Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपारिवारिक विवाद में चली गोली, तीन घायल

पारिवारिक विवाद में चली गोली, तीन घायल

- Advertisement -
  • युवक ने सगे भाई सहित तीन को मारी गोली, हालत गंभीर
  • तीनों को किया हायर सेंटर रेफर

जनवाणी संवाददाता |

मवाना: क्षेत्र के गांव किशनपुर बिराना में पारिवारिक विवाद के चलते युवक ने स्कूल के समीप खेतों पर कार्य कर रहे सगे भाई सहित तीन को गोली मार दी। जानकारी के बाद परिजनों ने आनन-फानन में थाना पुलिस को सूचना देकर घायलों को सीएचसी भर्ती में कराया। तीनों युवकों को प्राथमिक उपचार के बाद हायर सेंटर रेफर कर दिया।

17 13

थाना क्षेत्र के किशनपुर बिराना निवासी कार्तिक, ऋतिक और अश्वनी शनिवार सुबह खेत पर कार्य कर रहे थे। इस दौरान स्कूटी पर सवार होकर आए तीन युवकों ने तीनों के ऊपर ताबड़तोड़ फायर झोंक दिए। कार्तिक के सीने व हाथ में, ऋतिक और अश्वनी के हाथ में गोली लगने से घायल हो गए।

मौके पर पहुंची पुलिस को जानकारी देते हुए कार्तिक ने बताया कि दो दिन पहले गांव में ही पड़ोसी युवक द्वारा शराब पीकर हंगामा करने पर पीड़ित द्वारा विरोध किया था। जिसके चलते शनिवार को युवकों द्वारा साथियों के साथ मिलकर खेत पर काम करते समय पीड़ित व उसके भाई और उसके साथी को गोली मारकर घायल कर दिया।

पुलिस ने पूरे मामले की जांच पड़ताल करते हुए हमलावरों की गिरफ्तारी को लेकर दबिश देनी शुरू कर दी। मवाना थाना प्रभारी सुभाष सिंह का कहना है कि जल्द ही हमलावरों को गिरफ्तार किया जाएगा। सुरक्षा की दृष्टि को देखते हुए गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है।

देर रात युवक ने दी थी जान से मारने की धमकी

गोली लगने से घायल युवकों के परिजनों ने बताया कि घटना को अंजाम देने वाले युवक रात्रि लगभग 11 बजे गाली-गलौज करते हुए घर पहुंचा था। युवकों ने विरोध किया तो युवक जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गया। शनिवार सुबह तीनों युवक खेत पर कार्य कर रहे थे तभी आरोपी युवक ने घटना को अंजाम दे दिया।

बच्चों के खेल में खूनी संघर्ष, तीन घायल

किठौर: कस्बे में बच्चों के खेल से शुरू हुई रार ने देखते-देखते खूनी संघर्ष का रूप ले लिया। जिसमें तीन लोग घायल हो गए। मोहल्ला मौसमखानी निवासी जानेआलम पुत्र उम्मेद ने बताया कि शनिवार शाम उनके बच्चे पड़ोसी अब्दुल सत्तार के बच्चों के साथ खेल रहे थे। इसी बीच उनमें कहासुनी हो गई। जानेआलम पक्ष के बच्चों ने सत्तार पक्ष के बच्चों के साथ मारपीट कर दी।

18 12

जिससे बौखलाए सत्तार पक्ष के आसमौ., दानिश, मुहम्मद अहमद नईम और मुहम्मद अहमद ने जानेआलम पक्ष के साथ जमकर मारपीट की। मारपीट में मामले जानेआलम पक्ष के नवाब, साबिर और शाहेआलम गंभीर घायल हो गए। संघर्ष की सूचना पर पहुंची पुलिस को देख उत्पाती मौके से फरार हो गए। पुलिस ने घटना की जानकारी जुटाकर घायलों को अस्पताल भेज दिया। इंस्पेक्टर सुनील सिंह का कहना है कि जाने आलम की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस आरोपियों की तलाश में है।

विवादित पट्टे पर कटा पुराना पीपल

फलावदा: नगर पंचायत और पट्टे धारक दलितों के बीच चल रहे जमीनी विवाद का जिन फिर बाहर आ गया। नगर पंचायत ने पट्टे में खड़ा पेड़ बेचकर कटवा दिया। इस घटना के बाद आक्रोशित दलितों ने डीएफओ व थाना पुलिस से शिकायत की है। नगर पंचायत ने गत दिनों दलितों को आवंटित पट्टे की भूमि पर सरकारी संपत्ति होने का बोर्ड लगवाया गया था। इस दौरान काफी बवाल हुआ था।

दोनों पक्षों के बीच छिड़ी आरोप प्रत्यारोप की जंग कुछ दिनों से शांत चल रही थी, लेकिन शनिवार को अचानक पट्टे के भूमि विवाद का जिन फिर बोतल से बाहर आ गया। कस्बा निवासी पट्टेधारक रामभजन ने थाने में तहरीर देते हुए कहा है कि कोर्ट स्टे आॅर्डर के बावजूद नगर पंचायत ने पेड़ को बिना वन विभाग की अनुमति कटवा दिया। उसका कहना है कि शनिवार को जब पेड़ काट रहे सतवीर पुत्र रामकिशन उन्होंने विरोध किया उसने उसे मारने की धमकी दी गई।

रामभजन ने तहरीर के साथ न्यायालय के पेपर लगाकर 25 वर्ष पुराने उक्त पट्टे पर कोर्ट स्टे की बात कही है। इस मामले में डीएफओ से भी शिकायत की गई है। डीएफओ ने जांच के लिए हस्तिनापुर से एक टीम फलावदा भेज दी। इस बारे में नगर पंचायत के चेयरमैन अशोक सैनी ने बताया कि उक्त पेड़ पांच हजार रुपये में बेच दिया गया था।

यह पेड़ पुराना होने के कारण गिर गया था। वहीं, दूसरी ओर ईओ सचिन पंवार ने कहा है कि पेड़ सरकारी जमीन था। पिछले दिनों उक्त पेड़ गिरने की दशा में पेड़ की लकड़ी को नगर पंचायत की जमीन पर रखवाने के लिए कहा गया था। रसीद काटकर पेड़ बेचने की जानकारी उन्हें नहीं है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments