Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमांगी मजदूरी तो मिली मौत

मांगी मजदूरी तो मिली मौत

- Advertisement -
  • हैवानियत: पहले गोली मारी, फिर रस्सी से बांधकर लटका दिया पेड़ पर

जनवाणी संवाददाता |

परीक्षितगढ़: मतलबी दुनिया में आदमी की जिंदगी की कोई अहमियत नहीं रह गई है। जिले में अपराध की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं। अपराधियों में पुलिस का खौफ समाप्त हो चुका है। तभी तो वे बेखौफ होकर घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। दिनभर मजदूरी करने के बाद मजदूर को अपनी कमाई की रकम मांगनी उस वक्त महंगी पड़ गई, जब मालिक द्वारा इस एवज में मजदूर की जमकर पिटाई कर दी गई। जिससे मजदूर की मौत हो गई।

क्षेत्र के धनपुरा गांव में मजदूरी के पैसे मांगे तो दबंगों ने खेत में ले जाकर उसको गोली मार दी। इससे भी जब दिल नहीं भरा तो पेड़ पर लटकाकर उसको फांसी लगा दी। इसको लेकर गांव में जमकर बवाल हुआ। वहीं, दूसरी ओर इस मामले में कार्रवाई को लेकर पुलिस पर भी गंभीर सवाल उठ रहे हैं। उधर, हंगामे के बाद फोरेंसिंक टीम भी मौके पर पहुंची है और साक्ष्य जुटा रही है।

21 26

थाना इंचौली के गांव साधारणपुर निवासी इंदू शेखर (48) पुत्र त्रिरखा सिंह राजमिस्त्री का कार्य करता था। इंदू शेखर पिछले एक वर्ष से गांव धनपुरा निवासी किसान विजयपाल के यहां मकान का निर्माण कर रहा था। बुधवार सुबह करीब आठ बजे ठेकेदार इंदू शेखर मजदूरों के साथ विजयपाल के घर पहुंचा और मकान निर्माण का कार्य करने लगा। करीब दो बजे मकान मालिक विजयपाल ठेकेदार को एक साल का हिसाब देने के बहाने अपने साथ खेत पर ले जाकर इंदू शेखर के बाएं पैर में गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया था।

बाद में साथियों के साथ मिलकर बाग में जामुन के पेड़ में रस्से से फांसी लगाकर उसकी हत्या कर दी। देर शाम तक भी ठेकेदार जब घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने ग्रामीणों के साथ तलाश करते हुए थाना इंचौली पहुंचे और थाना प्रभारी से घटना की जानकारी देते हुए कार्रवाई की मांग की। जिस पर थाना इंचौली पुलिस परिजनों के साथ गांव धनपुरा विजयपाल के घर पहुंची, लेकिन घर से विजयपाल व ठेकदार इंदू शेखर गायब मिले।

22 28

करीब आठ बजे थाना परीक्षितगढ़ पुलिस को धनपुरा के बाग में पेड़ पर लटका शव मिलने की सूचना मिली। जिस पर पुलिस में अफरातफरी मच गई और थानाध्यक्ष चमन प्रकाश शर्मा मयफोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और शव को पेड़ से नीचे उतारकर परिजनों को सूचना देते हुए शव को थाने ले आए। बाद में परिजनों के साथ दर्जनों ग्रामीण पहुंचे और मकान मलिक पर हत्या करने का आरोप लगाया।

वहीं, पुलिस शव का पंचनामा भरने लगी तो परिजनों और ग्रामीणों में आक्रोश पैदा हो गया और थाने में हंगामा करते हुए पुलिस पर बिना बताए शव को थाने ले आने पर हंगामा करते हुए पंचनामा नहीं भरने दिया। पुलिस ने काफी समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह अपनी मांग पर अड़े रहे।

इंदू शेखर की मौत से परिजनों में मचा कोहराम

इंदू शेखर शादीशुदा था। उसकी मौत से पत्नी विमलेश व उसके पांच संतानों से दो पुत्र वंश (20), तनिष्क (16) तथा पुत्री पूनम, प्रकृति और आकांक्षा के अलावा अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल बना हुआ है।

राजमिस्त्री निर्माणाधीन स्कूल की बिंल्डिंग से गिरा, मौत

मवाना: मध्य गंगनहर के पास स्कूल भवन की निर्माणाधीन बिल्डिंग पर बुुधवार को राजमिस्त्री की तीसरी मंजिल से गिरकर मौैत हो गई। मेरठ अस्पताल में उसने दम तोड़ा। परिजन बगैर कार्रवाई के शव गांव ले गए। कनकुरा निवासी बाबूलाल पुत्र बख्तावर उक्त भवन की तीसरी मंजिल पर बुधवार सुबह निर्माण कर रहा था।

वह पैर फिसलने से गिरकर गंभीर घायल हो गया। जिसे मेरठ जसवंतराय अस्पताल ले जाया गया, जहां शाम को उसकी मौत हो गई। परिजन व स्कूल प्रधानाचार्य मोहित त्यागी भी पहुंच गए। परिजन बगैर कार्रवाई के शव गांव ले गए। इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह का कहना है कि सूचना मिली है, लेकिन परिजन कार्रवाई नहीं चाहते हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments