Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसाइबर क्राइम पीड़ितों की ठगी राशि को रोकने का करें प्रयास

साइबर क्राइम पीड़ितों की ठगी राशि को रोकने का करें प्रयास

- Advertisement -
  • एसपी क्राइम ने ली साइबर हेल्प कर्मियों की बैठक कर दिये निर्देश

  • मेल आईडी का स्ट्रांग पासवर्ड बनाएं, अज्ञात लिंक

  • क्यूआर कोड और बार कोड का प्रयोग न करें

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: पुलिस अधीक्षक अपराध द्वारा जनपद के समस्त थानों पर नियुक्त साइबर हेल्प डेस्क कर्मियों की एक मीटिंग आयोजित गयी। जिसमें सभी कर्मचारियों को भारत सरकार द्वारा संचालित पोर्टल व हेल्पलाइन 1930 के बारे में समीक्षा कर दिशा-निर्देश दिये गये व साथ ही सभी के साइबर हेल्प डेस्क रजिस्टर चेक किये गये।

एसपी क्राइम ने रजिस्टर के सम्बन्ध में भी दिशा-निर्देश दिये गये कि यदि कोई भी साइबर क्राइम से पीड़ित व्यक्ति थाने पर आता है तो तत्काल जनपदीय साइबर क्राइम सेल से समन्वय स्थापित कर साइबर क्राइम पोर्टल व साइबर सेफ आदि का उपयोग करते हुए तत्काल पीड़ित व्यक्ति की ठगी गयी धनराशि को रोकने का प्रयास करेंगे तथा साइबर हेल्प डेस्क रजिस्टर में शिकायतकर्ता का विवरण अंकित करेंगे।

पीड़ित व्यक्ति को साइबर क्राइम से जागरूक करेंगे। प्रत्येक बुधवार को साइबर क्राइम को रोकने के लिये जागरूकता कार्यक्रम चलाकर वर्तमान परिवेश में बढ़ रहे साइबर क्राइम से बचाव के लिए सुझाव दिये जायेंगे। जैसे कि अपनी मेल आईडी का पासवर्ड स्ट्रांग रखे, किसी के साथ ओटीपी शेयर न करें, कोई लिंक, क्यूआर कोड, बारकोड आदि किसी अजनबी द्वारा भेजे जाने पर ओपन न करें।

फेसबुक इंस्टाग्राम, वाट्सएप पर सिक्योरिटी फीचर जैसे टू-स्टेप वेरिफिकेशन, प्रोफाइल लॉक रखे, व सिम्पल पासवर्ड, जैसे नाम या मोबाइल नम्बर न रखे, ओएलएक्स पर किसी बाइक, कार, मोबाइल, को सस्ते मे देखकर जब तक बेचने वाले व्यक्ति से न मिल ले कोई भी रुपये ट्रांसफर न करें। अज्ञात नम्बर से आने वाली वीडियो कॉल के एक्सैप्ट न करे। गूगल से कस्टमर केयर नंबर सर्च कर उससे बात न करे।

किसी अज्ञात के कहने मे आकर कोई भी सफ्टवेयर जैसे एनीडेस्क, क्वीक सपोर्ट, टीम व्यूवर आदि अपने मोबाइल में इंसटॉल न करें। बिजली कनेक्शन कटने का मैसेज देखकर या लॉटरी, टावर लगवाने के नाम पर किसी अज्ञात को कोई भी रुपए ट्रांसफर न करें। किसी भी अज्ञात को अपने एटीएम का पिन, सीवीवी आदि न बताये, यदि कोई आपका परिचित बनकर कॉल कर कहता है कि आपके अकाउंट में रुपये ट्रांसफर करने हैं तो उसकी बातों में न आये तथा किसी भी आॅनलाइन साइट पर कोई विज्ञापन देखकर आॅनलाइन जॉब के नाम पर कोई भी रुपये ट्रांसफर न करें आदि के सम्बन्ध में जागरूक करेंगे।

मोबाइल लुटेरे की पिटाई का वीडियो वायरल

मेरठ: लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र में आॅटो सवार एक महिला से मोबाइल लूट कर भाग रहे लुटेरे की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। जिसमें महिला लुटेरे पर तमाचों की बौछार करती नजर आ रही है। घटना एक दिन पहले की बताई जा रही है। न्यू इस्लामनगर निवासी फरजाना के मुताबिक वह अपने किसी काम से आॅटो में बैठकर अहमदनगर जा रही थी। इस दौरान उसके मोबाइल पर किसी की कॉल आई।

फरजाना मोबाइल पर बात करने लगी। इसी दौरान पीछे से आए बाइक सवार लुटेरे ने महिला के हाथ से मोबाइल लूट लिया। फरार हो रहे लुटेरे को भीड़ ने पीछा करके दबोच लिया। जिसके बाद सड़क चलते लोगों ने लुटेरे की जमकर पिटाई की। वहीं, गुस्साई महिला ने भी लुटेरे पर तमाचों की बौछार कर दी। लुटेरे ने अपना नाम अहमद नगर गली नंबर-13 निवासी रशीद बताया। उधर, मामले की जानकारी के बाद पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। घटना एक दिन पहले की बताई जा रही है। वहीं, लुटेरे की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments