Tuesday, June 18, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutप्रियंका के स्वागत में कांग्रेसियों में धक्का-मुक्की, कई घायल

प्रियंका के स्वागत में कांग्रेसियों में धक्का-मुक्की, कई घायल

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कांग्रेस महासचिव और प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी के स्वागत के चक्कर में हुई धक्का-मुक्की में कई कांग्रेसी बुरी तरह से घायल हो गए। नवनीत नागर के पांव से प्रियंका के काफिले में चल रही एक गाड़ी के नीचे आकर कुचला गया। मवाना से आए एक अन्य कांग्रेसी राजेन्द्र भी बुरी तरह से घायल हो हुए हैं।

दर्जन भर अन्य कांग्रेसियों को भी चोटें आयी हैं। हालांकि घायल होने के बाद भी कांग्रेसियों का उत्साह कम नहीं हुआ। प्रियंका के काफिले के पीछे-पीछे मुजफ्फरनगर के बघरा के लिए रवाना हो गए। जिला कांग्रेस की ओर से भूड़बराल पर स्वागत की तैयारियां की गई थीं।

फूल मालाओं के अलावा गाजे बाजे का इंतजाम था। निर्धारित समय से करीब दो घंटे की देरी यानि दोपहर एक बजे प्रियंका का काफिला पहुंचा तो स्वागत करने को उताबले कांग्रेसियों में झीना झपटी व धक्का-मुक्की होने लगी। अवनीश काजला ने किसी प्रकार संभालने का प्रयास किया।

इस बीच प्रियंका के सिक्योरिटी ऐक्शन मोड में आ गयी। हालात का अंदाजा इसी बात से लगाया सकता है कि मुश्किल से डेढ़ मिनट ही प्रियंका की गाड़ी रुकी। हालात इतनी खराब थी कि वह बाहर भी नहीं निकल सकीं। गाड़ी में बैठे बैठे शीशा डाउन कर अभिवादन स्वीकार किया और आगे निकल गईं।

इस मौके पर अवनीश काजला, नवनीत नागर, हरिकिशन आंबेडकर, हर्ष ठाका, किशन कुमार किशनी, आशाराम त्यागी, राम सिंह अरुण शर्मा, जहांगीर मंसूरी, अय्यूब कालिया चेयरमैन, मुरसलीम, मतीन रजी, महेंन्द्र शर्मा, यामीन गौड़, यासीन गौड़, शहनवाज, पवन जाटव, मनोज चौहान, दिनेश उपाध्याय, नवीन गुर्जर, विजय चिकारा, पिंकी तालियान, राकेश सिंह, तरुण शर्मा, सपना सोम, मुन्नी सैफी, रोहित राणा, सूर्यांश तोमर, रोनाक, नितिश भारद्वाज, अल्तमश त्यागी, ऋषभ पराशर, शेर मोहम्मद, रमेश, अरविंद तालियान, जाबिर चौहान, रहमान चौहान, रुस्तम सैफी, तेजपाल डाबका, यूसुफ अंसारी आदि मौजूद रहे।

मार्च के पहले सप्ताह में आ सकती हैं प्रियंका

मार्च माह के पहले सप्ताह में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मेरठ आ सकती हैं। यह जानकारी जिलाध्यक्ष अवनीश काजला ने दी। बघरा में आयोजित किसान महापंचायत में जाते वक्त प्रियंका गांधी कुछ देर के लिए सकौती में रूकी थीं। उसी दौरान उन्होंने अवनीश काजला से मेरठ की किसान रैली की तैयारियों की बावत चर्चा की। जिलाध्यक्ष ने बताया कि रैली के लिए संगठन पूरी तरह से तैयार है। आला कमान अपनी सुविधानुसार कोई भी तारीख निर्धारित कर लें। माना जा रहा है कि मार्च के पहले सप्ताह में किसान महापंचायत के लिए संगठन को प्रियंका का कार्यक्रम मिल सकता है।

भाजपा सांसद को देख मालाएं की वापस

भूड़बराल पर प्रियंका के स्वागत का इंतजार कर रहे कांग्रेसी गाड़ियों का काफिला तेजी से आते देखकर उसकी ओर लपके, लेकिन जैसे ही गाड़ी की अगली सीट पर बैठे शख्स ने शीशा डाउन किया तो स्वागत को आगे बढ़ाई फूल मालाएं वापस कर ली गईं। यह सब गलतफहमी के चलते हुआ।

दरअसल, जब कांग्रेसी इंतजार कर रहे थे। उसी दौरान तेजी से गाड़ियों का काफिला उस ओर आता नजर आया। कांग्रेसियों ने सोचा कि प्रियंका गांधी आ गई हैं, लेकिन ऐसा नहीं था। गाड़ियों का यह काफिला बागपत से भाजपा सांसद सतपाल सिंह का था। सांसद भी नहीं समझ पाए कि कांग्रेसी प्रियंका का इंतजार कर रहे हैं। स्वागत की बात सोचकर उनके काफिले की गाड़ियां भी धीमी हो गईं, लेकिन जब स्वागत करने वाले लौटकर जाने लगे और समझ आ गया कि स्वागत करने वाले भाजपाई नहीं बल्कि कांग्रेसी हैं।

शहर संगठन सीधे बधरा पहुंचा

शहर कांग्रेस अध्यक्ष जाहिद अंसारी और प्रवक्ता पीसीसी अखिल कौशिक के नेतृत्व में प्रदेश आला कमान के निर्देश पर शहर संगठन सीधे रैली स्थल बघरा पहुंचा। जाहिद के साथ दर्जनों गाड़ियों का काफिला भी बघरा गया था। शहर अध्यक्ष को मंच पर स्थान मिला।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments