Tuesday, October 19, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttarakhand NewsRoorkeeकेंद्रीय विद्यालय में पूर्व छात्रों ने स्कूली दिनों की याद ताजा की

केंद्रीय विद्यालय में पूर्व छात्रों ने स्कूली दिनों की याद ताजा की

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

रुड़की: केंद्रीय विद्यालय क्रमांक एक में पूर्व छात्र सम्मलेन-2020 का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न जगहों के विद्यालयों से करीब 120 पूर्व छात्रों ने भाग लिया। कार्यक्रम का आयोजन पूर्व छात्र संगठन ने किया।
शनिवार को हुए कार्यक्रम में मुख्य अतिथि शहर विधायक प्रदीप बत्रा रहे।

समिति के सदस्यों का परिचय देते हुए नीलम सिंह ने बताया कि समिति के अध्यक्ष ब्रिजेश कुमार त्यागी, उपाध्यक्ष नीलम सिंह, महासचिव प्रभाकर पन्त, वरिष्ठ संयोजक अश्विनी भारद्वाज, सचिव सौरभ त्यागी, उपसचिव विक्रांत दत्त, मुख्य ऑडिटर योगेश गोयल तथा कोषाध्यक्ष विजय चौहान को बनाया गया है।

स्कूल के दिनों की याद ताजा करते हुए बैच 1977 में पास हुए पूर्व छात्र समिति के अध्यक्ष ब्रिजेश कुमार त्यागी ने बताया कि इस समिति का मुख्य उदेश्य पूर्व छात्रों द्वारा मिलकर अपने विद्यालय के वर्तमान छात्रों को करियर तथा अन्य क्षेत्रों से संबंधित दिशा-निर्देश तथा मदद पहुचाना है। विद्यालय की गरिमा को उच्च शिखर तक पहुंचाने वाले पूर्व छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया।

इनमें प्रोफेसर मुकुट लाल शर्मा, डीएस डब्लू, डॉ. आनंद गोस्वामी, डॉ. गोविन्द सिंह देवडी, युगल किशोर पंत आदि थे। पूर्व तथा वर्तमान छात्रों तनूजा अधिकारी, आयुषी सैनी, निकिता रावत, नीतू नेगी, अक्षिता सैनी, प्रीति कुमारी, आयुष कुमार अनोश चार्ली, अरुण त्यागी द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। विद्यालय के शैक्षणिक तथा पाठ्य सहगामी गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्रों गार्गी अंथवाल, अपूर्व त्यागी, अंजलि दत्ता, तनु राय, साहिबा, कोमल को शैक्षणिक क्षेत्र में तथा हिमांशु, तौहिद को सामाजिक क्रियाकलाप के लिए तथा शालिनी, जिया कश्यप एवं देवांश को पेंटिग्स के लिए सम्मानित किया गया।

सेवानिवृत पूर्व शिक्षक फूल सिंह को शॉल देकर सम्मानित किया गया। अमरदीप सहायक अनुभाग अधिकारी को उनकी सेवानिवृत्ति के अवसर पर सम्मान पत्र तथा शॉल देकर सम्मानित किया गया। प्राचार्य वीके त्यागी ने कहा कि पूर्व छात्र सम्मलेन की परम्परा एक बेहतर शुरुआत है।

जिससे व्यक्ति अपने छात्र जीवन की खट्टी-मीठी यादों के साथ जीवंत रहता है। उपप्राचार्या अंजू सिंह ने कहा कि छात्र सम्मलेन का होना पूर्व छात्रों का विद्यालय से लगाव दर्शाता है। व्यक्ति कुछ समय के लिए अपने बचपन को फिर से जीता है। कार्यक्रम का संचालन गार्गी अंथवाल और रश्मि ने किया। इस अवसर पर ऋषि चौरसिया, पूनम कुमारी, बीना कर्णाटक, प्रवेश कुमार तथा राखी दायमा उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments