Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWS5 जनवरी को आएगी मतदाता सूची, हर 1250 वोटरों पर होगा मतदान...

5 जनवरी को आएगी मतदाता सूची, हर 1250 वोटरों पर होगा मतदान केंद्र

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: अगले साल पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग ने आज प्रेस कांफ्रेंस की। इस दौरान चुनाव आयोग ने कहा कि सभी राजनीतिक दल समय पर चुनाव के लिए तैयार हैं, हालांकि कुछ पार्टियां रैली के विरोध में है। चुनाव आयोग ने कहा कि कोरोना दिशानिर्देश का पूरा पालन किया जाएगा।

हमने ओमिक्रॉन को लेकर भी समीक्षा की है। चुनाव आयोग ने कहा कि कोरोना को देखते हुए 1500 लोगों पर एक बूथ को घटाकर 1250 लोगों पर एक बूथ कर दिया गया है। इससे 11 हजार बूथ बढ़े हैं। इसके अलावा चुनाव आयोग ने कहा कि मतदाता सूची 5 जनवरी को आएगी। अब तक 15 करोड़ से ज्यादा मतदाता पंजीकृत हैं। नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख तक भी मतदाता सूची में अपने नाम को लेकर दावे-आपत्ति बता सकते हैं।

कोरोना को देखते हुए 1500 लोगों पर एक बूथ को घटाकर 1250 लोगों पर किया गया

कोरोना को देखते हुए 1500 लोगों पर एक बूथ को घटाकर 1250 लोगों पर एक बूथ कर दिया गया है। इससे 11 हजार बूथ बढ़े हैं। हर पोलिंग बूथ पर पानी, बिजली और शौचालय की व्यवस्था होगी। दिव्यांगों के लिए व्हीलचेयर और रैंप की व्यवस्था होगी।

800 पोलिंग स्टेशन ऐसे बनाए जाएंगे जहां सिर्फ महिला पोलिंग अधिकारी होंगे

कम से कम 800 पोलिंग स्टेशन ऐसे बनाए जाएंगे जहां सिर्फ महिला पोलिंग अधिकारी होंगे। मतदाता एपिक कार्ड के अलावा 11 अन्य दस्तावेज दिखाकर वोटर वोट डाल सकता है। इसमें पैन कार्ड, आधार कार्ड, मनरेगा कार्ड जैसे दस्तावेज शामिल हैं।

कुछ प्रतिनिधियों ने प्रशासन के पक्षपाती रवैये के बारे में शिकायत की

चुनाव आयोग ने कहा कि कुछ प्रतिनिधियों ने प्रशासन के पक्षपाती रवैये के बारे में शिकायत की। पुलिस द्वारा रैलियों पर अनुचित प्रतिबंध लगाने का आरोप लगाया। अधिकतर राजनीतिक दलों ने प्रचार के दौरान धनबल, शराब और मतदाताओं को मुफ्त चीजें दिए जाने पर चिंता जताई है। इन मुद्दों से आयोग अवगत है।

पांच जनवरी को अंतिम मतदाता सूची प्रकाशित की जाएगी

चुनाव आयोग ने कहा कि मतदाता पंजीकरण का कार्यक्रम भी चल रहा है। उस पर काफी मेहनत हुई है। 5 जनवरी को अंतिम मतदाता सूची प्रकाशित की जाएगी। अब तक 15 करोड़ से ज्यादा मतदाता पंजीकृत हैं।  नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख तक भी मतदाता सूची में अपने नाम को लेकर दावे-आपत्ति बता सकते हैं।

23.9 लाख पुरुष और 28.8 लाख महिला मतदाता हैं। 52.8 लाख नए मतदाता जुड़े हैं। इनमें 19.89 लाख युवा मतदाता हैं यानी इनकी उम्र 18-19 साल हैं। चुनाव आयोग ने कहा कि  2017 में लिंगानुपात 839 था यानी एक हजार पुरुषों पर 839 महिला वोटर थीं। इस बार यह बढ़कर 868 हो गया है। उत्तर प्रदेश में इस वक्त 10 लाख 64 हजार 267 दिव्यांग मतदाता हैं।

पार्टियां घनी आबादी वाले इलाके में बूथ के खिलाफ

चुनाव आयोग ने कहा कि लगभग पार्टियां घनी आबादी वाले इलाके में बूथ नहीं चाहते हैं, ताकि कोरोना दिशानिर्देश का उल्लंघन न हो।

सभी राजनीतिक दल समय पर चुनाव चाहते हैं: चुनाव आयोग

राजनीतिक दलों से चर्चा के बाद सभी एसपी, डीआईजी, कमिश्ननर से मिलकर हालात का जायजा लिया गया। इसके बाद सभी नोडल अधिकारियों से चर्चा की गई। सबसे अंत में मुख्य सचिव, डीजीपी और अन्य अधिकारियों से बातचीत की। सभी दलों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए निश्चित समय पर चुनाव कराने की मांग की। कुछ दलों ने कोविड प्रोटोकॉल के बिना पालन किए होने वाली रैलियों पर चिंता जताई।

चुनाव आयोग की प्रेस कांफ्रेंस शुरू
चुनाव आयोग की प्रेस कांफ्रेंस शुरू हो गई है। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हमने तमाम राजनीतिक पार्टियों से बात की है और सुझाव लिए हैं। हमारी कोशिश रहेगी कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी हो।

चुनाव आयोग आज दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकता है। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में 2022 के शुरू में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर अहम ऐलान हो सकता है।  कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चुनाव टलेंगे या निश्चित समय पर होंगे इसके बारे में आज घोषणा हो सकती है।

कोरोना के नए वैरिएंट को देखते हुए बीते गुरुवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग को सलाह दी थी कि आगामी यूपी चुनाव टाल दिए जाएं और चुनावी रैलियों पर बैन लगे। इसके बाद चुनाव आयोग ने हालात का जायजा लेने के बाद कुछ फैसला लेने की बात कही थी।

सपा ने किसानों का मुद्दा उठाया, भाजपा पर निशाना

समाजवादी पार्टी ने किसानों का मुद्दा उठाया। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए पार्टी ने लिखा, ‘भाजपा सरकार में खाद संकट से ग्रस्त प्रदेश के किसानों को मिलेगी निजात, जब बाईस में बनेगी सपा सरकार। “डबल इंजन” ने अन्नदाता को न सिर्फ महंगाई, वादाखिलाफी से मारा बल्कि यूरिया के लिए भी तरसाया, रायबरेली में 4.5 लाख किसान बेहाल। किसानों के दुख, तकलीफ और BJP सरकार के “दिन है बचे चार’।

कांग्रेस का पीएम पर वार

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वार किया। गुरुवार को ट्विट कर कांग्रेस ने कहा, ‘स्वनामधन्य फकीर ने अपने लिए आठ-आठ हजार करोड़ के विमान खरीदे। उनके मित्र हर दिन हजार करोड़ कमा रहे हैं। इसकी कीमत किसने चुकाई? पिछले एक साल में 23 करोड़ देशवासी गरीबी रेखा से नीचे चले गए।’

अनुराग ठाकुर बोले- पिछली बार से ज्यादा सीट जीतेगी भाजपा

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने दावा किया है कि भाजपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पिछले विधानसभा चुनावों की तुलना में ज्यादा सीटें जीतेगी। किसानों के प्रदर्शन का जनभावना पर कोई असर नहीं पड़ेगा। भाजपा के उत्तर प्रदेश चुनाव के सह-प्रभारी अनुराग ठाकुर ने विश्वास व्यक्त किया कि पार्टी, योगी आदित्यनाथ सरकार के तहत गुंडाराज के खिलाफ कार्रवाई, अभूतपूर्व विकास और जन कल्याणकारी योजनाओं के कारण बनी सकारात्मक जन भावना के दम पर 300 से अधिक सीटों के साथ सत्ता में वापसी करेगी।

प्रियंका ने कहा- वाल्मीकि समाज पर हो रहा अत्याचार

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने कहा है कि वाल्मीकि समाज पर अत्याचार हो रहे हैं। हाथरस कांड और अरुण वाल्मीकि हत्याकांड के बाद वाल्मीकि समाज अपनी लड़ाई खुद लड़ेगा। समाज के एक व्यक्ति को टिकट कांग्रेस देगी। बुधवार को आगरा में प्रियंका गांधी ने वाल्मीकि समाज के तख्त चौधरियों से 30 मिनट तक संवाद किया। उन्होंने हाथरस में वाल्मीकि परिवार की युवती और आगरा में अरुण नरवार की हत्या की घटनाओं को चिंतनीय बताया। कहा कि वाल्मीकि समाज को अपनी लड़ाई खुद लड़नी होगी। वादा किया कि पार्टी आगरा में एक विधानसभा सीट पर वाल्मीकि समाज के व्यक्ति को कांग्रेस टिकट देगी। समाज के प्रमुख लोग खुद अपना प्रत्याशी तय कर लें, पार्टी उसे अपना उम्मीदवार बना देगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments