Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसीसीएसयू को मिला ए प्लस प्लस ग्रेड

सीसीएसयू को मिला ए प्लस प्लस ग्रेड

- Advertisement -
  • देश के चुनिंदा विवि में शामिल, रैकिंग में लखनऊ विवि को पछाड़ यूपी में दूसरे स्थान पर पहुंचा सीसीएसयू
  • अभी तक बी ग्रेड में शामिल था विवि, 20 साल बाद लगाई लंबी छलांग

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: चौधरी चरण सिंह विवि की मेहनत रंग लाई और विवि को नैक मूल्यांकन में ए प्लस प्लस ग्रेड मिल गया। अभी तक विवि बी ग्रेड में शामिल था। शुक्रवार का दिन विवि के लिए बेहद खास रहा ए प्लस प्लस ग्रेड मिलने की सूचना मिलते ही विवि में जश्न जैसा माहौल हो गया और एक दूसरे को बधाई देने का सिलसिला अधिकारियों व कर्मचारियों के बीच शुरु हो गया।

बता दें कि नैक में ए प्लस प्लस ग्रेड मिलने के बाद अब सीसीएसयू देश के चुनिंदा विश्वविद्यालयों में शामिल हो गया है। अभी तक सीसीएसयू बी ग्रेड में ही शामिल था। प्रदेश में अभी तक केवल दो ही ए प्लस प्लस वाले विवि थे, लेकिन अब तीन हो गए है। इतना ही नहीं सीसीएसयू ने ग्रेड में लखनऊ विवि को पछाड़ कर अब प्रदेश में दूसरा स्थान प्राप्त कर लिया है

01 9

जबकि पहले लखनऊ विवि दूसरे स्थान पर था। पहले स्थान की बात करे तो वह स्थान गोरखपुर विवि के पास है। नैक पीयर टीम ने सीसीएसयू को 3.66 सीजीपीए दिए हैं। जिसके बाद सीसीएसयू लखनऊ से आगे और गोरखपुर से पीछे रहा है। लखनऊ विवि को ए प्लस प्लस गे्रड में 3.55 सीजीपीए मिले हैं और गोरखपुर को 3.78 सीजीपीए अंक मिले हैं।

ये हैं फायदें

कई कंपनियां अपने कैंपस प्लेसमेंट के लिए सिर्फ देश के टॉप इंस्टीट्यूट या यूनिवर्सिटीज के साथ ही जुड़ते हैं। नैक में ए प्लस प्लस मिलने का सबसे बड़ा फायदा छात्र-छात्राआें को यह होगा कि कैंपस प्लेसमेंट के लिए आने वाली कंपनियों की संख्या बढ़ जाएगी।

थोड़ा लेट हुई साझा रिपोर्ट

सीसीएसयू परिसर में हुई नैक निरीक्षण की रिपोर्ट शुक्रवार को जारी हो चुकी है। नैक अध्यक्ष के इस्तीफा दिए जाने के कारण पिछले मंगलवार को रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं हो पाई थी। सीसीएसयू में छह सदस्यीय नैक पीयर टीम ने दो मार्च से चार मार्च तक निरीक्षण किया था। वहीं सात मार्च को नैक टीम की बैठक के बाद रिपोर्ट जारी होनी थी, लेकिन नैक के अध्यक्ष द्वारा अपने पद से इस्तीफा दिए जाने के कारण बैठक नहीं हो पाई थी। इसलिए ग्रेडिंग का फैसला लेट हो पाया।

20 साल में लगाई बड़ी छलांग

नैक मूल्यांकन में सीसीएसयू ने 20 साल बाद लंबी छलांग लगाई है। 2003 में प्रो. रमेश चंद्रा के कार्यकाल में विवि को बी, जबकि 2016 में प्रो. एनके तनेजा के समय में बी प्लस ग्रेड मिला था। विवि का यह तीसरा नैक निरीक्षण हुआ हैं। इसबार प्रो. संगीता शुक्ला के कार्यकाल में ए प्लस प्लस मिलना बड़ी उपलब्धि है।

अच्छे संस्थानों से जुड़ सकेंगे

यदि संस्थान के पास नैक के टॉप ग्रेड हैंं तो विदेशों में एक अच्छे विवि के साथ गठजोड़ की संभावना बढ़ जाती है। आने वाले एक्सचेंज, विदेशी छात्र-छात्राओं के लिए भी इनमें दाखिला लेना आसान होता है, इसलिए विदेशी स्टूडेंट्स भी पढ़ने आ सकेंगे। वहीं दूसरे संस्थानों के मुकाबल नैक के ए प्लस प्लस ग्रेड वाले संस्थान से पढ़कर निकलने वालों को वरीयता देना स्वाभाविक है।

मंदिर पहुंच ईश्वर के किए दर्शन

नैक पीयर परिणाम जारी होने के बाद विवि में हर्षोल्लास का वातावरण देखा गया। ढोल पर जहां विवि शिक्षक, कर्मचारी व छात्राओं ने जमकर डांस किया वहीं विवि कुलपति विवि परिसर स्थित मंदिर दर्शन करने के लिए पहुंची और वहां ईश्वर के दर्शन कर आर्शीवाद लिया। खुशी का माहौल देखते ही बन रहा था एक दूसरे को मिठाई खिला बधाई भी दी गई।

कुलपति ने जताई खुशी

वीसी प्रो. संगीता शुक्ला ने इस संबंध में प्रेसवार्ता का आयोजन किया। उन्होनें न केवल अपने अनुभवों को साझा किया बल्कि विवि के सभी शिक्षकों, कर्मचारियों से लेकर छात्र-छात्राओं को शुभकामनाएं दी। उन्होनें कहा कि इस ग्रेड ने विवि के लिए कई रास्ते खोल दिए हैं।

02 9

देश दुनिया की फंडिंग एजेंसी से मदद लेने से लेकर कई अन्य योजनाओं का लाभ मिल सकेगा। कुलपति ने कहा कि इस ग्रेड में राज्यपाल आनंनदी बेन पटेल का भी अतुलनीय योगदान रहा है। इस अवसर पर कार्यपरिषद सदस्य प्रो. वाई विमला, प्रो. भूपेंद्र सिंह, प्रो. अनुज, प्रो. शिवराज पुंडिर, प्रो. मुकेश शर्मा, प्रो. प्रशांत कुमार, प्रो. मनोज श्रीवास्तव, रजस्ट्रिार धीरेंद्र वर्मा आदि मौजूद रहे।

इनसे हुआ विवि मजबूत

  • केंद्रीय लाइब्रेरी
  • पत्रकारिता विभाग, स्टूडियो, रेडियो केंद्र
  • योग विज्ञान विभाग, पचकर्म एवं वेलनेस केंद्र
  • खेल यूनिवर्सिटी, स्पोर्ट्स स्टेडियम
  • रिसर्च, इनोवेशन, इन्क्यूबेशन सेंटर
  • सर छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज
  • ग्रीन एवं सोलर कैंपस, सौंदर्यीकरण

ये है नैक ग्रेड: सीजीपीए

अंक ग्रेड

3.51-4.00 ए प्लस प्लस

3.26-3.50 ए प्लस

3.01-3.25 ए

2.76-3.00 बी प्लस प्लस

2.51- 2.75 बी प्लस

2.01-2.50 बी

1.51. 2.00 सी

1.50 से कम मूल्यांकित नहीं

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments