Wednesday, January 19, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutउतार-चढ़ाव का सिलसिला जारी, 12 नए मरीज मिले

उतार-चढ़ाव का सिलसिला जारी, 12 नए मरीज मिले

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: डेंगू के मरीजों की संख्या धीरे-धीरे कम हो रही है। वहीं, डेंगू का डंक जिले में अभी पूरी तरह से थमा नहीं है। सोमवार को जिले में डेंगू के 12 नए मरीज मिले। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि अब तक जिले में 1550 डेंगू के मरीज मिल चुके हैैं। इनमें 220 डेंगू के सक्रिय मरीज हैं। वहीं, अस्पताल में भर्ती डेंगू मरीजों की संख्या 53 है।

घर पर इलाज ले रहे मरीजों की संख्या 167 है। अब तक डेंगू के 1330 मरीज रिकवर हो चुके हैं। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों की तुलना में शहरी क्षेत्र में डेंगू के सर्वाधिक केस मिल रहे हैं। जिले में डेंगू के नए मरीजों का सिलसिला अभी थम नहीं रहा है। चिकित्सकों का कहना है कि डेंगू का प्रकोप अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में डेंगू से सावधानी बरतना बेहद आवश्यक है।

घर के आसपास साफ-सफाई का ध्यान रखें। खाली पात्रों, बर्तनों एवं गमलों में पानी एकत्र न होने दें। घर से बाहर मास्क लगाकर ही निकलें। पूरी बाजू के कपड़े पहनें। इस वर्ष मौसम में बदलाव और देर तक हुई बरसात के कारण ही डेंगू अभी तक जिले में अपने पैर पसारे हुए है।

इस वर्ष डेंगू से कई लोगों की मौत हो गई। जिसके कारण जिले के लोगों में अब तक दहशत है। इस साल डेंगू के डंक का असर बहुत ही खतरनाक और जानलेवा रहा। हालांकि डेंगू के मरीजों की संख्या घटने से स्वास्थ्य विभाग ने राहत की सांस ली है।

पिछले दिनों पूरे जिले में डेंगू बुखार के कारण हाहाकार मचा हुआ था। डेंगू स्ट्रेन-2 ने कई लोगों पर हमला कर अपनी चपेट में ले लिया। उधर, स्वास्थ्य विभाग की ओर से डेंगू प्रभावित इलाकों में लगातार फागिंग कराई जा रही है।

जिला अस्पताल की ओपीडी में लगी मरीजों की कतार

मेरठ: मौसम में बदलाव के साथ ही नगर और आसपास के क्षेत्रों में वायरल बुखार, खांसी, जुकाम आदि के मरीजों की संख्या अस्पतालों की ओपीडी में बढ़ने लगी है। सोमवार को भी जिला अस्पताल में मरीजों की भारी भीड़ उमड़ी। वायरल बुखार से पीड़ित मरीज बड़ी संख्या में अस्पताल पहुंचे। किसी को सर्दी तो किसी मरीज को बुखार तथा जुकाम था।

इसके साथ ही काफी संख्या में बीमार बच्चे भी आए थे। वहीं, मरीजों की भीड़ के चलते सुबह से ही पर्ची काउंटर, ओपीडी कक्ष, दवा काउंटर, अल्ट्रासाउंड, एक्सरे, जांच कक्ष आदि में मरीजों की लंबी कतार लगी रही। जिसके चलते मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

किसी की गोद में बच्चा था तो किसी की अंगुली पकड़कर बच्चा खड़ा था। मरीजों को घंटों लाइन में दवा काउंटर एवं पर्चा काउंटर पर अपनी बारी का इंतजार करना पड़ा। उधर, मौसम में बदलाव के कारण चिकित्सकों ने वायरल आदि से बचाव के लिए मरीजों से एहतियात बरतने की अपील की है।

वायरल, सर्दी जुकाम, खांसी एवं डेंगू संक्रमण से बचने के लिए भर से मास्क पहन कर निकलने और भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने की सलाह दी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments