Wednesday, February 28, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutयूपी बोर्ड परीक्षा केंद्रों पर लगाए 4000 कैमरे, ट्रायल होना बाकी

यूपी बोर्ड परीक्षा केंद्रों पर लगाए 4000 कैमरे, ट्रायल होना बाकी

- Advertisement -
  • इंटरमीडिएट में विज्ञान वर्ग के लिए 100 अंक की लिखित परीक्षाएं होंगी
  • होम साइंस वर्ग के परीक्षार्थियों को 70 अंक की लिखित एवं 30 अंक की आंतरिक परीक्षाएं सम्मिलित
  • अगले साल से एनईपी के तहत इंटरमीडिएट की परीक्षा होगी केवल बोर्ड परीक्षा

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: माध्यमिक शिक्षा परिषद ने आगामी 22 फरवरी से बोर्ड परीक्षा करने के लिए बीते दिनों पहले परीक्षा कार्यक्रम घोषित कर दिया है। बोर्ड परीक्षा को लेकर तैयारियां बड़े जोर शोर से चल रही हैं। इस बार परिषद ने बोर्ड परीक्षा को नकलवहीन एवं पारदिर्शाता से करने के लिए जिले में 102 परीक्षा केंद्रों पर 4 हजार कैमरे लगवाए हैं। जिसका निगरानी जीआईसी में बनाए गए कंट्रोल रूम से होगी।

जिला विद्यालय निरीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि आगामी बोर्ड परीक्षा को नकलवहीन एवं पारदिर्शाता से संपन्न कराने के लिए जिले के 102 परीक्षा केंद्रों पर करीब 4 हजार कैमरे लगाए गए हैं। जिसकी तैयारी लगभग पूर्ण कर ली गई हैं। फिलहाल जानकारी के अनुसार तीन से चार परीक्षा केंद्रों पर जल्द कैमरे लगाना बाकी है। ऐेसे परीक्षा केंद्रों को कार्य में तेजी लाने के दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं।

बताया कि इस बार जिले भर में परीक्षा केंद्रों पर 44 सौ परीक्षकों की तैनाती की गई है। जिसका डाटा परीषद को भेजा जा चुका है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जारी परीक्षा कार्यक्रम में कई खामियां हैं। जिसमें विभाग को आपत्तियां मिली है। जिसके चलते परीषद द्वारा आगामी परीक्षा कार्यक्रम में कुछ संशोधन किया जा सकता है। जिसकी जानकारी विभाग द्वारा जारी की जाएगी।

हाईस्कूल में 20 अंक बहुविकल्पीय होंगे

माध्यमिक शिक्षा परिषद के आदेशानुसार बीते साल हाईस्कूल की परीक्षा नई शिक्षा निति के तहत कराई गई थी। इस बार भी उक्त परीक्षा नई शिक्षा निति के तहत होगी। जिसमें 20 अंक बहुविकल्पीय होंगे और 70 अंक की लिखित परीक्षा होगी। वहीं, 30 अंक के प्रैक्टिकल विद्यालय स्तर पर कराए जाएंगे।

29 2

इंटर विज्ञान वर्ग में 100 अंक की लिखित परीक्षा

विभागीय अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार इस बार इंटरमीडिएट की परीक्षा में एनईपी की लागू नहीं होगी। इसके चलते विज्ञान वर्ग के परीक्षार्थियों को 100 अंक की लिखित परीक्षा देनी होगी। इसके अलावा होम साइस व जीव विज्ञान के परीक्षार्थियों को 70 अंक की लिखित परीक्षा और 30 अंक की प्रैक्टिकल देने अनिवार्य होंगे।

वर्ष 2025 से एनईपी के तहत इंटरमीडिएट में होगी परीक्षा

अगले साल से माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा इंटरमीडिएट की परीक्षाएं एनईपी-2020 के तहत कराई जाएगी। जिसके तहत परीक्षार्थियों को कुछ प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे और कुछ प्रश्न लिखित रूप में लिए जाएंगे। इसके साथ साथ व्यावसायकि कोर्स को भी नई शिक्षा निति के तहत लागू किया जाएगा।

इससे पढ़ाई के साथ साथ परीक्षार्थियों को रोजगार के अवसर भी मिल सकेंगे। इसके अलावा अगले साल से इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों को साल में दो बार बोर्ड परीक्षा देना प्रस्तावित माना जा रहा है। हालांकि, इस पर अभी परिषद की मंशा साफ होनी बाकी है।

जीआईसी कंट्रोल रूम में ट्रायल संभावित

विभागीय कर्मचारियों से मिली जानकारी के अनुसार सभी परीक्षा केंद्रों पर कैमरों का कार्य पूर्ण होने के बाद जल्द जीआईसी में बनाए गए कंट्रोल रूम में ट्रायल किया जाएगा। फिलहाल, एक से दो दिनों के भीतर जीआईसी में उच्चाधिकारियों की मौजूदगी में इसका कंट्रोल रूम में ट्रायल किया जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments