • राष्ट्रीय लोकदल का किसानों की मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: राष्ट्रीय लोकदल ने शनिवार को किसान क्रांति दिवस मनाते हुए जनपद की तीनों तहसीलों पर जोरदार धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान किसानों से संबंधित नौ सूत्रीय मांगों का ज्ञापन प्रदेश की राज्यपाल को भेजा गया।
राष्ट्रीय लोकदल ने शनिवार को जनपद की तीनों शामली, कैराना और ऊन तहसीलों पर धरना प्रदर्शन किया।

शामली तहसील क्षेत्र के रालोद कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट पर जोरदार धरना प्रदर्शन किया। धरने की अध्यक्षता गठवाला खाप के थांबेददार बाबा श्याम सिंह ने की। वक्ताओं ने धरने को संबोधित करते हुए वरिष्ठ रालोद नेता प्रसन्न चौधरी ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार किसानों और मजदूरों पर अत्याचार कर रही है। न तो गन्ने का मूल्य बढ़ाया जा रहा है और न ही गन्ने का भुगतान हो रहा है।

सरकार किसानों का शीघ्र भुगतान कराए, नहीं तो फिर किसान स्वयं बहुगतान कराने के लिए सड़कों पर उतरेगा। युवा राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव अशरफ अली खान ने कहा कि जात और धर्म में न बंटकर हमें भाईचारा कायम करके इस सरकार को 2022 में प्रदेश की सत्ता से बेदखल करना है।

गठवाला खाप के थांबेदार बाबा श्याम सिंह ने कहा कि सरकार किसानों पर ज्यादती कर रही है जिससे किसान परेशान है। सरकार अब लोभ लालच किसानों को दे रही है पर किसान किसी लालच में आने वाला नहीं है और भाजपा सरकार को हटाएगा।

धरने को अन्य वक्ताओं ने संबोधित करते हुए कहा कि किसानों की फसलों पर लागत बढ़ने के बाद भी किसानों को लाभकारी मूल्य नहीं दिला पा रही है। सरकार का किसानों की आय बढ़ाने का चुनावी वादा जुमला बनकर रह गया है। किसानों के पास न तो दवाई और न ही अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए पैसे हैं।

पिछले 9 महीनों से देश के किसान नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। उनकी एमएसपी के अधिकार की मांग है लेकिन केंद्र सरकार का रवैया आंदोलन को कुचलने का है इसलिए अहंकारी किसान विरोधी सरकार के व्यवहार से मजबूर होकर राष्ट्रीय लोकदल किसान क्रांति दिवस मना रहा है। इसके बाद उप जिलाधिकारी शामली संदीप कुमार को प्रदेश की राज्यपाल को संबोधित नौ सूत्रीय मांग पत्र सौंपा गया।

धरने को कालखंडे खाप के चौधरी बाबा संजय कालखंडे, राष्ट्रीय लोकदल महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष प्रियंवदा तोमर, पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल, रालोद एससी/ एसटी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष विपिन वाल्मीकि, रणधावा मलिक, जिला पंचायत सदस्य उमेश कुमार, योगेंद्र चेयरमैन, बिजेंद्र मलिक दीवाना, अरविंद झाल, ऋषिराज राझड आदि ने भी संबोधित किया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments