Tuesday, May 28, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपार्कों का हाल बेहाल, सूख गये हैंडपंप भी

पार्कों का हाल बेहाल, सूख गये हैंडपंप भी

- Advertisement -
  • वार्ड-चार का रिपोर्ट कार्ड: शेरगढ़ी में टूटी पड़ी हैं नालियां, नहीं हुआ सड़कों का भी निर्माण

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: नगर निगम पार्षदों का कार्यकाल दिसंबर 2022 में खत्म हो जायेगा। शहर में कई वार्डों में कार्य हुए तो कई वार्ड ऐसे भी हैं जहां कार्य नहीं हुए। कई वार्डों में कुछ क्षेत्र में कार्य किये गये, लेकिन कुछ क्षेत्र ऐसे भी हैं जहां पर एक बार भी कोई कार्य नहीं हुआ। इन्हीं वार्डों में बात की जाये तो वार्ड-चार के भी कुछ ऐसे ही हालात है यहां पार्षद के अनुसार वार्ड में डूडा की ओर तीन करोड़ से अधिक के कार्य हुए हैं और नगर निगम के अलग, लेकिन यहां पीवीएस के पास आई ब्लॉक में अभी तक नाला बंद है जो खुल नहीं पाया है जिस कारण यहां हमेशा जाम की स्थिति है। कई हैंडपंप क्षेत्र में खराब हैं और सड़कों की भी हालत खराब हो चुकी है।

02 10

कार्यकाल खत्म होने को है और कई वार्डों में अभी भी न के बराबर ही कार्य हुए हैं। शेरगढ़ी वार्ड वार्ड-चार की बात की जाये तो यहां आज भी हालात पहले जैसे ही हैं। नालियों का निर्माण सही प्रकार से नहीं हो पाया है। इसके अलावा कई जगहों पर हैंडपंप खराब हैं और गर्मियों का सीजन शुरू होने वाला है इसके बावजूद यहां कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। क्षेत्र की सड़कों की स्थिति भी कुछ ठीक नहीं है। यहां सड़क हैं या गड्ढे कभी कभी लोगों के लिये पहचानना मुश्किल हो पाता है। जबकि यहां क्षेत्र के पार्षद की बात करें तो महिला पार्षद हैं और इससे पहले उनके पति यहां पार्षद थे। हालांकि क्षेत्र में कई कार्य हुए हैं, लेकिन अभी भी कई कार्यों की आवश्यकता है। क्षेत्र की जनता ही क्षेत्र की समस्याओं को कुछ इस प्रकार से बताया है।

पार्कों की हालत नहीं है ठीक

आई ब्लॉक निवासी रोहित रस्तोगी ने बताया कि एक ओर तो नगर निगम की ओर से पार्कों के सौंदर्यीकरण के दावे किये जा रहे हैं, लेकिन दूसरी ओर देखा जाये तो पार्कों की घास तक नगर निगम कर्मचारियों की ओर से साफ नहीं कराई जा रही है। क्षेत्र के आई ब्लॉक में पार्क की हालत बदतर है यहां बैंच टूटी पड़ी है। महीनों से पार्क में सफाई नहीं हुई जिस कारण यहां बच्चे भी खेलने के लिये आने से डरते हैं। इसके अलाव यहां जलभराव सबसे बड़ी समस्या है। नालियां चोक होने के कारण यहां जलभराव की स्थिति बनी रहती है।

सड़क बदहाल, गड्ढे ही गड्ढे

03 11

आई ब्लॉक निवासी राजा का कहना है कि यहां स्थित पीवीएस मॉल पूरे शहर की पहचान है, लेकिन यहां इसके ठीक पीछे के हाल देंखे तो पूरी तरह से हालात बदहाल हो चुके हैं। यहां सड़क पर कई कई फीट तक गड्ढ़े हुए हैं। जोकि अभी तक सही नहीं कराये गये हैं। सड़क बने अरसा बीत चुका है। सड़क पर कंकड़ फैली रहती है। जिस कारण यहां वाहन चालक फिसलकर गिर जाते हैं और चोटिल हो जाते हैं। क्षेत्रीय पार्षद को कई बार अवगत कराया गया।

भीषण गर्मी में सूख चुके हैंडपंप

क्षेत्रीय नागरिक विशाल रस्तोगी ने बताया कि क्षेत्र में कई हैंडपंप लगे हैं, लेकिन ज्यादातर की हालत खराब हो चुकी है। उनसे पानी आना बिल्कुल बंद हो चुका है। हैंडपंप खराब पड़े हैं उन्हें रिबोर कराने की आवश्यकता है, लेकिन उन्हें अभी तक ठीक नहीं कराया गया है। गर्मियां शुरू हो चुकी हैं ऐसे में पानी की किल्लत बनी रहती है। अगर हैंडपंप को ठीक नहीं कराया गया तो समस्या और अधिक बनी रहेगी। भीषण गर्मी में पेयजल की समस्या और भी अधिक गहरा जाएगी।

तीन करोड़ से अधिक के कराये कार्य

क्षेत्रीय पार्षद पति जगपाल ने बताया कि उन्होंने खुद पार्षद रहते भी यहां कई कार्य कराये थे। इस योजना में उनकी धर्मपत्नी पार्षद हैं और यहां उन्होंने केवल डूडा के माध्यम से ही करीब तीन करोड़ रुपये के कार्य कराये हैं। क्षेत्र में कुछ सड़कें ऐसी हैं, जिनका निर्माण नहीं हो सकता है। इसके लिये भी पत्र जारी किया था। इसका टेंडर भी जल्द होगा। पीवीएस के पास नाला बंद होने के कारण अधिक समस्या होती है। नगर निगम की ओर से भी लाखों के कार्य कराये हैं। क्षेत्र में हाल ही में 25 नये हैंडपंप लगवाये हैं और रिबोर भी कराये हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments