Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutबेंगलुरु पुलिस ने हिरासत में लिया सर्राफ

बेंगलुरु पुलिस ने हिरासत में लिया सर्राफ

- Advertisement -
  • चोरी का करोड़ों का सोना खरीदता था सर्राफ, दोपहर से रात तक चला सेटिंग का खेल
  • 400 ग्राम सोना देकर छुड़ाया आरोपी, भगत सिंह मार्केट से उठाया था सर्राफ

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कर्नाटक राज्य की बेंगलुरु पुलिस ने चोरी का करोड़ों का सोना बरामदगी को लेकर कोतवाली क्षेत्र भगत सिंह मार्के ट में सर्राफ की तलाश में छापा मारा। पुलिस के छापे पर बाजार में अफरातफरी मच गई। बेंगलुरु पुलिस ने दुकान से सर्राफ को हिरासत में ले लिया। पुलिस शातिर चोर को अपने साथ लेकर आई थी। जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने सर्राफ से घंटों पूछताछ की।

कर्नाटक की बेंगलुरु पुलिस शनिवार दोपहर पांच सदस्यीय टीम कोतवाली थाना पहुंची और आमद कराने के बाद पुलिस को साथ लेकर भगत सिंह मार्केट में लाल जी ज्वैलर्स के यहां छापा मारा। गैरराज्य की पुलिस और कोतवाली पुलिस के छापे पर बाजार में हड़कंप मच गया। बेंगलुरु पुलिस ने लाल जी ज्वैलर्स से सर्राफ मंसूर अहमद निवासी सोहराब गेट पूर्वा निहाल सिंह को गिरफ्तार कर लिया। जबकि सर्राफ का एक भाई राजा मौके से फरार हो गया।

बेंगलुरु पुलिस आरोपी सर्राफ मंसूर अहमद को हिरासत में लेकर कोतवाली थाने पहुंची। पुलिस ने आरोपी सर्राफ से चोरी का सोना खरीदने पर विस्तृत रुप से पूछताछ की। बेंगलुरु पुलिस के पांच सदस्यीय टीम के एसआई श्रीधर एस व वहां की क्राइम ब्रांच ने रात नौ बजे तक पूछताछ की। इस दौरान बाजार के दर्जनों व्यापारी कोतवाली थाने पहुंचे और आरोपी सर्राफ को छुड़ाने के लिए सांठगांठ करने में जुटे रहे।

इरशाद चोरी का सोना बेचता था भगत सिंह मार्केट में

बेंगलुरु पुलिस की हिरासत में इरशाद ने पुलिस पूछताछ में करोड़ों का सोना मेरठ के भगत सिंह मार्केट में लाल जी ज्वैलरी शॉप के सर्राफ मंसूर अहमद और राजा को बेचना बताया था। उसने बताया था कि उसने करीब डेढ़ किलो सोना हाल ही में मंसूर अहमद सर्राफ को मेरठ में बेचा था। इससे पहले भी वह इसे चोरी का सोना बेचता रहा है।

17 17

बेंगलुरु पुलिस शातिर चोर इरशाद को साथ लेकर भगत सिंह मार्केट में सोना खरीदने वाले सर्राफ की तलाश में आई थी। पुलिस को मौके से मंसूर अहमद मिल गया, लेकिन उसका भाई राजा फरार हो गया। उधर, बेंगलुरु पुलिस ने जानकारी दी कि इरशाद 2014 से अब तक कर्नाटक में चोरी की वारदात कर लाल जी ज्वैलर्स के यहां चोरी किया हुआ करोड़ों का सोना बेच चुका है।

बेंगलूरु पुलिस से सांठगांठ में जुटे

कोतवाली में जब बेंगलुरु पुलिस आरोपी सर्राफ मंसूर अहमद को हिरासत में लेकर आई तो उसे बचाने के लिए शहर के कई सर्राफ कोतवाली थाने पहुंचे गये। सर्राफ प्रदीप गांव वाले अपने भाई को साथ लेकर आरोपी सर्राफ को बचाने कोतवाली थाने पहुंचे। जहां उन्होंने कर्नाटक पुलिस से लेकर कोतवाली पुलिस से भी सांठगांठ का प्रयास किया। बेंगलुरु पुलिस एक किलो से ज्यादा सोना बरामदगी के लिए सर्राफ के परिजनों से कर रही थी।

उसने कहा कि वह सोना बरामद करा दे। सर्राफ को वह छोड़कर निकल जायेगी, लेकिन 500 ग्राम सोना बरामद करवाने की बात बेंगलुरु पुलिस ने सर्राफ के परिजन और सर्राफ व्यापारियों से कही, लेकिन रात 11 बजे तक बेंगलुरु पुलिस 400 ग्राम सोना बरामदगी कर आरोपी सर्राफ को बिना गिरफ्तारी कर सेटिंग करके बेंगलूरु रवाना हो गई।

इरशाद गैंग पर 200 मुकदमे

बेंगलुरु पुलिस के एसआई श्रीधर एस ने बताया कि इरशाद गाजियाबाद निवासी है। वह कर्नाटक में अब तक अनगिनत चोरी की वारदात को अंजाम दे चुका है। उस पर 200 से ज्यादा चोरी के अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। उसके गैंग में चार अन्य लोग हैं। इरशाद गैंग ने करीब सात महीने पहले बेंगलुरु में एक चोरी की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था। इसके अलावा इरशाद और उसके गैंग को चोरी की वारदात के दौरान रंगेहाथ पकड़ लिया गया था। जिसमें इरशाद ने बेंगलुरु में चोरी की कई बड़ी वारदात को अंजाम देना बताया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments