Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutवेस्ट यूपी में बूंदाबांदी की संभावना

वेस्ट यूपी में बूंदाबांदी की संभावना

- Advertisement -
  • मौसम में खिली धूप ने दी लोगों को राहत

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: मौसम में खिली धूप निकलने से लोगों को सर्दी से राहत मिल गई है। लगातार ठंड के पड़ने से लोग बीमार हो रहे थे, लेकिन पिछले पांच दिन से मौसम में लोगों को राहत प्रदान हुई। मौसम विशेषज्ञों ने 22 से 26 जनवरी तक वेस्ट यूपी में बूंदाबांदी की संभावना जताई थी। हालांकि अभी बूंदाबांदी का असर देखने को नहीं मिला है। जनवरी के अंतिम सप्ताह में सर्दी का असर कम हुआ है। जिसके चलते लोगों को राहत मिली।

राजकीय मौसम वैधशाला पर सोमवार को दिन का अधिकतम तापमान 24.1 डिग्री एवं 8.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 95 एवं न्यूनतम आर्द्रता 50 प्रतिशत दर्ज की गई। सुबह दोपहर हवा शांत रही, लेकिन शाम को चार किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली। मौसम विशेषज्ञ डा. यूपी शाही का कहना है कि वेस्ट यूपी में बूंदाबांदी होगी। इसके बाद मौसम में ठंड भी बढ़ेगी। इसलिए मौसम में सावधानी बरतने की अभी आवश्यकता है।

गंगानगर अधिक प्रदूषित

प्रदूषण का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में प्रदूषण की रोकथाम होना बेहद आवश्यक है। बढ़ता प्रदूषण लोगों को बेहद परेशान कर रहा है। क्योंकि अस्थमा के मरीजों के लिए यह मौसम बेहद खराब है। इसलिए इस प्रदूषण से बचाव होने की बेहद जरूरत है। तेज हवाएं चलने के बाद ही प्रदूषण की स्थिति में सुधार हो सकता है। गंगानगर में 327 प्रदूषण का स्तर रहा। जोकि अब तक का सबसे अधिक प्रदूषण रहा। गंगानगर सबसे अधिक प्रदूषित इलाका रहा है। जबकि मेरठ में 306, मुजफ्फरनगर में 265, गाजियाबाद में 261, जयभीमनगर में 292, गंगानगर में 327, पल्लवपुरम में 298 आदि दर्ज किया गया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments