Wednesday, February 28, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutरास्ते पर समस्याएं अपार, कैसे हो उद्धार

रास्ते पर समस्याएं अपार, कैसे हो उद्धार

- Advertisement -
  • छतरी वाले पीर से ओडियन नाला तक सुदृर्ढ़ीकरण और सड़क निर्माण कार्य जल्द पूरे होने के नहीं दिख रहे आसार
  • लगभग दो साल से चल रहा कार्य, कार्यदायी संस्था अवैध अतिक्रमण को बता रही देरी का कारण

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: छतरी वाला पीर से लेकर ओडियन नाला छाप दिया गया हैं। यहां सड़क बनाने का कार्य लगभग दो साल से चल रहा है, लेकिन अभी तक इसके पूरे होने के आसार नजर नही आ रहे हैं। ऐसे में यहां कारोबार करने वाले और जिला अस्पताल में इलाज के लिये आने वाले लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उधर, कार्य पूरा न होने का बड़ा कारण अतिक्रमण को भी माना जा रहा है। साथ ही सड़क पर अधिकांश समय वाहनों की लंबी कतार भी परेशानी पैदा कर रही है।

करीब 1300 मीटर लंबे और डेढ़Þ मीटर चौड़े नाले का नये सिरे से निर्माण करने की कार्ययोजना को अमली जामा पहनाने का काम लगभग दो साल पहले शुरू हुआ था। पुराना नाला र्इंटों का बना था, जोकि खस्ताहाल था और इसमें जमा कूड़े के कारण यहां पानी की निकासी बाधित थी। सड़क पर पानी भर जाता था जो बड़ी समस्या पैदा कर रहा था। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए पुराने नाले का जीर्णोद्धार की जरूरत लंबे समय से महसूस की जा रही थी। नाले को बनाने के साथ ही बिजली के खंभे को सड़क के बीच में शिफ्ट करने और सड़क का निर्माण भी किया जाना था।

18 3

मौजूदा समय में नाले का निर्माण अभी अधूरा है, जिस करण सड़क निर्माण नहीं हो सका है। पिछले दो दिन से हो रही बारिश के कारण टूटी सड़क पर फैली मिट्टी कीचड़ में बदल गयी है। यही वजह है कि यहां से निकलना दुभर हो गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस मार्ग पर बड़ा डाकघर, जिला अस्पताल, घंटाघर बाजार तो है ही, साथ ही यह रास्ता नगर निगम, देहली गेट थाना होने के साथ ही यह मार्ग रेलवे रोड चौराहे और देहली रोड को जोड़ता है, जिस कारण इस पर सबसे ज्यादा आवाजाही होती है। ऐसे में इस मार्ग को जल्द से जल्द तैयार किया जाना बेहद जरूरी है।

ये है काम में रुकावट की वजह

जानकारों का कहना है कि नाले पर अतिक्रमण होने से इसके तेजी से निर्माण में बाधा आ रही थी, जिसे दूर करने में काफी समस्या का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही पोल शिफ्टिंग और अंडरग्राउंड वॉयरिंग में काफी समय लगा है। जानकारी मिली कि पोल शिफ्टिंग का काम तकरीबन दो हफ्ते पहले ही पूरा हो पाया है और नाला तैयार कर उसका काफी हिस्सा ढक दिया गया है। नाला सफाई के लिये स्थान चिन्हित कर वहां पर मेन हॉल बनाये गये हैं, जिससे कूडे को नियममित रूप से साफ किया जा सके ।

सड़क बनने का यह मिलेगा लाभ

नाला निर्माण के साथ ही सड़क निर्माण होने सेन्टर पोल शिफ्टिंग कर डिवाइडर बनने से सड़क पर यातायात सुगम होने की उम्मीद जताई गयी है। यहां रहने वाले इलियास, बिलाल और नौशाद ने बताया कि मार्ग पोल पर पथ प्रकाश व्यवस्था होने के बाद क्षेत्र को अंधेरे की समस्या से निजात मिलेगी और जन सुविधाओं में इजाफा होगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments