Wednesday, January 19, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSक्रिकेट कप्तान बंदुला वर्नापुरा का हुआ निधन

क्रिकेट कप्तान बंदुला वर्नापुरा का हुआ निधन

- Advertisement -

न्यूज ऐजेंसी वार्ता |

कोलंबो: श्रीलंका के पहले टेस्ट क्रिकेट कप्तान बंदुला वर्नापुरा का यहां सोमवार को एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। वह 68 वर्ष के थे।

दिवंगत वर्नापुरा ने 1982 में कोलंबो में इंग्लैंड के खिलाफ अपने पहले टेस्ट में श्रीलंका की कप्तानी की थी। उन्होंने श्रीलंका की तरफ से पहली गेंद का सामना किया और टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला रन बनाया।

इस मैच में उन्होंने एक ही टेस्ट मैच में ओपनिंग और बॉलिंग (दूसरी पारी) करने का असाधारण रिकॉर्ड भी बनाया। वर्णपुरा ने इसके बाद टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका का दौरा करने का फैसला किया।

उन्होंने श्रीलंका के लिए चार टेस्ट और 12 एकदिवसीय मैच खेले हैं। पूर्व सलामी बल्लेबाज बंदुला ने ओल्ड ट्रैफर्ड में वेस्ट इंडीज के खिलाफ 1975 विश्व कप मैच में अपना वनडे पदार्पण किया था।

अपने अगले मैच में उन्होंने डेनिस लिली और जेफ थॉमसन की खतरनाक तेज गेंदबाज जोड़ी के खिलाफ 39 गेंदों में 31 रनों की पारी खेली थी। 1979 में अगले विश्व कप में उन्होंने भारत के खिलाफ एक प्रसिद्ध जीत के लिए श्रीलंका की कप्तानी की।

उन्होंने 1981-82 सीजन में पाकिस्तान के खिलाफ अपना सर्वोच्च एकदिवसीय स्कोर (77 रन) बनाया।

68 वर्षीय वर्णपुरा ने 1970 में भारतीय विश्वविद्यालयों के खिलाफ प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया। उनके प्रथम श्रेणी करियर का महत्वपूर्ण मोड़ 1973-74 सीजन के दौरान आया, जब उन्होंने पाकिस्तान अंडर-25 टीम के खिलाफ 154 रन बनाए।

उस सीजन के दौरान उन्होंने चार दिवसीय मैच में पाकिस्तान इलेवन के खिलाफ 92 रन का शानदार स्कोर भी बनाया। पाकिस्तान इलेवन में आसिफ मसूद, सलीम अल्ताफ और इंतिखाब आलम जैसे टेस्ट के घातक गेंदबाज मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद उन्होंने श्रीलंकाई टीम के कोच के रूप में कार्य किया और फिर कोचिंग के निदेशक बन गए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments