Wednesday, February 28, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutबीफार्मा के छात्र पर नकाबपोश छात्रों ने किया हमला

बीफार्मा के छात्र पर नकाबपोश छात्रों ने किया हमला

- Advertisement -
  • सीसीएसयू के सर छोटूराम बीटेक कालेज का है मामला

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सीसीएसयू के सर छोटूराम बीटेक कालेज में चार पांच नकाबपोश छात्रों ने मिलकर एक बीफार्मा के छात्र को घेर लिया। छात्र पर हॉकी डंडों से लैस होकर उस पर हमला कर दिया। मारपीट के दौरान छात्र घायल हो गया। वहीं एक बार फिर कैम्पस में मारपीट की घटना पर छात्रों के बीच हड़कंप मच गया। आनन-फानन में मेडिकल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जानकारी।

दिल्ली निवासी रौनक जयसवाल बीटेक कालेज परिसर में बीफार्मा फर्स्ट ईयर का छात्र है। शुक्रवार शाम के वक्त रौनक बीटेक कालेज की कैंटीन के पास अपने दोस्तों के साथ खड़ा था। तभी बाइकों पर सवार पांच छह छात्र चेहरों पर नकाब लपेटे पहुंचे और रौनक पर हमला कर दिया। नकाबपोश छात्रों ने रौनक पर डंडों से हमला कर उसे मारपीट कर अधमरा कर दिया और फरार हो गये। सरेशाम छात्र पर हुए हमले पर सैंकड़ों की संख्या में छात्र हॉस्टलों से बाहर निकल आये और हमलावर छात्रों से बदला लेने पर उतारु हो गये।

इस बीच किसी ने कैम्पस में मारपीट बवाल की जानकारी थाना मेडिकल पुलिस को दे दी। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़ित छात्र व अन्य छात्रों से घटना की जानकारी की। पुलिस ने बाहरी छात्रों को कैम्पस से बाहर खदेड़ दिया। घायल छात्र को उसके साथियों ने उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया। छात्र ने मारपीट की सूचना सीसीएसयू में दी। वहीं कई घंटों तक कैम्पस में छात्र गुटों के बीच तनातनी का माहौल बना रहा।

15 18

लेकिन अंत में छात्र नेताओं के हस्तक्षेप के बाद दोनों छात्र गुटों के बीच विवाद में समझौता हो गया। लेकिन छात्र के साथ मारपीट की घटना में दोनों पक्षों के बीच फैसला न होता तो आगामी दिनों में एक बार फिर कैम्पस में छात्र गुटों के बीच वैमनस्यता बढ़ती और विवाद पनपता रहता। अंत में दोनों गुटों के बीच सुलह हो गई। मारपीट की वजह वर्चस्व को लेकर बताया गया है।

छात्र गुटों के बीच हो चुकी है कई बार फायरिंग की घटनाएं

सीसीएसयू में सितम्बर माह में कैम्पस में एक छात्रा ने एबीवीपी की छात्र संघ अध्यक्ष प्रीति गौड के साथ मारपीट की थी। एबीवीपी की छात्रों के बीच वर्चस्व को लेकर पूर्व में कई बार मारपीट हो चुकी थी। एक मार्च वर्ष 2023 में कैंपस में दो छात्र गुटों के बीच फायरिंग व चाकूबाजी की घटना हुई थी। जिसमें एमएस डब्लू के छात्र हंस कुमार से मारपीट की गई थी। एबीवीपी के पूर्व सचिव हंस चौधरी पर दस बारह युवकों ने लाठी डंडों से हमला कर घायल कर दिया था।

जिसमें कई छात्रों को नामजद कर तहरीर दी गई थी। एक दिसम्बर सीसीएसयू कैम्पस में शेखर चौधरी पर मेरठ कालेज के छात्रों वर्चस्व को लेकर मारपीट की थी। जिसमें कई राउंड फायरिंग की गई थी। उसमें दोनों पक्षों पर मेडिकल थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें कई छात्र जेल गये थे। 17 दिसम्बर को कैम्पस के पंडित दीनदयाल उपाध्याय हॉस्टल में मेस में मुर्गा खाने को लेकर छात्रों के बीच बवाल हो गया था।

जिसमें दो गुटों के बीच जो बजरंग दल से जुड़े थे किसी अन्य गुट से भिड़ गये थे। वर्ष 2023 में छात्रों के बीच वर्चस्व को लेकर कई बार फायरिंग और मारपीट की घटनाएं हुई। जिसमें पुलिस ने दो गुटों के छात्र नेताओं पर गंभीर धारा में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया था।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments