Tuesday, May 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutहस्तिनापुर में अलसुबह युवक की गोली मारकर हत्या

हस्तिनापुर में अलसुबह युवक की गोली मारकर हत्या

- Advertisement -
  • नामजदों की गिरफ्तारी होने तक परिजनों का अंतिम संस्कार से इनकार
  • गुरुद्वारे के सामने अलाव जलाकर सेक रहा था हाथ, बाइक पर आए थे हमलावर
  • चुनावी रंजिश के चलते हत्या, परिजनों ने तीन को किया नामजद, दो अज्ञात, गिरफ्तारी हो पहले

जनवाणी संवाददाता |

हस्तिनापुर: हस्तिनापुर के किशनपुर में गुरुद्वारा के बाहर अलाव जलाकर बैठे एक युवक की बाइक सवार हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या की इस वारदात से जहां परिवार में कोहराम मचा है, वहीं दूसरी ओर गांव में हड़कंप मचा है। हत्या का कारण चुनावी रंजिश माना जा रहा है। वारदात की सूचना पर सीओ मवाना व थाना पुलिस मौके पर पहुंच गए। विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम घटनास्थल पर पहुंची और प्रांगण परिसर में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाली। पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया गया है।

19 5

धर्मनगरी हस्तिनापुर में बदमाशों के हौसले लगातार बुलंद है। बदमाश पुलिस को चुनौती देकर लगातार घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। शनिवार देर रात किशनपुर में गुरुद्वारा के बाहर तीरथ पुत्र सरदार प्रभु सिंह गांव के अन्य युवकों के साथ अलाव जलाकर बैठा था। उस दौरान बाइक सवार हमलावरों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जाता है कि युवक तीरथ पुत्र प्रभु सिंह की मौत तो मौके पर ही हो गयी थी, लेकिन इस घटना की जानकारी परिजनों को सुबह मिली।

18 6

तीरथ की मौत की जानकारी मिलने पर रोते बिलखते परिजन वारदात वाली जगह पर पहुंचे। हत्या की सूचना पर पुलिस में भी हड़कंप मच गया। आनन-फानन में एसपी देहात कमलेश बहादुर सिंह व सीओ मवाना सौरभ सिंह तथा हस्तिनापुर समेत कई थानों की पुलिस भी वहां पहुंच गयी। घटना को लेकर गांव के एक पक्ष में तनाव है। माना जा रहा है कि चुनावी रंजिश के चलते यह हत्या की गयी है।

तहरीर में तीन नामजद दो अज्ञात

मृतक के पिता प्रभु सिंह ने थाने पर मनप्रीत, परमजीत सिंह, कुलदीप व प्रेम सिंह के साथ दो अन्य लोगों को नामजद करते हुए हत्या का मुकदमा पंजीकृत कराया। ग्रामीणों और परिजनों का कहना है कि नामजद हत्या आरोपियों की गिरफ्तारी तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जायेगा। हालांकि पोस्टमार्टम के बाद तीरथ का शव गांव में पहुंच गया है। मौके पर भारी पुलिस फोर्स व पूरा गांव जमा है।

17 8

अधिकारी समझाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन परिजनों ने दो टूक कह दिया है कि जब तक हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती तब तक अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। वहीं, दूसरी ओर सीओ सौरभ सिंह ने बताया कि नामजद किए हत्यारोपियों की धरपकड़ के लिए कई टीमें गठित कर दी गयी हैं। शीघ्र ही हत्यारों को गिरफ्तार लिया जाएगा। परिजनों से अंतिम संस्कार का दिए जाने का आग्रह किया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments