Saturday, May 21, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसरधना में कहीं हादसे का सबब न बन जाए ट्रांसफार्मर

सरधना में कहीं हादसे का सबब न बन जाए ट्रांसफार्मर

- Advertisement -
  • कमरानवाबान मोहल्ले में आबादी के बीच लगा ट्रांसफार्मर
  • आबादी के बीच लगा ट्रांसफार्मर हटवाने की मांग

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: कस्बे के कई स्थानों पर वर्षों पहले स्थापित किए गए बिजली ट्रांसफार्मर खुलेआम हादसों को दावत देते हुए दिखाई दे रहे हैं, जिस समय ये ट्रांसफार्मर स्थापित किया था। उस समय इनके आसपास रहवासी क्षेत्र नहीं हुआ करता था, लेकिन समय के साथ सघन आबादी बढ़ती गई और देखते ही देखते ट्रांसफार्मर रहवासी क्षेत्र में शामिल हो गए। अब यही रहवासियों के लिए परेशानी का सबब भी बन रहे हैं। विद्युत की बेहतर व्यवस्था को शहर से लेकर गांव तक हाइटेंशन लाइनों का जाल बिछा दिया गया। आपूर्ति की मांग को पूरा करने को जगह-जगह विद्युत ट्रांसफार्मर लगा दिए गए।

उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत व्यवस्था का लाभ तो मिला, पर दिनों दिन विस्तार से अब जिंदगियां मौत के मुहाने तक आ गई हैं। आशियाने बनाने की होड़ में लोगों ने अपने सिर पर मंडराती मौत से भी लोहा लेने की सोच ली। तमाम मोहल्लों में हजारों परिवार हाइटेंशन लाइनों के नीचे जिंदगी गुजार रहे, जबकि कदम कदम पर लोगों का मौत से सामना भी हो रहा है।

कमरानवाबान मोहल्ले में विद्युत आपूर्ति के लिए ट्रांसफार्मर आबादी के बीच लगा हुआ है। विद्युत लाइन मकानों के ऊपर से होकर गुजर रही है। जिससे हादसा होने की आशंका बनी रहती है। कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। लोगों ने विद्युत अधिकारियों से शीघ्र ट्रांसफार्मर आबादी से बाहर शिफ्ट कराने की मांग की। कमरानवाबान मोहल्ले में विद्युत आपूर्ति के लिए 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगा हुआ है। ट्रांसफार्मर दो खंभों पर आबादी के बीच लगा हुआ है।

हाइटेंशन लाइन मकानों के ऊपर से होकर गुजर रही है। जिससे यहां हादसा होने की आशंका बनी रहती है। आसपास बच्चे खेलते रहते हैं। जो ट्रांसफार्मर की चपेट में आ सकते हैं। आरोप है कि लगातार चक्कर काटने के बाद भी विद्युत अधिकारी ट्रांसफार्मर वहां से हटवाने को तैयार नहीं हैं। अधिकारियों की अनदेखी से कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। लोगों ने विद्युत अधिकारियों से ट्रांसफार्मर आबाद से बाहर सिफ्ट कराने की मांग की। कमरानवाबान मोहल्ले में अनगिनत ट्रांसफार्मर एवं जंक्शन बॉक्स के माध्यम से घरों तक बिजली पहुंचती है।

कुछ स्थानों को छोड़कर अधिकांश ट्रांसफार्मर सघन आबादी वाले क्षेत्र में स्थापित है। आए दिन तकनीकी समस्याओं के चलते ट्रांसफार्मर में फाल्ट भी होते रहते हैं और ट्रांसफार्मर के आसपास खुले तार भी रहते हैं। ऐसी दशा में पल-पल हादसों का अंदेशा बना रहता है। कमरानवाबान मोहल्ले में सड़क किनारे स्थापित ट्रांसफार्मर खुलेआम हादसों को आमंत्रित करता हुआ दिखाई देता है।

शहर को रोशन करने के लिए लगाए गए विद्युत ट्रांसफार्मर किसी दिन भी हादसों का सबब बन सकते हैं। खुले जंक्शन बॉक्स तथा ट्रांसफार्मरों में आए दिन इनमें फाल्ट होने की शिकायतें भी विद्युत कंपनी को मिलती रहती है, लेकिन फिर भी जिम्मेवार इस ओर कोई ध्यान देने को तैयार नहीं है।

विद्युत पोल भी बन सकते हैं हादसों का कारण

कस्बे में स्ट्रीट लाइट एवं घरेलू व्यावसायिक बिजली सप्लाई के लिए स्थापित किए गए विद्युत पोल भी कुछ स्थानों पर हादसों को आमंत्रित करते हुए नजर आ रहे हैं। हालांकि आंतरिक मार्गों पर तो स्थिति ठीक है, लेकिन मुख्य मार्गों पर दुर्घटना होने का अंदेशा बना रहता है। कमरानवाबान मोहल्ले में बीच मार्ग पर कई पोल सड़क के बीच लगाए गए हैं। इस मार्ग से प्रतिदिन सैकड़ों वाहनों की आवाजाही लगी रहती है। स्ट्रीट लाइट के लिए लगाए गए ये बिजली के पोल किसी दिन भी हादसे का सबब बन सकते हैं।

बच्चों की जान की भी नहीं परवाह

कस्बे में तो हाइटेंशन लाइनों के नीचे जिंदगी गुजारना अब लोगों की मजबूरी बन गई है, पर ग्रामीण क्षेत्र में जिम्मेदार लोगों को खुद ही मौत के साये में जिंदगी काटने को मजबूर कर रहे हैं, जिसमें बच्चों को भी नहीं बख्शा जा रहा। कमरानवाबान मोहल्ले में विद्युत विभाग की लापरवाही ने तो हद ही कर दी। पहले तो विभाग ने स्कूल के ऊपर से हाइटेंशन लाइन को निकाल दिया और साथ ही पड़ोस में ही ट्रांसफार्मर भी लगा दिया। ऐसे में स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की जान पर हर वक्त आफत बनी रहती है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments