Monday, March 8, 2021
Advertisment Booking
Home Uttar Pradesh News Meerut जाम बना नासूर, धीरे-धीरे रेंग रहे वाहन

जाम बना नासूर, धीरे-धीरे रेंग रहे वाहन

- Advertisement -
0

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: शहर में रोजाना लग रहा जाम आमजन के लिए नासूर बनता जा रहा है। जाम के कारण वाहन धीरे-धीरे रेंगने को मजबूर हो रहे है। बेगमपुल समेत दिल्ली रोड पर जगह-जगह रैपिड ट्रेन की लाइन बिछाने को लेकर तेजी से कार्य किया जा रहा है। जिस कारण दिल्ली मार्ग पर दिनभर जाम के कारण वाहन धीरे-धीरे रेंगते रहते है।

हालांकि ट्रैफिक पुलिस की अनदेखी के चलते आने वाले दिनों में जाम की यह स्थिति और भी अधिक भीषण हो सकती है। वहीं मेवला फाटक के नीचे जाने वाले मार्ग को भी बंद किए जाने से दिनभर मेट्रो प्लाजा से मेवला फाटक तक जाम की स्थिति बनी रही।

शहर में इस वक्त रैपिड ट्रेन की लाइन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। जिस कारण जीरो माइल से बेगमपुल तक एक तरफ के मार्ग पर जगह-जगह खुदाई की जा रही है। जिस कारण यहां दिनभर जाम की स्थिति बनी रहती है। वहीं शहर के भीतरी इलाके में सीवर लाइन बिछाने को लेकर अधिकांश वाहन मुख्य मार्गों से ही होकर अपने गंतव्य तक पहुंच रहे है।

यदि बात बेगमपुल, घंटाघर चौराहा, मेट्रो प्लाजा, बहादुर मोटर्स व सब्जी मंडी गेट के सामने की करें तो यहां दिनभर जाम लगा रहता है। हालांकि इन जगहों पर ट्रैफिक पुलिस भी तैनात रहती है, लेकिन वह यातायात व्यवस्था बनाने में नाकाम ही रहते है। वहीं शहर में बिगड़ रही यातायात व्यवस्था को लेकर ट्रैफिक पुलिस के पास भी अभी तक कोई प्लान नहीं है। ट्रैफिक पुलिस की यह अनदेखी आमजन के लिए नासूर बनती जा रही है।

रैपिड ट्रेन की लाइन बिछाने का तेजी से किया जा रहा काम

शहर में रैपिड ट्रेन बिछाने का काम तेजी से किया जा रहा है। हालांकि ज्यादातर काम रात के समय में किया जाता है। ताकि दिन में काम करते समय किसी को कोई परेशानी न हो, लेकिन रैपिड ट्रेन की लाइन बिछाने के लिए किए जा रहे कार्य को लेकर जीरो माइल से मेवला फाटक तक जगह-जगह काम किया जा रहा है। जिस कारण यह मार्ग अवरुद्ध है। वहीं बागपत रोड पर भी सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। जिसके चलते इस मार्ग पर भी दिनभर जाम की स्थिति बन रही है।

स्कूल खुलने से अब सड़कों पर बढ़ गई वाहनों की संख्या

कोरोना महामारी के चलते 10 माह से स्कूल बंद चल रहे थे। हालांकि अब सरकार ने सभी स्कूलों को नियमों के तहत खोलने की अनुमति दे दी है। जिस कारण अब कक्षा छह से आठवीं तक के सभी स्कूल खुल गए है। स्कूलों के खुलने से अब सड़कों पर वाहनों की संख्या बढ़ गई है।

जिसके चलते अब शहर में स्कूल खुलने व छुट्टी होने के समय जाम की स्थिति भयावह होने की संभावना है। ऐसे में यदि ट्रैफिक पुलिस ने यातायात व्यवस्था को लेकर कोई प्लान नहीं बनाया तो शहर में लगने वाला यह जाम आमजन के लिए आफत बनकर रह जाएगा।

मेवला फाटक के नीचे जाने वाला एक तरफ का रास्ता किया बंद

रैपिड ट्रेन की लाइन बिछाने वाली आरआरटीएस कंपनी ने मेट्रो प्लाजा से दिल्ली की ओर जाने वाले मेवला फाटक के नीचे का रास्ता भी बंद कर दिया है। जिस कारण अब मेवला फाटक के नीचे से नूरनगर मार्ग पर जाने वाले लोगों को अन्य मार्ग से घूमकर अपने गंतव्य तक पहुंचना पड़ रहा है।

वहीं शहर से मंडी में जाने वाले लोगों को भी मेवला फ्लाईओवर को पार कर दूसरे मार्ग से आना पड़ रहा है। जिस कारण अब सब्जी मंडी गेट के सामने भी दिनभर जाम की स्थिति बनी रहती है। यही नहीं सुबह के समय जब मंडी में किसान अपनी फसल लेकर पहुंचते है तो उस समय जाम की स्थिति भयावह हो जाती है।

शहर में प्रतिदिन लग रहे जाम से आमजन को निजात दिलाने के लिए जल्द ही प्लान तैयार किया जाएगा। जिसके लिए अन्य विभागों के अधिकारियों से बात की जा रही है। जल्द ही इस समस्या का समाधान किया जाएगा।
-जितेंद्र श्रीवास्तव, एसपी ट्रैफिक।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments