Monday, November 29, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutयुवक की हत्या कर शव गून में फेंका, पत्नी हिरासत में

युवक की हत्या कर शव गून में फेंका, पत्नी हिरासत में

- Advertisement -
  • खड़खड़ी निवासी युवक से अवैध संबंध है पत्नी के
  • मरने वाले युवक के शव की शिनाख्त बिजरौल के अरुण के रूप में हुई
  • मृतक के पिता ने कराई थी बड़ौत में गुमशुदगी

जनवाणी संवाददाता |

परतापुर: इलाके में अपराधिक घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। जहां रोज मोबाइल, पर्स लूट और चोरी जैसी घटनाओं से लोग परेशान हैं, वहीं सोमवार दोपहर पुलिस को खुली चुनौती देते हुए दिनदहाड़े काली स्कार्पियो सवार बदमाश एक व्यक्ति की कनपटी पर गोली चलाकर हत्या कर दी तथा शव काजमाबाद गून गांव की सड़क किनारे फेंक गए। बाद में शव की शिनाख्त बिजरौल (बागपत) निवासी अरुण तोमर के रूप में हुई।

अरुण का घर से ही रात्रि में कुछ बदमाश अपहरण कर ले गए थे, जिसके बाद उसकी हत्या कर दी। हत्या के मामले में अरुण की पत्नी को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इस पूरी घटना के पीछे अरुण की पत्नी का हाथ होना बताया जा रहा है। पुलिस पूछताछ में अरुण की पत्नी ने पति की हत्या कराने की बात स्वीकार की है। पुलिस उसके प्रेमी की तलाश कर
रही है।

दोपहर दो बजे के करीब काले रंग की स्कार्पियो काजमाबाद गून मार्ग पर चक्कर लगाने लगी। जब सड़क सुनसान हो गई तो उसमें सवार बदमाशों ने गाड़ी से एक युवक का शव निकाल कर सतवीर की ट्यूबवेल के पास सड़क किनारे फेंक कर फरार हो गए। तभी कुछ ग्रामीण वहां से निकले और शव देखकर शोर मचा दिया। थोड़ी देर में काफी सख्यां में ग्रामीण एकत्र हो गए और परतापुर पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि काली स्कार्पियो पांच मिनट तक इधर से उधर दौड़ती रही और मौका देखकर वह अज्ञात शव को फेंंक कर चली गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही मौके पर पहुंचे एएसपी विवेक कुमार ने आसपास में लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। बाद में पहुंची विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। इंस्पेक्टर परतापुर ने बताया कि बिजरौल (बागपत) के युवक अरुण उर्फ बिट्टू पुत्र ऋषिपाल की हत्या करने के बाद स्कोपिर्यो सवार बदमाश शव फेंक यहां फेंक गए हैं। मरने वाले अरुण तोमर के पिता प्राइमरी स्कूल के अध्यापक रहे हैं, वर्तमान में सेवानिवृत्त हैं। इस युवक की गुमशुदगी रविवार को बड़ौत थाने में पिता ने दर्ज कराई थी।

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि अरुण की पत्नी अमीषा से जब बात की गई तो पहले उसने कई तथ्य छुपाये। जबकि उसके कमरे में शराब की बोतल और गिलास मिले थे। अरुण के बुजुर्ग माता पिता ने बहू अमीषा से पूछा तो उसने नहीं बताया लेकिन जब यह पता लगा कि एक युवक घर में आया था। इसके बाद अरुण की गुमशुदगी बड़ौत थाने में दर्ज कराई गई।

मेरठ पुलिस के वायरलेस से खुला राज

एसपी सिटी ने बताया कि अज्ञात शव की सूचना मिलते ही इसे वायरलेस पर फ्लैश कर दिया गया। बागपत पुलिस ने संपर्क किया तो उनको मृतक की फोटो दिखाई गई। इसके बाद मृतक की शिनाख्त हो गई।

मृतक की बहन हुई उग्र

जिस वक्त पुलिस बिजरौल में मृतक के घर पूछताछ करने गई तो मृतक की बहन ने कहा कि भाभी से पूछो कि घर में कौन आया था। पहले पत्नी कुछ नहीं बोली, लेकिन बाद में सख्ती होने पर उसने कहा कि वो खड़खड़ी निवासी नागेन्द्र से प्यार करती है। नागेन्द्र ही बहाने से अरुण को अपनी स्कार्पियों से लेकर गया था। आरोप है कि संभवत उसने ही अरुण के चेहरे पर गोली मारकर हत्या की हो।

मेरठ पुलिस में हड़कंप

जिस तरह से काजमाबाद गून में स्कार्पियो से हत्या के बाद शव को फेंका गया था इससे पुलिस में हड़कंप मच गया था। पुलिस अधिकारी यह मानकर चल रहे थे कि चालक की हत्या करके गाड़ी को लूट कर ले जाया गया है। अब मेरठ पुलिस ने सिर्फ मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम कराया है। बाकी विवेचना बागपत में होगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments