Tuesday, June 15, 2021
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSकोरोना की पाबंदी: यूपी में आज रात से कर्फ्यू, उल्लंघन पर होगी...

कोरोना की पाबंदी: यूपी में आज रात से कर्फ्यू, उल्लंघन पर होगी कड़ी कार्रवाई

- Advertisement -
0
  • अब हर रविवार को साप्ताहिक बंदी, अभियान चलाकर होगा सैनिटाइजेशन
  • मास्क नहीं लगाया तो 1000 जुर्माना, दूसरी बार 10 गुना ज्यादा

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए योगी सरकार ने पूरे प्रदेश में 35 घंटे का कोरोना कर्फ्यू लगाया है। गाजियाबाद और नोएडा समेत यह कर्फ्यू आज रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक रहेगा। इस दौरान सभी जिलों में अग्निशमन विभाग स्वच्छता व सफाई का विशेष अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन व फॉगिंग किया जाएगा। इस दौरान केवल आवश्यक वस्तुओं के लिए छूट होगी।

यही नहीं, पूरे प्रदेश में अब हर रविवार को साप्ताहिक बंदी रहेगी। जिन जिलों में रात का कर्फ्यू लगाया गया है, वह जारी रहेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 के साथ शुक्रवार को वर्चुअल बैठक में यह फैसला लिया गया। मास्क न पहनने वालों पर भी कड़ी कार्रवाई होगी।

बिना मास्क के बाहर निकलने पर पहली बार में एक हजार रुपये जुर्माना लिया जाएगा। इसके बाद भी नहीं माने तो दूसरी बार 10 गुना ज्यादा जुर्माना लगेगा। शत प्रतिशत लोगों को मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना सुनिश्चित करना होगा।

मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। स्थानीय स्तर पर थानेदारों की जिम्मेदारी होगी कि वे इसका पालन कराएं। ऐसा न होने पर संबंधित थानेदार के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। सभी पुलिस अधिकारी और प्रशासनिक अफसर खुद चेकिंग अभियान चलाएंगे।

सभी शिक्षा बोर्डों से मान्यता प्राप्त स्कूलों में परीक्षा स्थगित                   

प्रदेश में सभी शिक्षा बोर्ड से मान्यता प्राप्त विद्यालयों की आंतरिक और गृह परीक्षाओं को 20 मई तक स्थगित कर दिया गया है। माध्यमिक शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव अनिल कुमार ने शुक्रवार को इसका शासनादेश जारी किया।

लखनऊ में बनेगा एक हजार बेड का नया कोविड अस्पताल                   

कोरोना संक्रमितों के लिए लखनऊ में एक हजार बेड का नया कोविड अस्पताल बनेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 की बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह अस्पताल डिफेंस एक्सपो आयोजन स्थल पर डीआरडीओ के सहयोग से अतिशीघ्र बनेगा। इसी तरह केजीएमयू और बलरामपुर हॉस्पिटल को 24 घंटे में डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में परिवर्तित कर सिर्फ कोविड मरीजों का इलाज किया जाएगा।

अगले आदेश तक सभी सरकारी अस्पतालों में ओपीडी सेवाएं भी स्थगित रहेंगी। हालांकि आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा। ओपीडी मरीजों को टेली कंसल्टेंसी के जरिए इलाज उपलब्ध कराया जाएगा।

5000 अतिरिक्त बेड होंगे राजधानी में                                              

दो नए डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के संचालन से लखनऊ में लगभग 4000 बेड का विस्तार होगा। डिफेंस एक्सपो वाली जगह पर अस्पताल बन जाने के बाद कुल 5000 अतिरिक्त बेड उपलब्ध हो जाएंगे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments