Saturday, May 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutदिसंबर माह में लगातार बढ़ रही ठंड

दिसंबर माह में लगातार बढ़ रही ठंड

- Advertisement -
  • प्रदूषण पर लगा थोड़ा ब्रेक, लेकिन प्रदूषण के प्रति जागरूकता की है जरूरत

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: दिसंबर के महीने में ठंड का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। रात लगातार सर्द हो रही है। जिसके चलते रात में ठिठुरन भी बढ़ रही है। हालांकि मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि आने वाले दिनों में ठंड का प्रकोप ओर बढ़ेगा और कोहरे के साथ रात और भी सर्दी होगी। प्रदूषण का प्रकोप भी थोड़ा कम हुआ है, लेकिन उम्मीद के मुताबिक यह प्रकोप उतना कम नहीं हुआ है। इसलिए अभी बेहद सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

इसलिए सावधानी के साथ-साथ प्रदूषण के प्रति जागरूकता भी दिखानी होगी। राजकीय मौसम वैधशाला पर शुक्रवार को दिन का अधिकतम तापमान 24.0 डिग्री एवं न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 92 एवं न्यूनतम आर्द्रता 40 प्रतिशत दर्ज की गई है। सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि एवं प्रौद्योगिक विवि के वैज्ञानिक डा. यूपी शाही के अनुसार दिसंबर के महीने मे अमूमन सर्दी का प्रकोप बढ़ता है।

Untitled 1 copy

कोहरे के साथ ठिठुरन भरी सर्दी पड़ती है, लेकिन इस बार सर्दी का प्रकोप इस महीने में अन्य वर्षों के मुकाबले कम है। हालांकि कई दिन से रात सर्द हो रही है और हल्की ठिठुरन भी बढ़ी है, लेकिन आने वाले दिनों में सर्दी का प्रकोप और बढ़ने की पूरी-पूरी संभावना है। इसलिए आने वाले दिनों में मौसम में बेहद सतर्कता बरतनी होगी और पूरी सावधानी के साथ-साथ इस मौसम से बचाव भी करना होगा।

प्रदूषण का प्रकोप हुआ कम

मेरठ में प्रदूषण का स्तर शुक्रवार को 263, बागपत में 267, मुजफ्फरनगर में 290, गाजियाबाद में 295 दर्ज किया गया। जबकि गंगानगर में 276, पल्लवपुरम में 271 और जयभीमनगर में 242 दर्ज किया गया। अभी आने वाले दिनों में प्रदूषण और बढ़ेगा। इसलिए प्रदूषण पर काबू पाना बेहद जरूरी और आवश्यक है।

5जी टावर के विरोध में पुलिस आफिस घेरा

मेरठ: 5जी टावर लगाए जाने के विरोध में लिसाड़ीगेट के न्यू समर गार्डर मिनारा मजिस्द के निवासियों ने शुक्रवार को कलक्ट्रेट व पुलिस कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर 5जी टावरों को जीवन व पर्यावरण के लिए गंभीर खतरा मानते हुए इस पर रोक लगाए जाने की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन को ज्ञापन भी सौंपा। क्षेत्र के लोग खुर्शीदा के नेतृत्व में नारेबाजी करते हुए कलक्ट्रेट व पुलिस कार्यालय पहुंचे।

उन्होंने बताया कि उनके इलाके में कोई कंपनी फाइल जी स्पीड के मोबाइल टावर लगा रही है। उन्होंने जानकारी दी कि विशेषज्ञ पहले ही कह चुके हैं कि तमाम 5जी टावर परिंदों के लिए घातक हैं। उनसे पर्यावरण को भी खतरा है। गौरेया जैसा पक्षी जो पहले ही इन टावरों के कारण लुप्त प्राय हो चुका है वो 5जी टावर लगाए जाने के बाद पूरी तरह खत्म हो जाएगा। इसके अलावा इन टावरों से निकलने वाली किरणें भी मानव स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकाकरण हैं।

08 16

इनको लेकर केवल भारत नहीं नहीं बल्कि दुनिया के दूसरे देशों के भी पर्यावरण प्रेमी आगाह कर चुके हैं। प्रदर्शनकारियों ने दो टूक कहा कि वह किसी भी कीमत पर अपने इलाके में 5जी टावर नहीं लगाने देंगे। यदि कंपनी ने कार्य बंद नहीं किया तो उनका विरोध किया जाएगा। सामान जब्त कर लिया जाएगा। जिसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी। प्रदर्शन के बाद डीएम व एसएसपी को अलग-अलग ज्ञापन भी दिए गए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments